बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Thursday, September 4, 2014

तैयारी


   हर समय तैयार रहने की बात मुझे मेरे बचपन में हमारे एक पड़ौसी की याद दिलाती है। जब भी वे घर आते तो वे सदा ही अपनी कार को बाहर निकलने के लिए बिलकुल तैयार करके खड़ी करते थे। मुझे उनका यह व्यवहार कुछ अटपटा सा लगता था; लेकिन एक दिन मेरी माँ ने मुझे समझाया कि वे अग्नि-शमन विभाग में कार्य करते हैं और यदि कहीं आग लगे तो उन्हें कभी भी बुलाया जा सकता है, इसलिए वे सदा तैयार रहते हैं कि बुलावा आने पर तुरंत ही निकल कर जा सकें।

   सदा तैयार रहना जीवन की हर बात के लिए आवश्यक है। अमेरिका के विख्यात पूर्व राष्ट्रपति, एब्राहम लिंकन ने कहा था, "यदि मुझे एक पेड़ को काटने के लिए 8 घंटे दिए जाएं तो मैं उन में से 6 घंटे अपनी कुल्हाड़ी की धार तेज़ करने में लगाऊँगा"; अर्थात उस कार्य को पूरा करने के लिए आवश्यक तैयारी भली-भाँति करके, कार्य को भी बिना समय गँवाए भली-भाँति पूरा कर लूँगा। यह एक बहुत व्यावाहरिक बात है जिसे हम अपने जीवनों में प्रतिदिन विभिन्न बातों के संदर्भ में करते रहते हैं। अच्छी जीविका कमाने के लिए हम अच्छी तरह से पढ़ाई-लिखाई करते हैं। कार या घर के दुर्घटनाग्रस्त होने के नुकसान की भरपाई के लिए हम उनका बीमा करवाते हैं। यहाँ तक कि अपने शारीरिक जीवन के अन्त के बाद के लिए हम अपनी वसीयत भी बनाते हैं जिससे हमारे बाद हमारे परिवार जनों को सुविधा हो सके।

   परमेश्वर का वचन बाइबल हम मसीही विश्वासियों को सिखाती है कि इसी प्रकार हमें आत्मिक रीति से भी तैयार रहना चाहिए; साथ ही बाइबल हमें यह भी बताती है कि कैसे:
  • आत्मिक हथियारों से लैस होने के द्वारा (इफिसियों 6:10-20)
  • अपने मनों को पवित्र जीवन जीने के लिए तैयार करने के द्वारा (1 पतरस1:13)
  • अपने विश्वास एवं आशा के बारे में उत्तर देने के लिए सदा तैयार रहने के द्वारा (1 पतरस 3:15)
  • प्रभु यीशु के दूसरे आगमन के लिए अपने आप को तैयार करने के द्वारा (मत्ती 24:44)


   आज आप आने वाले अज्ञात कल के लिए कितने तैयार हैं? यदि अपनी तैयारी के लिए अनिश्चित हैं या पशोपेश में हैं तो प्रभु यीशु के पास आएं, उससे सहायता और मार्गदर्शन लें, क्योंकि वह आपको भी जानता है, भविष्य को भी; वही सब कुछ को नियंत्रित करता है, और अन्ततः सबको उसी के न्याय सिंहासन के सामने खड़े होकर उसे ही अपने जीवन का लेखा-जोखा देना है, उससे ही प्रतिफल लेना है। - सिंडी हैस कैस्पर


जो स्वयं को आत्मिक युद्ध के लिए तैयार करते हैं, आत्मिक विजय उन्हीं को प्राप्त होती है।

इसलिये तुम भी तैयार रहो, क्योंकि जिस घड़ी के विषय में तुम सोचते भी नहीं हो, उसी घड़ी मनुष्य का पुत्र आ जाएगा। - मत्ती 24:44

बाइबल पाठ: इफिसियों 6:10-20
Ephesians 6:10 निदान, प्रभु में और उस की शक्ति के प्रभाव में बलवन्‍त बनो। 
Ephesians 6:11 परमेश्वर के सारे हथियार बान्‍ध लो; कि तुम शैतान की युक्तियों के साम्हने खड़े रह सको। 
Ephesians 6:12 क्योंकि हमारा यह मल्लयुद्ध, लोहू और मांस से नहीं, परन्तु प्रधानों से और अधिकारियों से, और इस संसार के अन्धकार के हाकिमों से, और उस दुष्‍टता की आत्मिक सेनाओं से है जो आकाश में हैं। 
Ephesians 6:13 इसलिये परमेश्वर के सारे हथियार बान्‍ध लो, कि तुम बुरे दिन में साम्हना कर सको, और सब कुछ पूरा कर के स्थिर रह सको। 
Ephesians 6:14 सो सत्य से अपनी कमर कसकर, और धार्मिकता की झिलम पहिन कर। 
Ephesians 6:15 और पांवों में मेल के सुसमाचार की तैयारी के जूते पहिन कर। 
Ephesians 6:16 और उन सब के साथ विश्वास की ढाल ले कर स्थिर रहो जिस से तुम उस दुष्‍ट के सब जलते हुए तीरों को बुझा सको। 
Ephesians 6:17 और उद्धार का टोप, और आत्मा की तलवार जो परमेश्वर का वचन है, ले लो। 
Ephesians 6:18 और हर समय और हर प्रकार से आत्मा में प्रार्थना, और बिनती करते रहो, और इसी लिये जागते रहो, कि सब पवित्र लोगों के लिये लगातार बिनती किया करो। 
Ephesians 6:19 और मेरे लिये भी, कि मुझे बोलने के समय ऐसा प्रबल वचन दिया जाए, कि मैं हियाव से सुसमाचार का भेद बता सकूं जिस के लिये मैं जंजीर से जकड़ा हुआ राजदूत हूं। 
Ephesians 6:20 और यह भी कि मैं उस के विषय में जैसा मुझे चाहिए हियाव से बोलूं।

एक साल में बाइबल: 
  • यहेजकेल 1-3