बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Friday, May 6, 2011

जानना और मानना

कुछ लोग एक टकसाल देखने गए, जहाँ धातु पिघला कर उससे सिक्के बनाए जाते हैं। जब वे धातु के पिघलाए जाने वाले स्थान पर पहुँचे और धातु पिघलाने वाले बड़े बड़े बरतनों में पिघली हुई धातु के निकट आए तो उनके साथ चल रहे मार्गदर्शक ने कहा, "यदि कोई अपना हाथ पानी में डुबो कर गीला कर ले और तब उसके हाथ पर पिघली हुई धातु उंडेली जाए तो उसे न तो कोई तकलीफ होगी और न उसका हाथ जलेगा।" फिर उसने वहाँ खड़े एक दम्पति से पूछा कि क्या वे उसकी कही हुई इस बात को जाँचकर देखना चाहेंगे? पति ने तुरंत उत्तर दिया, " जी नहीं, धन्यवाद" परन्तु पत्नी ने उत्सुक्ता पूर्वक कहा, "अवश्य, मैं इसे करके देखना चाहती हूँ।" अपनी कथनी को करनी में परिवर्तित करते हुए, उसने वहाँ रखी पानी से भरी बाल्टी में अपना हाथ डाला और पिघली हुई धातु के उंडेले जाने के लिए आगे कर दिया, जब धातु उसके हाथ पर उंडेली गई तो उसे बिन कोई नुकसान किए वह गीले हाथ पर से फिसल कर गिर गई।

जब बाइबल में परमेश्वर द्वारा दी गई प्रतिज्ञाओं की बात आती है तो बहुतेरे विश्वासी उस पति के समान व्यवहार करते हैं। वे प्रतिज्ञाओं को जानते हैं और उनपर विश्वास करने का दावा भी करते हैं, लेकिन वास्तविकता में वे उन्हें मानते नहीं; इसलिए वे स्वयं कभी उन्हें अनुभव नहीं करते; वे सदा किसी दूसरे के अनुभवों के द्वारा अपने विश्वास की पुष्टी करते हैं।

दाउद विश्वास करने का अर्थ जानता था, गोलियत को हरा कर उसने अपने विश्वास को प्रदर्शित किया। भजन १६ में दाउद ने परमेश्वर पर अपने विश्वास और निर्भरता की आशीशों का वर्णन किया है; उसने परमेश्वर से उत्तम मीरास, प्रसन्नता, स्थिरता, आशा तथा सदा काल के आनन्द का आश्वासन पाया।

यदि हम केवल परमेश्वर की प्रतिज्ञाओं को जानेगे भर, परन्तु उन पर विश्वास करके कार्य नहीं करेंगे, तो परमेश्वर की अद्भुत आशीशों से वंचित रह जाएं गे। - रिचर्ड डी हॉन


परमेश्वर की प्रतिज्ञाओं पर विश्वास रखना ही विजयी होने की कुंजी है।

हे ईश्वर मेरी रक्षा कर, क्योंकि मैं तेरा ही शरणागत हूं। - भजन १६:१


बाइबल पाठ: भजन १६

Psa 16:1 हे ईश्वर मेरी रक्षा कर, क्योंकि मैं तेरा ही शरणागत हूं।
Psa 16:2 मैं ने परमेश्वर से कहा है, कि तू ही मेरा प्रभु है तेरे सिवाए मेरी भलाई कहीं नहीं।
Psa 16:3 पृथ्वी पर जो पवित्र लोग हैं, वे ही आदर के योग्य हैं, और उन्हीं से मैं प्रसन्न हूं।
Psa 16:4 जो पराए देवता के पीछे भागते हैं उनका दु:ख बढ़ जाएगा, मैं उनके लोहू वाले तपावन नहीं तपाऊंगा और उनका नाम अपने ओठों से नहीं लूंगा।
Psa 16:5 यहोवा मेरा भाग और मेरे कटोरे का हिस्सा है; मेरे बांट को तू स्थिर रखता है।
Psa 16:6 मेरे लिये माप की डोरी मनभावने स्थान में पड़ी, और मेरा भाग मनभावना है।
Psa 16:7 मैं यहोवा को धन्य कहता हूं, क्योंकि उस ने मुझे सम्मत्ति दी है; वरन मेरा मन भी रात में मुझे शिक्षा देता है।
Psa 16:8 मैं ने यहोवा को निरन्तर अपने सम्मुख रखा है : इसलिये कि वह मेरे दाहिने हाथ रहता है मैं कभी न डगमगाऊंगा।
Psa 16:9 इस कारण मेरा हृदय आनन्दित और मेरी आत्मा मगन हुई मेरा शरीर भी चैन से रहेगा।
Psa 16:10 क्योंकि तू मेरे प्राण को अधोलोक में न छोड़ेगा, न अपने पवित्र भक्त को सड़ने देगा।
Psa 16:11 तू मुझे जीवन का रास्ता दिखाएगा, तेरे निकट आनन्द की भरपूरी है, तेरे दहिने हाथ में सुख सर्वदा बना रहता है।

एक साल में बाइबल:
  • १ राजा २१-२२
  • लूका २३:२६-५६