बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, September 2, 2013

उद्देश्य

   बचपन में मेरा एक नायक था पीट मारविक, जो एक उच्चकोटि का बास्केटबॉल खिलाड़ी था और एक जादूगर के समान गेंद को नियंत्रित करता था। अब समस्या यह थी कि मेरी अपने नायक पीट के समान होने की इच्छा मेरे उस बात से संतुष्ट होने के आड़े आ रही थी जैसा परमेश्वर मुझे बनाना चाहता था। जब मुझे यह एहसास हुआ कि मैं कभी पीट के समान नहीं खेल पाऊँगा तो मैं बहुत निराश हो गया, और इस निराशा में कुछ समय के लिए अपनी कॉलेज की टीम में खेलना भी छोड़ दिया, केवल इसलिए क्योंकि मैं पीट के समान नहीं हो पा रहा था। आज भी बच्चे ऐसा ही करते हैं; जैसा और जिस कार्य के लिए परमेश्वर ने उन्हें बनाया है उससे असंतुष्ट होकर वे वैसा होने की लालसा रखते हैं जैसा उनका कोई सांसारिक नायक या नायिका है।

   मसीही गायक जौनी डीयाज़ ने इस प्रवृति को पहचानते हुए एक गीत लिखा और गाया जिसका शीर्षक है "More Beautiful You" (और भी अधिक सुन्दर आप)। इस गीत के आरंभ की पंक्ति का सार है: "एक 14 वर्षीय लड़की एक पत्रिका के पन्ने पलटते हुए कहती है, मुझे ऐसा बनना है।" कुछ लड़के-लड़कियों की यह लालसा होती है कि वे अपनी पसन्द के किसी नायक-नायिका के समान बनें जैसे मैं पीट मारविक के समान बनना चाहता था। डीयाज़ ने गीत में आगे कहा: "आप से सुन्दर और कोई हो नहीं सकता; संसार के लोगों के झांसों में मत आओ; तुम्हें एक उद्देश्य के लिए रचा गया है, और केवल एक तुम ही हो जो उस उद्देश्य को पूरा कर सकते हो।" डीयाज़ ने इस गीत में वही बात कही है जो परमेश्वर के वचन बाइबल में एक भजनकार ने हज़ारों वर्ष पहले कही थी: "मैं तेरा धन्यवाद करूंगा, इसलिये कि मैं भयानक[अनुपम] और अद्भुत रीति से रचा गया हूं। तेरे काम तो आश्चर्य के हैं, और मैं इसे भली भांति जानता हूं" (भजन 139:14)।

   परमेश्वर ने हम में से प्रत्येक को अपनी इच्छानुसार एक उद्देश्य के लिए रचा है और गुणों से भरा है। विश्वास रखिए, उस उद्देश्य के लिए आपसे अधिक उपयोगी और बेहतर और कोई कभी हो ही नहीं सकता। संसार के नश्वर नायकों के समान बनने के प्रयासों में अविनाशी परमेश्वर द्वारा दिए स्वरूप, सुन्दरता और गुणों को नज़रन्दाज़ मत कीजिए। - डेव ब्रैनन


हम परमेश्वर की अनुपम एवं श्रेष्ठ कलाकृति हैं।

मैं तेरा धन्यवाद करूंगा, इसलिये कि मैं भयानक[अनुपम] और अद्भुत रीति से रचा गया हूं। तेरे काम तो आश्चर्य के हैं, और मैं इसे भली भांति जानता हूं। - भजन 139:14

बाइबल पाठ: भजन 139:1-14
Psalms 139:1 हे यहोवा, तू ने मुझे जांच कर जान लिया है।
Psalms 139:2 तू मेरा उठना बैठना जानता है; और मेरे विचारों को दूर ही से समझ लेता है।
Psalms 139:3 मेरे चलने और लेटने की तू भली भांति छानबीन करता है, और मेरी पूरी चालचलन का भेद जानता है।
Psalms 139:4 हे यहोवा, मेरे मुंह में ऐसी कोई बात नहीं जिसे तू पूरी रीति से न जानता हो।
Psalms 139:5 तू ने मुझे आगे पीछे घेर रखा है, और अपना हाथ मुझ पर रखे रहता है।
Psalms 139:6 यह ज्ञान मेरे लिये बहुत कठिन है; यह गम्भीर और मेरी समझ से बाहर है।
Psalms 139:7 मैं तेरे आत्मा से भाग कर किधर जाऊं? वा तेरे साम्हने से किधर भागूं?
Psalms 139:8 यदि मैं आकाश पर चढूं, तो तू वहां है! यदि मैं अपना बिछौना अधोलोक में बिछाऊं तो वहां भी तू है!
Psalms 139:9 यदि मैं भोर की किरणों पर चढ़ कर समुद्र के पार जा बसूं,
Psalms 139:10 तो वहां भी तू अपने हाथ से मेरी अगुवाई करेगा, और अपने दाहिने हाथ से मुझे पकड़े रहेगा।
Psalms 139:11 यदि मैं कहूं कि अन्धकार में तो मैं छिप जाऊंगा, और मेरे चारों ओर का उजियाला रात का अन्धेरा हो जाएगा,
Psalms 139:12 तौभी अन्धकार तुझ से न छिपाएगा, रात तो दिन के तुल्य प्रकाश देगी; क्योंकि तेरे लिये अन्धियारा और उजियाला दोनों एक समान हैं।
Psalms 139:13 मेरे मन का स्वामी तो तू है; तू ने मुझे माता के गर्भ में रचा।
Psalms 139:14 मैं तेरा धन्यवाद करूंगा, इसलिये कि मैं भयानक[अनुपम] और अद्भुत रीति से रचा गया हूं। तेरे काम तो आश्चर्य के हैं, और मैं इसे भली भांति जानता हूं।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 137-139 
  • 1 कुरिन्थियों 13