बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, March 4, 2013

संभवतः आज ही


   मार्च माह के आरंभ से मेरी एक सहेली ने उलटी गिनती गिननी आरंभ करी। उसने कार्यस्थल पर लगे अपने कैलण्डर पर बसन्त ऋतु आरंभ होने के अनुमानित दिन पर निशान लगा रखा था, जिसमें अभी २० दिन बाकी थे। फिर एक दिन जब प्रातः मेरी उससे भेंट हुई तो वह बोली, "केवल १२ दिन और"; कुछ दिन बाद कहा, "बस ६ दिन शेष"। उसका यह उत्साह मुझ पर भी प्रभाव डालने लगा और मैंने भी इसी प्रकार दिनों का हिसाब रखना आरंभ कर दिया। एक दिन जब उससे मुलाकात हुई तो मैं बोल उठी, "जैरी केवल दो दिन और" और उसने खिले चेहरे और मुस्कुराते हुए उत्तर दिया, "हैं ना"।

   मसीही विश्वासी होने के कारण लम्बी शरद ऋतु के बाद बसन्त ऋतु के आगमन, सब जगह खिलते हुए फूलों और खिली हुई धूप से भी बढ़कर एक और बात है जिसकी प्रतीक्षा हमें उत्साहित करती है। परमेश्वर ने अपने वचन बाइबल में बहुत सी प्रतिज्ञाएं करीं हैं, और उसकी सभी प्रतिज्ञाएं या तो पूरी हुई हैं या हो रही हैं तथा आगे भी पूरी होंगी। अपने लोगों को अपने साथ स्वर्ग पर ले जाने की मसीह यीशु के दूसरे आगमन की प्रतिज्ञा संभवतः परमेश्वर की महानतम प्रतिज्ञाओं में से एक है: "क्योंकि प्रभु आप ही स्वर्ग से उतरेगा; उस समय ललकार, और प्रधान दूत का शब्द सुनाई देगा, और परमेश्वर की तुरही फूंकी जाएगी, और जो मसीह में मरे हैं, वे पहिले जी उठेंगे। तब हम जो जीवित और बचे रहेंगे, उन के साथ बादलों पर उठा लिये जाएंगे, कि हवा में प्रभु से मिलें, और इस रीति से हम सदा प्रभु के साथ रहेंगे" (१ थिस्सलुनीकियों ४:१६-१७)

   यद्यपि प्रभु यीशु के इस दूसरे आगमन के दिन को कोई नहीं जानता, लेकिन हमारे पास परमेश्वर की प्रतिज्ञा है कि ऐसा अवश्य होगा (प्रेरितों १:७-११)। अभी हम बसन्त ऋतु के आगमन को मना रहे हैं और आने वाले ईस्टर त्यौहार की प्रतीक्षा में है, लेकिन साथ ही एक दूसरे को उत्साहित भी करते रहें कि प्रभु यीशु के दूसरे आगमन का दिन भी आ रहा है - संभवतः आज ही हो!

   क्या आप उसके आने के लिए तैयार हैं? क्या उसका यह पुनःआगमन आपके लिए भी अनन्त सुख और आशीष का आरंभ होगा? - सिंडी हैस कैस्पर


मसीह यीशु का दूसरा आगमन अवश्यंभावी है - संभवतः यह आज ही हो!

और यदि मैं जा कर तुम्हारे लिये जगह तैयार करूं, तो फिर आकर तुम्हें अपने यहां ले जाऊंगा, कि जहां मैं रहूं वहां तुम भी रहो। - यूहन्ना १४:३

बाइबल पाठ: १ थिस्सलुनीकियों ४:१३-१८
1 Thessalonians 4:13 हे भाइयों, हम नहीं चाहते, कि तुम उनके विषय में जो सोते हैं, अज्ञान रहो; ऐसा न हो, कि तुम औरों की नाईं शोक करो जिन्हें आशा नहीं।
1 Thessalonians 4:14 क्योंकि यदि हम प्रतीति करते हैं, कि यीशु मरा, और जी भी उठा, तो वैसे ही परमेश्वर उन्हें भी जो यीशु में सो गए हैं, उसी के साथ ले आएगा।
1 Thessalonians 4:15 क्योंकि हम प्रभु के वचन के अनुसार तुम से यह कहते हैं, कि हम जो जीवित हैं, और प्रभु के आने तक बचे रहेंगे तो सोए हुओं से कभी आगे न बढ़ेंगे।
1 Thessalonians 4:16 क्योंकि प्रभु आप ही स्वर्ग से उतरेगा; उस समय ललकार, और प्रधान दूत का शब्द सुनाई देगा, और परमेश्वर की तुरही फूंकी जाएगी, और जो मसीह में मरे हैं, वे पहिले जी उठेंगे।
1 Thessalonians 4:17 तब हम जो जीवित और बचे रहेंगे, उन के साथ बादलों पर उठा लिये जाएंगे, कि हवा में प्रभु से मिलें, और इस रीति से हम सदा प्रभु के साथ रहेंगे।
1 Thessalonians 4:18 सो इन बातों से एक दूसरे को शान्‍ति दिया करो।

एक साल में बाइबल: 
  • गिनती ३१-३३ 
  • मरकुस ९:१-२९