बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, April 13, 2010

उमड़ता हुआ आत्मा

कुछ दशक पहले मैं पश्चिमी अफ्रीका के एक मसीही सेवा केंद्र को देखने गया। वहां मैंने देखा कि एक छोटी लड़की एक लाउडस्पीकर लगी लॉरी में चढ़कर एक गीत गाने लगी, जिसका सार इस प्रकार था: "मेरी आत्मा में खुशी के बुलबुले उमड़ रहे हैं, मैं गा रही हूं, मैं प्रसन्न हूं क्योंकि यीशु ने मुझे स्वस्थ किया है, मेरे हृदय को पाप से स्वच्छ किया है और अब मेरे अन्दर रहता है।" मैंने उसे केवल एक बार गाते सुना लेकिन उसके गाने में इतना आनन्द और सामर्थ भरा था कि मुझे आज तक उस गाने के बोल और राग याद है।

इस गाने में की गई जल और आत्मिक आनन्द की समान्ता बाइबल से उद्वत है। यहूदीयों के एक पर्व - मण्डपों का पर्व मनाते समय, एक याजक पानी उण्डेलता था; यह उस समय की याद के प्रतीक में था जब परमेश्वर ने इस्त्राएलियों को बियाबान में चट्टान में से जल उपलब्ध कराया था। अपने समय में "फिर पर्व के अंतिम दिन, जो मुख्य दिन है, यीशु खड़ा हुआ और पुकार कर कहा, यदि कोई प्यासा हो तो मेरे पास आकर पीए। जो मुझ पर विश्वास करेगा, जैसा पवित्र शास्‍त्र में आया है उसके ह्रृदय में से जीवन के जल की नदियां बह निकलेंगी" (युहन्ना ७:३७, ३८)। यीशु ने यह बात पवित्र आत्मा दिये जाने के उस वायदे के विष्य में की जो उसपर विश्वास करने वालों के लिये था (पद३९)। प्यास बुझाने वाले पानी का यह चित्रण उस आत्मिक प्यास की सन्तुष्टी के लिये है जो केवल यीशु ही दे सकता है।

संभवतः आप अपने उस आनन्द को खो चुके हैं जिसे आपने उद्धार पाने के समय अनुभव किया था। जो भी पाप आपको याद आते हैं उन्हें अभी मान कर पश्चाताप कर लें (१ युहन्ना १:९) और परमेश्वर के पवित्र आत्मा से भर जाएं (इफिसियों ५:१८)। वह आपकी आत्मा में भी खुशी के बुलबुले उमड़ने का अदभुत अनुभव देगा। - डैनिस फिशर


मसीह का संसार से जाना पवित्र आत्मा का संसार में आने के लिये था।


बाइबल पाठ: युहन्ना ७:३३-३९


यदि कोई प्यासा हो तो मेरे पास आकर पीए...उसके ह्रृदय में से जीवन के जल की नदियां बह निकलेंगी।" युहन्ना ७:३७, ३८


एक साल में बाइबल:
  • १ शमुएल २२-२४
  • लूका १२:१-३१