बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, August 31, 2015

वास्तविक सत्य


   कभी-कभी दादाजी की अटारी को साफ करना फायदेमंद रहता है। ओहायो प्रांत के एक व्यक्ति के लिए यह लाखों डॉलर का फायदा साबित हुआ, जब उसे अटारी की सफाई करते समय 100 वर्ष से भी अधिक पुराने बेसबॉल कार्ड्स का एक संकलन मिला, जो बहुत संभाल के रखा गया था और बिलकुल नए होने के समान दशा में था; मूल्यांकन करने वालों ने उन प्राचीन और असली कार्डों की कीमत 30 लाख डॉलर आंकी!

   उन पुराने कार्ड्स की इतनी अधिक कीमत आंके जाने के दो कारण थे, पहला यह कि वे बहुत अच्छे से संभाल के रखे गए थे और ज़रा भी खराब नहीं हुए थे, लेकिन इस से भी बढ़कर महत्वपूर्ण दूसरा कारण था - वे असली थे। यदि वे नकली होते तो फिर चाहे कितनी भी अच्छी तरह से रखे गए होते, उनकी कीमत ना के बराबर ही होती।

   यही बात मसीही विश्वास और परमेश्वर के वचन बाइबल के लिए भी सत्य है; प्रेरित पौलुस ने कुरिन्थ के मसीही विश्वासियों को लिखी अपनी पत्री में उन्हें कहा कि उनका प्रभु यीशु मसीह में विश्वास बिलकुल अर्थहीन और नकली होता यदि प्रभु यीशु मृतकों में से जी नहीं उठा होता। पौलुस के लिए यह कहना कि "और यदि मसीह भी नहीं जी उठा, तो हमारा प्रचार करना भी व्यर्थ है; और तुम्हारा विश्वास भी व्यर्थ है" (1 कुरिन्थियों 15:14); तथा यह कि, "और यदि मसीह नहीं जी उठा, तो तुम्हारा विश्वास व्यर्थ है; और तुम अब तक अपने पापों में फंसे हो" (1 कुरिन्थियों 15:17) बहुत साहस और दृढ़ विश्वास की बात थी।

   मसीही विश्वास इस एक सत्य पर आधारित है कि प्रभु यीशु मसीह क्रूस पर मारा गया और तीसरे दिन मृतकों में से जी भी उठा। परमेश्वर का धन्यवाद हो उन स्पष्ट प्रमाणों के लिए जो प्रभु यीशु के पुनरुत्थान को प्रमाणित करते हैं। क्योंकि यह वास्त्विक सत्य है, इसलिए हम ना केवल अपना वर्तमान वरन अपना अनन्तकाल का भविष्य भी बिलकुल निश्चिंत होकर इस बात के आधार पर टिका सकते हैं तथा परमेश्वर पर पूरी तरह से विश्वास रख कर उसपर पूरी तरह से भरोसा रख सकते हैं। - डेव ब्रैनन


केवल प्रभु परमेश्वर ही सच्चा एवं एकमात्र परमेश्वर है।

कि मसीह को दुख उठाना होगा, और वही सब से पहिले मरे हुओं में से जी उठ कर, हमारे लोगों में और अन्यजातियों में ज्योति का प्रचार करेगा। - प्रेरितों 26:23

बाइबल पाठ: 1 कुरिन्थियों 15:1-21
1 Corinthians 15:1 हे भाइयों, मैं तुम्हें वही सुसमाचार बताता हूं जो पहिले सुना चुका हूं, जिसे तुम ने अंगीकार भी किया था और जिस में तुम स्थिर भी हो। 
1 Corinthians 15:2 उसी के द्वारा तुम्हारा उद्धार भी होता है, यदि उस सुसमाचार को जो मैं ने तुम्हें सुनाया था स्मरण रखते हो; नहीं तो तुम्हारा विश्वास करना व्यर्थ हुआ। 
1 Corinthians 15:3 इसी कारण मैं ने सब से पहिले तुम्हें वही बात पहुंचा दी, जो मुझे पहुंची थी, कि पवित्र शास्त्र के वचन के अनुसार यीशु मसीह हमारे पापों के लिये मर गया। 
1 Corinthians 15:4 ओर गाड़ा गया; और पवित्र शास्त्र के अनुसार तीसरे दिन जी भी उठा। 
1 Corinthians 15:5 और कैफा को तब बारहों को दिखाई दिया। 
1 Corinthians 15:6 फिर पांच सौ से अधिक भाइयों को एक साथ दिखाई दिया, जिन में से बहुतेरे अब तक वर्तमान हैं पर कितने सो गए। 
1 Corinthians 15:7 फिर याकूब को दिखाई दिया तब सब प्रेरितों को दिखाई दिया। 
1 Corinthians 15:8 और सब के बाद मुझ को भी दिखाई दिया, जो मानो अधूरे दिनों का जन्मा हूं। 
1 Corinthians 15:9 क्योंकि मैं प्रेरितों में सब से छोटा हूं, वरन प्रेरित कहलाने के योग्य भी नहीं, क्योंकि मैं ने परमेश्वर की कलीसिया को सताया था। 
1 Corinthians 15:10 परन्तु मैं जो कुछ भी हूं, परमेश्वर के अनुग्रह से हूं: और उसका अनुग्रह जो मुझ पर हुआ, वह व्यर्थ नहीं हुआ परन्तु मैं ने उन सब से बढ़कर परिश्रम भी किया: तौभी यह मेरी ओर से नहीं हुआ परन्तु परमेश्वर के अनुग्रह से जो मुझ पर था। 
1 Corinthians 15:11 सो चाहे मैं हूं, चाहे वे हों, हम यही प्रचार करते हैं, और इसी पर तुम ने विश्वास भी किया।
1 Corinthians 15:12 सो जब कि मसीह का यह प्रचार किया जाता है, कि वह मरे हुओं में से जी उठा, तो तुम में से कितने क्योंकर कहते हैं, कि मरे हुओं का पुनरुत्थान है ही नहीं? 
1 Corinthians 15:13 यदि मरे हुओं का पुनरुत्थान ही नहीं, तो मसीह भी नहीं जी उठा। 
1 Corinthians 15:14 और यदि मसीह भी नहीं जी उठा, तो हमारा प्रचार करना भी व्यर्थ है; और तुम्हारा विश्वास भी व्यर्थ है। 
1 Corinthians 15:15 वरन हम परमेश्वर के झूठे गवाह ठहरे; क्योंकि हम ने परमेश्वर के विषय में यह गवाही दी कि उसने मसीह को जिला दिया यद्यपि नहीं जिलाया, यदि मरे हुए नहीं जी उठते। 
1 Corinthians 15:16 और यदि मुर्दे नहीं जी उठते, तो मसीह भी नहीं जी उठा। 
1 Corinthians 15:17 और यदि मसीह नहीं जी उठा, तो तुम्हारा विश्वास व्यर्थ है; और तुम अब तक अपने पापों में फंसे हो। 
1 Corinthians 15:18 वरन जो मसीह में सो गए हैं, वे भी नाश हुए। 
1 Corinthians 15:19 यदि हम केवल इसी जीवन में मसीह से आशा रखते हैं तो हम सब मनुष्यों से अधिक अभागे हैं। 
1 Corinthians 15:20 परन्तु सचमुच मसीह मुर्दों में से जी उठा है, और जो सो गए हैं, उन में पहिला फल हुआ। 
1 Corinthians 15:21 क्योंकि जब मनुष्य के द्वारा मृत्यु आई; तो मनुष्य ही के द्वारा मरे हुओं का पुनरुत्थान भी आया।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 132-134
  • 1 कुरिन्थियों 11:17-34