बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, November 17, 2010

दो दमड़ियां

प्रभु यीशु यरुशलेम के मन्दिर में भण्डार के पास बैठा आते जाते लोगों को मन्दिर के लिये भण्डार में अपना दान डालते हुए देख रहा था (मरकुस १२)। कुछ अपने इस कार्य को प्रदर्शन के साथ कर रहे थे जिससे लोग देख सकें कि उन्होंने कितना दान किया है। इतने में एक बहुत गरीब विधवा स्त्री वहां आई और उसने दो दमड़ियां भण्डार में डाल दीं।

दमड़ी उस समय के प्रचलित सिक्कों में सबसे कम कीमत का सिक्का थी। अर्थात उस विधवा की वह भेंट बहुत ही छोटी थी और लोगों की नज़रों में उसकी कोई कीमत नहीं थी। लेकिन वहां बैठे हमारे प्रभु ने वो देखा जो किसी और ने नहीं देखा - उस निर्धन विधवा ने अपना सब कुछ दे दिया था (मरकुस १२:४)। वह निर्धन विधवा अपनी ओर किसी का ध्यान आकर्षित करने की चेष्टा नहीं कर रही थी, वह केवल वही कर रही थी जितना वह कर सकती थी, और प्रभु से यह बात छिपी नहीं।

प्रभु यीशु ने कहा "सावधान रहो! तुम मनुष्यों को दिखाने के लिये अपने धर्म के काम न करो, नहीं तो अपने स्‍वर्गीय पिता से कुछ भी फल न पाओगे। इसलिये जब तू दान करे, तो अपने आगे तुरही न बजवा, जैसा कपटी, सभाओं और गलियों में करते हैं, ताकि लोग उन की बड़ाई करें, मैं तुम से सच कहता हूं, कि वे अपना फल पा चुके। परन्‍तु जब तू दान करे, तो जो तेरा दाहिना हाथ करता है, उसे तेरा बांया हाथ न जानने पाए। ताकि तेरा दान गुप्‍त रहे, और तब तेरा पिता जो गुप्‍त में देखता है, तुझे प्रतिफल देगा।" (मत्ती ६:१-४)

हमें कभी नहीं भूलना चाहिये कि हमारा प्रभु हमारी हर बात पर नज़र रखता है, उससे कुछ भी छुपा नहीं रहता, वह हर बात का हिसाब रखता है चाहे हमारी नज़रों में वह कितनी भी महत्त्वहीन क्यों न हो। चाहे यह किसी कठिन परिस्थिति में मुसकुराते रहना हो, या किसी अनजान व्यक्ति के लिये दिखाया गया प्रेम का व्यवहार या उसकी कोई सहायता हो, या अपने किसी पड़ौसी के लिये की गई एक छोटी सी प्रार्थना ही क्यों न हो - वह सब देखता है, और एक दिन सबको सब बातों का प्रतिफल भी देगा। - डेविड रोपर


परमेश्वर देने वाले को देखता है दान को नहीं; देने वाले मन को देखता है, हाथ को नहीं।

...इस ने अपनी घटी में से जो कुछ उसका था, अर्थात अपनी सारी जीविका डाल दी है। - मरकुस १२:४४

बाइबल पाठ: मरकुस १२:४१-४४

और वह मन्‍दिर के भण्‍डार के साम्हने बैठकर देख रहा था, कि लोग मन्‍दिर के भण्‍डार में किस प्रकार पैसे डालते हैं, और बहुत धनवानों ने बहुत कुछ डाला।
इतने में एक कंगाल विधवा ने आकर दो दमडिय़ां, जो एक अधेले के बराबर होती है, डालीं।
तब उस ने अपके चेलों को पास बुला कर उन से कहा, मैं तुम से सच कहता हूं, कि मन्‍दिर के भण्‍डार में डालने वालों में से इस कंगाल विधवा ने सब से बढ़कर डाला है।
क्‍योंकि सब ने अपने धन की बढ़ती में से डाला है, परन्‍तु इस ने अपनी घटी में से जो कुछ उसका था, अर्थात अपनी सारी जीविका डाल दी है।

एक साल में बाइबल:
  • यहेजेकेल ५-७
  • इब्रानियों १२