बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, September 15, 2013

सहायक

   एक दिन मैंने अपने छोटे बेटे को, जिसने अभी स्कूल जाना भी आरंभ नहीं किया था, एक वज़नदार वस्तु उठाने का प्रयास करते देखा। उसकी आंखों में दृढ़ता थी, ज़ोर लगाने से उसके चेहरा तमतमाया हुआ सुर्ख हो गया था और वह वस्तु उससे हिल भी नहीं पार ही थी, लेकिन वह अपना भरपूर ज़ोर लगाकर उसे उठाने के प्रयास में हुआ था। मैंने उसकी सहायता करने की पेशकश करी और हम दोनों ने मिलकर उसे उठा लिया। मेरे लिए उस वस्तु का वज़न कुछ खास नहीं था; जो उसके लिए बहुत भारी और कठिन कार्य था वह मेरे लिए हलका और सरल था।

   प्रभु यीशु का भी यही दृष्टिकोण हमें कठिन लगने वाले कार्यों के प्रति होता है। जो जीवन हमें कठिनाईयों, परेशानियों, असंभवताओं से भरा लगता है वह प्रभु यीशु के लिए कोई कठिनाई, परेशानी या असंभवतापूर्ण नहीं है। इसीलिए उसने हम सब को यह निमंत्रण दिया है: "हे सब परिश्रम करने वालों और बोझ से दबे लोगों, मेरे पास आओ; मैं तुम्हें विश्राम दूंगा" (मत्ती 11:28)।

   क्या आप एक के बाद एक आ रही समस्याओं से परेशान हैं? क्या तनाव और चिंता ने आपको दबा रखा है? क्या इन बातों से निकलने और उभरने का कोई मार्ग आपको सूझ नहीं पड़ रहा है? ध्यान करिए, प्रभु यीशु का निमंत्रण आपके लिए भी है; उसके द्वारा मिलने वाले हल आपकी हर समस्या का वास्तविक और सर्वोत्तम हल हैं। प्रार्थना में उसके सम्मुख आकर उस पर विश्वास के साथ अपनी समस्या उसके सामर्थी हाथों में सौंप दीजिए; वह हर बात को संभालने में सक्षम है (भजन 55:22)। उससे आग्रह करें कि वह हर बात में आपका मार्गदर्शन और सहायता करे। आपके बोझों को बाँटकर वह आपके मन को विश्राम देगा। उसके मार्गों को अपना लें क्योंकि उसका जुआ सहज और उसका बोझ हलका है। - जेनिफर बेन्सन शुल्ट


प्रार्थना वह स्थान है जहाँ बोझ उतारे जाते हैं।

अपना बोझ यहोवा पर डाल दे वह तुझे सम्भालेगा; वह धर्मी को कभी टलने न देगा। - भजन 55:22

बाइबल पाठ: मत्ती 11:25-30
Matthew 11:25 उसी समय यीशु ने कहा, हे पिता, स्वर्ग और पृथ्वी के प्रभु; मैं तेरा धन्यवाद करता हूं, कि तू ने इन बातों को ज्ञानियों और समझदारों से छिपा रखा, और बालकों पर प्रगट किया है।
Matthew 11:26 हां, हे पिता, क्योंकि तुझे यही अच्छा लगा।
Matthew 11:27 मेरे पिता ने मुझे सब कुछ सौंपा है, और कोई पुत्र को नहीं जानता, केवल पिता; और कोई पिता को नहीं जानता, केवल पुत्र और वह जिस पर पुत्र उसे प्रगट करना चाहे।
Matthew 11:28 हे सब परिश्रम करने वालों और बोझ से दबे लोगों, मेरे पास आओ; मैं तुम्हें विश्राम दूंगा।
Matthew 11:29 मेरा जूआ अपने ऊपर उठा लो; और मुझ से सीखो; क्योंकि मैं नम्र और मन में दीन हूं: और तुम अपने मन में विश्राम पाओगे।
Matthew 11:30 क्योंकि मेरा जूआ सहज और मेरा बोझ हल्का है।

एक साल में बाइबल: 
  • नीतिवचन 22-24 
  • 2 कुरिन्थियों 8