बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, February 3, 2013

सच्चा आदर


   सूज़न बॉयल नामक एक महिला ने अपना अधिकांश वयस्क जीवन अपनी बिल्ली तथा अपनी वृद्ध माँ की देखभाल और चर्च में गीत गाने में बिताया था। वह देखने में कोई महान गायक नहीं लगती थी। इसीलिए जब यह अधेड़ उम्र की साधारण सी दिखने वाली महिला एक संगीत प्रत्योगिता में भाग लेने के लिए गीत गाने खड़ी हुई तो उपस्थित श्रोताओं को हंसी आ गई। उन श्रोताओं के इस तिरिस्कारपूर्ण व्यवहार पर सूज़न ने प्रत्योगिता से अपने कदम नहीं खींचे; उपस्थित भीड़ पर ध्यान दिए बिना उसने गाया और बहुत अच्छा गाया और उन्हीं श्रोताओं ने उसे खड़े होकर अभिन्दन तथा आदर दिया।

   चर्च के प्रारंभिक दिनों की बात है, परमेश्वर का सेवक स्तिफनुस, मसीह यीशु में अपने विश्वास के कारण विरोधी भीड़ के सामने खड़ा किया गया और धर्म के अगुवों और अधिकारियों के सामने उस पर धर्म के विरुद्ध बोलने और परमेश्वर की निन्दा करने के झूठा दोषारोपण किया गया। प्रत्युत्तर में स्तिफनुस ने उन सब के सामने धर्म के नाम पर उन लोगों के पाखंड और दोगलेपन का वर्णन किया तथा परमेश्वर के वचन की सच्चाईयों को रखा जिससे उसके मसीह यीशु में विश्वास की पुष्टि होती थी। अपने प्रत्युत्तर के अन्त में उसने कहा: "देखो, मैं स्वर्ग को खुला हुआ, और मनुष्य के पुत्र को परमेश्वर के दाहिनी ओर खड़ा हुआ देखता हूं" (प्रेरितों ७:५६)। यह सुनकर क्रुद्ध भीड़ तथा धर्म के अगुवों और अधिकारियों ने उसे पत्थरवाह करके मार डाला, लेकिन स्वर्ग में जगत के उद्धाकर्ता और परमेश्वर के पुत्र ने अपने सिंहासन से खड़े होकर उसका स्वागत किया, उसे आदर दिया।

   अधिकांश मसीही विश्वासियों को इस प्रकार के घोर विरोध और बैर का सामना तो नहीं करना पड़ता, लेकिन हम सब मसीही विश्वासियों को प्रभु में स्थिर बने रहने की आवश्यकता है (फिलिप्पियों ४:१) क्योंकि अपने विश्वास के लिए हम कभी भी परखे जा सकते हैं। संसार के लोगों के दबाव तथा विरोध मसीह यीशु के लिए हमारी आवाज़ को शांत ना करने पाएं। मसीह यीशु में उद्धार और पापों की क्षमा के सुसमाचार को संसार के लोगों की भीड़ का अनुमोदन कम ही मिलता है, किंतु यह सुसमाचार का प्रचार ही हमें परमेश्वर से आदर दिलवाता है - और केवल यही आदर स्थायी और सच्चा है। - जेनिफर बेन्सन शुल्ट


यदि परमेश्वर की आज्ञाकारिता में और यीशु के नाम के लिए आपको विरोध का सामना करना पड़ रहा है तो यह इस बात का सूचक है कि आप सही मार्ग पर हैं।

देखो, मैं स्वर्ग को खुला हुआ, और मनुष्य के पुत्र को परमेश्वर के दाहिनी ओर खड़ा हुआ देखता हूं। - प्रेरितों ७:५६

बाइबल पाठ: प्रेरितों ६:८-१५; ७:५१-६०
Acts6:8 स्‍तिुफनुस अनुग्रह और सामर्थ में परिपूर्ण हो कर लोगों में बड़े बड़े अद्भुत काम और चिन्ह दिखाया करता था।
Acts6:9 तब उस अराधनालय में से जो लिबरतीनों की कहलाती थी, और कुरेनी और सिकन्‍दिरया और किलिकिया और एशीया के लोगों में से कई एक उठ कर स्‍तिुफनुस से वाद-विवाद करने लगे।
Acts6:10 परन्तु उस ज्ञान और उस आत्मा का जिस से वह बातें करता था, वे साम्हना न कर सके।
Acts6:11 इस पर उन्‍होंने कई लोगों को उभारा जो कहने लगे, कि हम ने इस को मूसा और परमेश्वर के विरोध में निन्‍दा की बातें कहते सुना है।
Acts6:12 और लोगों और प्राचीनों और शास्‍त्रियों को भड़काकर चढ़ आए और उसे पकड़कर महासभा में ले आए।
Acts6:13 और झूठे गवाह खड़े किए, जिन्हों ने कहा कि यह मनुष्य इस पवित्र स्थान और व्यवस्था के विरोध में बोलना नहीं छोड़ता।
Acts6:14 क्योंकि हम ने उसे यह कहते सुना है, कि यही यीशु नासरी इस जगह को ढ़ा देगा, और उन रीतों को बदल डालेगा जो मूसा ने हमें सौंपी हैं।
Acts6:15 तब सब लोगों ने जो सभा में बैठे थे, उस की ओर ताक कर उसका मुखड़ा स्वर्गदूत का सा देखा।
Acts7:51 जैसा तुम्हारे बाप दादे करते थे, वैसे ही तुम भी करते हो।
Acts7:52 भविष्यद्वक्ताओं में से किस को तुम्हारे बाप दादों ने नहीं स