बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Friday, December 31, 2010

देखभाल का वायदा

कैलिफोर्निया के एक बुज़ुर्ग पास्टर रे स्टैडमैन ने एक बार अपनी मण्डली से अपने संदेश में कहा: "नव वर्ष की पूर्व सन्ध्या पर, अपने जीवन के किसी भी अन्य समय से अधिक, हमें यह एहसास होता है कि हम बीते हुए वक्त को पलट नहीं सकते; ....हम पिछली यादों को दोहरा अवश्य सकते हैं, परन्तु बीते वर्ष के एक भी पल को दोबारा नहीं जी सकते।"

फिर स्टैडमैन ने बाइबल से इस्त्राएलियों का उदाहरण दिया जब वे एक नए स्थान में प्रवेश करके उसे अपना देश बनाने की कगार पर थे। चार दशकों तक बियाबान में भटकने, पुरानी पीढ़ी के गुज़र जाने के बाद, प्रवेश की कगार पर खड़ी इस नई पीढ़ी में असमंजस रहा होगा कि क्या उनमें वह विश्वास और धैर्य होगा जिससे वे इस वाचा की भूमि को अपना बना सकेंगे?

उनका नेतृत्व करने वाले मूसा ने उन्हें स्मरण दिलाया "परन्तु यहोवा के इन सब बड़े बड़े कामों को तुम ने अपनी आंखों से देखा है।" (व्यवस्थाविवरण ११:७); और, यह कि उनकी मंज़िल एक ऐसा देश है "वह ऐसा देश है जिसकी तेरे परमेश्वर यहोवा को सुधि रहती है; और वर्ष के आदि से लेकर अन्त तक तेरे परमेश्वर यहोवा की दृष्टि उस पर निरन्तर लगी रहती है।"(व्यवस्थाविवरण ११:१२)

इस नव वर्ष की पूर्व संध्या पर हम बीते समयों की घटनाओं के कारण भविष्य के लिये चिंतित हो सकते हैं, परन्तु हमें अतीत से बंधे रहने की आवश्यक्ता नहीं है क्योंकि हम भविष्य को जानने वाले अपने परमेश्वर पर नज़रें लगा कर आगे बढ़ सकते हैं। जैसे उसकी नज़रें इस्त्राएल और वाचा की हुई भूमि पर हैं, वैसे ही हम पर भी रहतीं हैं।

परमेश्वर की देखभाल हमारे लिये नये साल के प्रत्येक दिन पर उपलब्ध रहेगी, हम इस वायदे पर पूरा पूरा विश्वास रख सकते हैं। - डेविड मैककैसलैंड


हमारे भविष्य का "क्या" अनन्त के परमेश्वर के हाथों में है।

...वर्ष के आदि से लेकर अन्त तक तेरे परमेश्वर यहोवा की दृष्टि उस पर निरन्तर लगी रहती है। - व्यवस्थाविवरण ११:१२


बाइबल पाठ: व्यवस्थाविवरण ११:७-१२

परन्तु यहोवा के इन सब बड़े बड़े कामों को तुम ने अपनी आंखों से देखा है।
इस कारण जितनी आज्ञाएं मैं आज तुम्हें सुनाता हूं उन सभों को माना करना, इसलिये कि तुम सामर्थी होकर उस देश में जिसके अधिकारी होने के लिये तुम पार जा रहे हो प्रवेश करके उसके अधिकारी हो जाओ,
और उस देश में बहुत दिन रहने पाओ, जिसे तुम्हें और तुम्हारे वंश को देने की शपथ यहोवा ने तुम्हारे पूर्वजों से खाई थी, और उस में दूध और मधु की धाराएं बहती हैं।
देखो, जिस देश के अधिकारी होने को तुम जा रहे हो वह मिस्र देश के समान नहीं है, जहां से निकल कर आए हो, जहां तुम बीज बोते थे और हरे साग के खेत की रीति के अनुसार अपने पांव की नलियां बना कर सींचते थे;
परन्तु जिस देश के अधिकारी होने को तुम पार जाने पर हो वह पहाड़ों और तराईयों का देश है, और आकाश की वर्षा के जल से सिंचता है,
वह ऐसा देश है जिसकी तेरे परमेश्वर यहोवा को सुधि रहती है; और वर्ष के आदि से लेकर अन्त तक तेरे परमेश्वर यहोवा की दृष्टि उस पर निरन्तर लगी रहती है।

एक साल में बाइबल:
  • मलाकी १-४
  • प्रकाशितवाक्य २२