बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, December 20, 2010

आनन्द से जयजयकार करो

ड्यूक विश्वविद्यालय के बास्केटबॉल प्रेमियों को ’कैमरून क्रेज़ीस’ के उपनाम से भी जाना जाता है। जब भी ड्यूक अपने प्रतिद्वन्दी नौर्थ कैरोलाइना से खेलता है तो क्रेज़ीस को बताया जाता है: "यही वह खेल का अवसर है जिसकी प्रतीक्षा की जा रही थी। अब कोई बहाना नहीं, बस अपना पूरा ज़ोर लगा दो। आज की रात कैमरून क्रीड़ास्थल जय के नारों से गूंजना चाहिये, नारों की आवाज़ में कोई कमी न हो।" स्पष्ट है कि ड्यूक के खेल प्रेमी ड्यूक से अपनी वफादारी को बहुत गंभीरता से लेते हैं।

भजन १०० के लिखने वाले ने भी परमेश्वर के प्रति अपनी वफादारी को बड़ी गंभीरता से लिया, और चाहा कि दूसरे भी ऐसा ही करें। उसने अपने उदगार प्रगट किये "हे सारी पृथ्वी के लोगों यहोवा का जयजयकार करो!" (भजन १००:१)। परमेश्वर के लोगों को परमेश्वर के प्रति अपनी स्तुति और प्रशंसा के भाव बिना हिचकिचाहट के प्रगट करने चाहियें, क्योंकि वह वाचा को बांधने और निभाने वाला वह परमेश्वर है जो उन सभी से जो इश्वर कहलाते हैं अति महान है। परमेश्वर की प्रजा को उस पर और उसकी भलाई पर अपनी सारी सामर्थ केंद्रित करनी चाहिये।

परमेश्वर का अनुग्रह और भलाई हमें प्रेरित करती है कि हम मुक्त भाव से उसके प्रति अपने प्रेम और वफादारी को अभिव्यक्त करें। इसके लिये जो लोग शांत रहते हैं उन्हें अपनी खामोशी की सीमाओं को तोड़कर सीखना चाहिये कि कि उन्मुक्त भाव से स्तुति करना कैसा होता है; और जो इतने उन्मुक्त रहते हैं कि मौन आराधना की खुबसूरती को नहीं समझ पाते, उन्हें भी मौन आराधना को समझना है। अन्ततः सच्चे परमेश्वर की सच्ची आराधाना सच्चे मन से आनी चाहिये, क्योंकि वह ऐसी आराधना ही चाहता है "परन्‍तु वह समय आता है, वरन अब भी है जिस में सच्‍चे भक्त पिता का भजन आत्मा और सच्‍चाई से करेंगे, क्‍योंकि पिता अपने लिये ऐसे ही भजन करने वालों को ढूंढ़ता है।" (यूहन्ना ४:२३)

आराधना समय है अपने सृजनहार, पालनहार और तारणहार परमेश्वर पर और उसके कार्यों पर ध्यान करने का और उसकी जयजयकार करने का। - मार्विन विलियम्स


परमेश्वर के प्रति हमारे विचारों ऐसे हों कि हम आनन्द से उसकी जयजयकार करने को प्रेरित हों।

हे सारी पृथ्वी के लोगों यहोवा का जयजयकार करो! - भजन १००:१


बाइबल पाठ: भजन १००

हे सारी पृथ्वी के लोगों यहोवा का जयजयकार करो!
आनन्द से यहोवा की आराधना करो! जयजयकार के साथ उसके सम्मुख आओ!
निश्चय जानो, कि यहोवा ही परमेश्वर है। उसी ने हम को बनाया, और हम उसी के हैं, हम उसकी प्रजा, और उसकी चराई की भेड़ें हैं।
उसके फाटकों से धन्यवाद, और उसके आंगनों में स्तुति करते हुए प्रवेश करो, उसका धन्यवाद करो, और उसके नाम को धन्य कहो!
क्योंकि यहोवा भला है, उसकी करूणा सदा के लिये, और उसकी सच्चाई पीढ़ी से पीढ़ी तक बनी रहती है।

एक साल में बाइबल:
  • मीका १-३
  • प्रकाशितवाक्य ११