बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, June 26, 2011

अच्छा उदाहरण

१९४० के दशक में मूडी बाइबल इन्सटीट्यूट के प्रमुख, विल हौटन, पहले न्यू यॉर्क शहर में एक चर्च के पादरी हुआ करते थे, और उन्के विश्वास के उत्तम जीवन के कारण वहाँ उनका बहुत नाम था। वहाँ रहने वाला एक व्यक्ति जो परमेश्वर में विश्वास नहीं करता था, आत्म हत्या करने के बारे में सोच रहा था। उसने अपने आप को एक मौका और देने की ठानी और निश्चय किया कि यदि उसे एक भी ऐसा प्रचारक मिल जाएगा जो अपने प्रचार को अपने जीवन में जी कर के दिखाता हो, तो वह उसकी बात सुनेगा। क्योंकि विल हौटन का उन दिनों बहुत नाम था इसलिए उसने विल को ही अपने अध्ययन का विष्य बनाने का निर्णय किया। उसने एक निजी जासूस को नियुक्त किया कि वह विल पर गुप्त रूप से लगातार नज़र रखे और उसकी गतिविधियों का विशलेष्ण कर के उसे बताए। कुछ समय बाद उस जासूस ने अपनी रिपोर्ट उसे पेश करी, जिसका निशकर्ष था कि विल किसी भी बात में दोषी नहीं पाया गया है। वह अविश्वासी विल के चर्च जाने लगा, उसने अपने पापों से पश्चाताप कर के प्रभु यीशु को अपना निज उद्धारकर्ता ग्रहण किया, और बाद में अपनी बेटी को मूडी बाइबल इन्सटीट्यूट में बाइबल अध्ययन के लिए भेजा।

बाइबल का एक पात्र न्हेम्याह भी ऐसा ही व्यक्ति था जिसने अपने जीवन के उदाहरण द्वारा अपने आस-पास के लोगों को प्रभावित किया। यहाँ तक कि बहुत धनी ऊँचे ओहदे वाले लोग भी शाँत होकर आदर से उसकी बात सुनते थे, तब भी जब वह उन्हें डाँट रहा होता था। क्यों? उसके जीवन जीने के स्तर के कारण। जो कुछ वह चाहता था कि दूसरे करें, वह पहले अपने जीवन में उसे कर के दिखाता था। न्हेम्याह ने कभी अपने ओहदे को दौलत जमा करने का ज़रिया नहीं बनाया, उसने कामगारों को केवल काम करने की आज्ञा नहीं दी वरन उनके साथ मिलकर उनके कठोर परिश्रम में उनका हाथ भी बंटाया। ऐसे व्य्क्ति की बात को कौन नहीं सुनता, कौन उसकी बात को टालता?

एक उत्तम जीवन, उन में जो उसे देखते हैं, आत्मिक और नैतिक बोध उत्पन्न करता है और अपनी गवाही के शब्दों पर विश्वास की सामर्थ देता है। - हर्ब वैन्डर लुग्ट


अपने होटों से बेहतर प्रचार हम अपने जीवन द्वारा कर सकते हैं।

कोई तेरी जवानी को तुच्‍छ न समझने पाए; पर वचन, और चाल चलन, और प्रेम, और विश्वास, और पवित्रता में विश्वासियों के लिये आदर्श बन जा। - १ तिमुथियुस ४:१२


बाइबल पाठ: न्हेम्याह ५:१-१६

Neh 5:1 तब लोग और उनकी स्त्रियों की ओर से उनके भाई यहूदियों के किरुद्ध बड़ी चिल्लाहट मची।
Neh 5:2 कितने तो कहते थे, हम अपने बेटे-बेटियों समेत बहुत प्राणी हैं, इसलिये हमें अन्न मिलना चाहिये कि उसे खाकर जीवित रहें।
Neh 5:3 और कितने कहते थे, कि हम अपने अपने खेतों, दाख की बारियों और घरों को महंगी के कारण बन्धक रखते हैं, कि हमें अन्न मिले।
Neh 5:4 फिर कितने यह कहते थे, कि हम ने राजा के कर के लिये अपने अपने खेतों और दाख की बारियों पर रुपया उधार लिया।
Neh 5:5 परन्तु हमारा और हमारे भाइयों का शरीर और हमारे और उनके लड़के बाले एक ही समान हैं, तौभी हम अपने बेटे-बेटियों को दास बनाते हैं; वरन हमारी कोई कोई बेटी दासी भी हो चुकी हैं और हमारा कुछ बस नहीं चलता, क्योंकि हमारे खेत और दाख की बारियां औरों के हाथ पड़ी हैं।
Neh 5:6 यह चिल्लाहट ओर ये बातें सुनकर मैं बहुत क्रोधित हुआ।
Neh 5:7 तब अपने मन में सोच विचार करके मैं ने रईसों और हाकिमों को घुड़क कर कहा, तुम अपने अपने भाई से ब्याज लेते हो। तब मैं ने उनके विरुद्ध एक बड़ी सभा की।
Neh 5:8 और मैं ने उन से कहा, हम लोगों ने तो अपनी शक्ति भर अपने यहूदी भाइयों को जो अन्यजातियों के हाथ बिक गए थे, दाम देकर छुड़ाया है, फिर क्या तुम अपने भाइयों को बेचोगे? क्या वे हमारे हाथ बिकेंगे? तब वे चुप रहे और कुछ न कह सके।
Neh 5:9 फिर मैं कहता गया, जो काम तुम करते हो वह अच्छा नहीं है; क्या तुम को इस कारण हमारे परमेश्वर का भय मानकर चलना न चाहिये कि हमारे शत्रु जो अन्यजाति हैं, वे हमारी नामधराई न करें?
Neh 5:10 मैं भी और मेरे भाई और सेवक उनको रुपया और अनाज उधार देते हैं, परन्तु हम इसका ब्याज छोड़ दें।
Neh 5:11 आज ही अनको उनके खेत, और दाख, और जलपाई की बारियां, और घर फेर दो; और जो रुपया, अन्न, नया दाखमधु, और टटका तेल तुम उन से ले लेते हो, उसका सौवां भाग फेर दो;
Neh 5:12 अन्होंने कहा, हम उन्हें फेर देंगे, और उन से कुछ न लेंगे; जैसा तू कहता है, वैसा ही हम करेंगे। तब मैं ने याजकों को बुलाकर उन लोगों को यह शपथ खिलाई, कि वे इसी वचन के अनुसार करेंगे।
Neh 5:13 फिर मैं ने अपने कपड़े की छोर फाड़ कर कहा, इसी रीति से जो कोई इस वचन को पूरा न करे, उसको परमेश्वर फाड़ कर, उसका घर और कमाई उस से छुड़ाए, और इसी रीति से वह फाड़ा जाए, और छूछा हो जाए। तब सारी सभा ने कहा, आमीन ! और यहोवा की स्तुति की। और लोगों ने इस वचन के अनुसार काम किया।
Neh 5:14 फिर जब से मैं यहूदा देश में उनका अधिपति ठहराया गया, अर्थात राजा अर्तझत्र के बीसवें वर्ष से ले उसके बत्तीसवें वर्ष तक, अर्थात बारह वर्ष तक मैं और मेरे भाई अधिपति के हक का भोजन खाते रहे।
Neh 5:15 परन्तु पहिले अधिपति जो मुझ से आगे थे, वह प्रजा पर भार डालते थे, और उन से रोटी, और दाखमधु, और इस से अधिक चालीस शेकेल चान्दी लेते थे, वरन उनके सेवक भी प्रजा के ऊपर अधिकार जताते थे, परन्तु मैं ऐसा नहीं करता था, क्योंकि मैं यहोवा का भय मानता था।
Neh 5:16 फिर मैं शहरपनाह के काम में लिपटा रहा, और हम लोगों ने कुछ भूमि मोल न ली और मेरे सब सेवक काम करने के लिये वहां इकट्ठे रहते थे।

एक साल में बाइबल:
  • अय्युब ५-७
  • प्रेरितों ८:१-२५