बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Friday, August 7, 2015

सेवक


   पिछली गर्मियों में हमारे चर्च ने एक जवान व्यक्ति, कालेब, को अपना एक कर्मचारी नियुक्त किया। कालेब ने बताया कि कैसे उसकी परवरिश मध्य-अमेरिका के एक छोटे से देश कोस्टा-रीका में हुई जहाँ उसका परिवार मसीही सेवकाई में लगा हुआ था। अपने बारे में बताते हुए कालेब ने परमेश्वर के वचन बाइबल में 2 तिमुथियुस 3:14-17 पर थोड़ा मनन किया। उसने बताया कि कैसे बचपन से ही उसने बाइबल को जाना था, उसके माता-पिता ने बाइबल की सच्चाईयों को उसे सिखाया था जो उसे "...मसीह पर विश्वास करने से उद्धार प्राप्त करने के लिये बुद्धिमान बना सकता है" (2 तिमुथियुस 3:15)। उसने यह बताया कि बड़े होकर उसके पास्टर बनने की तैयारी बचपन से ही आरंभ हो गई थी।

   हमारी चर्च मण्डली को उसके माता-पिता से वीडियो-संपर्क द्वारा मुलाकात और बातचीत करने का भी अवसर मिला। उस बातचीत में कालेब के पिता ने अपने पुत्र को प्रभु यीशु द्वारा मरकुस 10:45 में प्रयुक्त शब्दों से प्रोत्साहित किया कि वह परिवार के आदर्श-वाक्य, "हम सेवा लेने नहीं, सेवा देने वाले हैं" को कभी ना भूले, सदा उसे निभाता रहे। हमारे लिए यह समझ पाना कि यह जवान मसीही विश्वास में इतना परिपक्व कैसे हो गया था, अब कोई कठिन कार्य नहीं था।

   जो बच्चे परमेश्वर ने हमें सौंपे हैं वे उसके द्वारा दिए गए बहुमूल्य उपहार हैं। अच्छी परवरिश और सही मसीही शिक्षाओं द्वारा मिली नींव उन्हें ऐसे परिपक्व मसीही विश्वासी बनने में सहायक होती है जो, सिद्ध और हर भले कार्य के तैयार हों (2 तिमुथियुस 3:17)। परमेश्वर की सहायता से, उसके वचन को आधार बनाकर, हम मसीही विश्वास की धरोहर नई पीढ़ी को सौंप सकते हैं जिससे वे भी प्रभु यीशु के समान सेवक बनकर उस विश्वास की ज़िम्मेदारी को निभाएं। - सिंडी हैस कैस्पर


बच्चे परमेश्वर द्वारा प्रदान किए गए भुमूल्य रत्न हैं; उन्हें मसीह यीशु के लिए चमकने के लिए तैयार करें।

क्योंकि मनुष्य का पुत्र इसलिये नहीं आया, कि उस की सेवा टहल की जाए, पर इसलिये आया, कि आप सेवा टहल करे, और बहुतों की छुड़ौती के लिये अपना प्राण दे। - मरकुस 10:45

बाइबल पाठ: 2 तिमुथियुस 3:14-17
2 Timothy 3:14 पर तू इन बातों पर जो तू ने सीखीं हैं और प्रतीति की थी, यह जानकर दृढ़ बना रह; कि तू ने उन्हें किन लोगों से सीखा था 
2 Timothy 3:15 और बालकपन से पवित्र शास्त्र तेरा जाना हुआ है, जो तुझे मसीह पर विश्वास करने से उद्धार प्राप्त करने के लिये बुद्धिमान बना सकता है। 
2 Timothy 3:16 हर एक पवित्रशास्‍त्र परमेश्वर की प्रेरणा से रचा गया है और उपदेश, और समझाने, और सुधारने, और धर्म की शिक्षा के लिये लाभदायक है। 
2 Timothy 3:17 ताकि परमेश्वर का जन सिद्ध बने, और हर एक भले काम के लिये तत्‍पर हो जाए।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 72-73
  • रोमियों 9:1-15