बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, February 12, 2012

ज्योति

   अमेरीकी कारोबारी मार्क बेन्ट ने $२५०,००० शोध पर खर्च करके सौर उर्जा से चलने वाले और कम खर्च में बनकर उपलब्ध हो सकने वाले टॉर्च विकसित किए और बनाए। एक दिन की सौर उर्जा से एक टॉर्च ७ घंटे की रौशनी लोगों को उपलब्ध कराता है। ऐसे हज़ारों टॉर्च अफ्रीका के शरणार्थी शिविरों में मुफ्त या बहुत कम खर्च पर बाँटे गए हैं जहां वे घरों, स्कूलों और अस्पतालों में जीवन दायक रौशनी प्रदान कर रहे हैं; ऐसे स्थानों में जहां अन्धकार के कारण अपराध और हिंसा के कार्यों को प्रोत्साहन मिलता था।

   परमेश्वर के वचन बाइबल में प्रभु यीशु मसीह के चित्रण में ज्योति और अन्धकार की तुलना अकसर देखने को मिलती है: "जो लोग अन्धियारे में चल रहे थे उन्होंने बड़ा उजियाला देखा; और जो लोग घोर अन्धकार से भरे हुए मृत्यु के देश में रहते थे, उन पर ज्योति चमकी" (यशायाह ९:२); "उस [यीशु] में जीवन था; और वह जीवन मुनष्यों की ज्योति थी। और ज्योति अन्‍धकार में चमकती है; और अन्‍धकार ने उसे ग्रहण न किया" (युहन्ना १:४-५)।

    प्रभु यीशु ने अपने चेलों से कहा "तुम जगत की ज्योति हो..." (मत्ती ५:१४)। आज, हम जो प्रभु यीशु के अनुयायी हैं, हम पर प्रभु की जीवन दायक ज्योति के फैलाने का दायित्व है। प्रेरित पौलुस ने फिलिप्पी के मसीही विश्वासियों को लिखा: "तुम निर्दोष और भोले होकर टेढ़े और हठीले लोगों के बीच परमेश्वर के निष्‍कलंक सन्‍तान बने रहो, (जिन के बीच में तुम जीवन का वचन लिए हुए जगत में जलते दीपकों की नाईं दिखाई देते हो)" (फिलिप्पियों २:१५)।

   उस अनुग्रह और सामर्थ द्वारा जो हमें परमेश्वर से मिली है, हम परमेश्वर पर निर्भर होकर, अपने चारों ओर के आत्मिक अन्धकार से डरे और दबे बिना, जगत में ज्योति के समान चमकने वाले और दूसरों को जीवन का मार्ग दिखाने तथा जीवन ज्योति की ओर आकर्षित करने वाले बनें। - डेविड मैककैसलैंड


प्रभु यीशु आत्मिक अन्धकार से भरे संसार को जीवन ज्योति देने आया।

तुम निर्दोष और भोले होकर टेढ़े और हठीले लोगों के बीच परमेश्वर के निष्‍कलंक सन्‍तान बने रहो, (जिन के बीच में तुम जीवन का वचन लिए हुए जगत में जलते दीपकों की नाईं दिखाई देते हो)। - फिलिप्पियों २:१५

बाइबल पाठ: फिलिप्पियों २:१२-१८
Php 2:12  सो हे मेरे प्यारो, जिस प्रकार तुम सदा से आज्ञा मानते आए हो, वैसे ही अब भी न केवल मेरे साथ रहते हुए पर विशेष करके अब मेरे दूर रहने पर भी डरते और कांपते हुए अपने अपने उद्धार का कार्य पूरा करते जाओ।
Php 2:13 क्‍योंकि परमेश्वर ही है, जिस न अपनी सुइच्‍छा निमित्त तुम्हारे मन में इच्‍छा और काम, दोनों बातों के करने का प्रभाव डाला है।
Php 2:14  सब काम बिना कुड़कुड़ाए और बिना विवाद के किया करो।
Php 2:15 ताकि तुम निर्दोष और भोले होकर टेढ़े और हठीले लोगों के बीच परमेश्वर के निष्‍कलंक सन्‍तान बने रहो, (जिन के बीच में तुम जीवन का वचन लिए हुए जगत में जलते दीपकों की नाईं दिखाई देते हो)।
Php 2:16 कि मसीह के दिन मुझे घमण्‍ड करने का कारण हो, कि न मेरा दौड़ना और न मेरा परिश्रम करना व्यर्थ हुआ।
Php 2:17 और यदि मुझे तुम्हारे विश्वास के बलिदान और सेवा के साथ अपना लोहू भी बहाना पड़े तौभी मैं आनन्‍दित हूं, और तुम सब के साथ आनन्‍द करता हूं।
Php 2:18 वैसे ही तुम भी आनन्‍दित हो, और मेरे साथ आनन्‍द करो।
एक साल में बाइबल: 
  • लैव्यवस्था १३ 
  • मत्ती २६:२६-५०