बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Friday, September 25, 2015

महत्वपूर्ण


   परमेश्वर के वचन बाइबल में लूका रचित सुसमाचार के तीसरे अध्याय में तत्कालीन समाज के सात प्रमुख तथा सामर्थी हस्तियों का उल्लेख है; रोमी शासक तिबिरियुस कैसर जो विशाल रोमी साम्राज्य में प्रजा के जीवन-मरण के पैसले लेने का अधिकार रखता था; पुन्तियुस पिलातुस, जो यहूदिया पर रोमी शासन का प्रतिनिधी था; हेरोद, फिलिप्पुस और लिसानियास अपने अपने क्षेत्रों में प्रजा पर नियंत्रण बना कर रखते थे; तथा हन्ना एवं कैफा जो महापुरोहित थे और अपनी धार्मिक पदवी की ताकत को गंभीरता से लेते हुए उसका पूरा प्रयोग करते थे।

   जबकि सत्ता की सामर्थ के ये सातों दलाल अपनी सामर्थ लोगों पर दिखाते रहते थे, लेकिन उन दिनों में "परमेश्वर का वचन जंगल में जकरयाह के पुत्र यूहन्ना के पास पहुंचा" (लूका 3:2)। भला इन सात ताकतवार और प्रभावशाली हाकिमों के सामने जंगल में रहने वाले इस अनजाने आदमी की क्या बिसात हो सकती थी? यूहन्ना नाम का यह अनजाना व्यक्ति "...पापों की क्षमा के लिये मन फिराव के बपतिस्मा का प्रचार करने..." (लूका 3:3) के द्वारा भला क्या हासिल कर सकता था? लेकिन फिर भी लोगों की बड़ी भीड़ यूहन्ना ही के पास चली आ रही थी, और लोग यह भी अटकलें लगा रहे थे कि कहीं यह यूहन्ना ही तो वह मसीहा नहीं जिसकी लंबे समय से प्रतीक्षा की जा रही थी (लूका 3:7,15)। लेकिन यूहन्ना ने लोगों को बताया, "...वह आनेवाला है, जो मुझ से शक्तिमान है; मैं तो इस योग्य भी नहीं, कि उसके जूतों का बन्ध खोल सकूं, वह तुम्हें पवित्र आत्मा और आग से बपतिस्मा देगा" (लूका 3:16)।

   यूहन्ना बप्तिसमा देने वाले का जीवन हमें दिखाता है कि परमेश्वर की दृष्टि में महत्वपूर्ण होने का क्या तात्पर्य है - वह जो परमेश्वर का आज्ञाकारी है, परमेश्वर के लिए उपयोगी है और अपनी ओर नहीं वरन प्रभु यीशु की ओर लोगों को इंगित करता है, आकर्षित करता है। - डेविड मैक्कैसलैंड


परमेश्वर को हमारा समर्पण हमारे जीवनों को परमेश्वर के लिए उपयोगी तथा महत्वपूर्ण बनाता है।

हे भाइयो, अपने बुलाए जाने को तो सोचो, कि न शरीर के अनुसार बहुत ज्ञानवान, और न बहुत सामर्थी, और न बहुत कुलीन बुलाए गए। परन्तु परमेश्वर ने जगत के मूर्खों को चुन लिया है, कि ज्ञान वालों को लज्ज़ित करे; और परमेश्वर ने जगत के निर्बलों को चुन लिया है, कि बलवानों को लज्ज़ित करे। - 1 कुरिन्थियों 1:26-27 

बाइबल पाठ: लूका 3:1-18
Luke 3:1 तिबिरियुस कैसर के राज्य के पंद्रहवें वर्ष में जब पुन्‍तियुस पीलातुस यहूदिया का हाकिम था, और गलील में हेरोदेस नाम चौथाई का इतूरैया, और त्रखोनीतिस में, उसका भाई फिलेप्पुस, और अबिलेने में लिसानियास चौथाई के राजा थे। 
Luke 3:2 और जब हन्ना और कैफा महायाजक थे, उस समय परमेश्वर का वचन जंगल में जकरयाह के पुत्र यूहन्ना के पास पहुंचा। 
Luke 3:3 और वह यरदन के आस पास के सारे देश में आकर, पापों की क्षमा के लिये मन फिराव के बपतिस्मा का प्रचार करने लगा। 
Luke 3:4 जैसे यशायाह भविष्यद्वक्ता के कहे हुए वचनों की पुस्‍तक में लिखा है, कि जंगल में एक पुकारने वाले का शब्द हो रहा है कि प्रभु का मार्ग तैयार करो, उस की सड़कें सीधी बनाओ। 
Luke 3:5 हर एक घाटी भर दी जाएगी, और हर एक पहाड़ और टीला नीचा किया जाएगा; और जो टेढ़ा है सीधा, और जो ऊंचा नीचा है वह चौरस मार्ग बनेगा। 
Luke 3:6 और हर प्राणी परमेश्वर के उद्धार को देखेगा।
Luke 3:7 जो भीड़ की भीड़ उस से बपतिस्मा लेने को निकल कर आती थी, उन से वह कहता था; हे सांप के बच्चों, तुम्हें किस ने जता दिया, कि आने वाले क्रोध से भागो। 
Luke 3:8 सो मन फिराव के योग्य फल लाओ: और अपने अपने मन में यह न सोचो, कि हमारा पिता इब्राहीम है; क्योंकि मैं तुम से कहता हूं, कि परमेश्वर इन पत्थरों से इब्राहीम के लिये सन्तान उत्पन्न कर सकता है। 
Luke 3:9 और अब भी कुल्हाड़ा पेड़ों की जड़ पर धरा है, इसलिये जो जो पेड़ अच्छा फल नहीं लाता, वह काटा और आग में झोंका जाता है। 
Luke 3:10 और लोगों ने उस से पूछा, तो हम क्या करें? 
Luke 3:11 उसने उन्हें उतर दिया, कि जिस के पास दो कुरते हों वह उसके साथ जिस के पास नहीं हैं बांट दे और जिस के पास भोजन हो, वह भी ऐसा ही करे। 
Luke 3:12 और महसूल लेने वाले भी बपतिस्मा लेने आए, और उस से पूछा, कि हे गुरू, हम क्या करें? 
Luke 3:13 उसने उन से कहा, जो तुम्हारे लिये ठहराया गया है, उस से अधिक न लेना। 
Luke 3:14 और सिपाहियों ने भी उस से यह पूछा, हम क्या करें? उसने उन से कहा, किसी पर उपद्रव न करना, और न झूठा दोष लगाना, और अपनी मजदूरी पर सन्‍तोष करना।
Luke 3:15 जब लोग आस लगाए हुए थे, और सब अपने अपने मन में यूहन्ना के विषय में विचार कर रहे थे, कि क्या यही मसीह तो नहीं है। 
Luke 3:16 तो यूहन्ना ने उन सब से उत्तर में कहा: कि मैं तो तुम्हें पानी से बपतिस्मा देता हूं, परन्तु वह आनेवाला है, जो मुझ से शक्तिमान है; मैं तो इस योग्य भी नहीं, कि उसके जूतों का बन्ध खोल सकूं, वह तुम्हें पवित्र आत्मा और आग से बपतिस्मा देगा। 
Luke 3:17 उसका सूप, उसके हाथ में है; और वह अपना खलिहान अच्छी तरह से साफ करेगा; और गेहूं को अपने खत्ते में इकट्ठा करेगा, परन्तु भूसी को उस आग में जो बुझने की नहीं जला देगा।
Luke 3:18 सो वह बहुत सी शिक्षा दे देकर लोगों को सुसमाचार सुनाता रहा।

एक साल में बाइबल: 
  • श्रेष्ठगीत 6-8
  • गलतियों 4