बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, June 11, 2016

ईमानदार


   एक कब्रिस्तान में एक दिन मैंने एक सुन्दर नक्काशी करी हुई कब्र पर एक अनूठा समाधि-लेख देखा; उस पर लिखा था " जे. हौलगेट: एक ईमानदार व्यक्ति"। मैं इस व्यक्ति हौलगेट या उसके जीवन के बारे में कुछ नहीं जानता, लेकिन जैसी सुन्दर उसकी कब्र बनाई गई थी उससे यही लगता है कि वह कोई समृद्ध व्यक्ति रहा होगा, और उसने अपने जीवनकाल में भरपूरी से प्राप्त किया होगा। लेकिन मृत्योपरांत उसके स्मारक पर उसके लिए केवल एक ही बात याद करी गई "एक ईमानदार व्यक्ति"। प्रगट है कि हौलगेट अपनी सभी उपलब्धियों से बढ़कर अपनी ईमानदारी के लिए जाना जाता था।

   युनानी दार्शनिक डायोजिनीस ने अपना जीवनकाल ईमानदारी की खोज में लगा दिया और अन्ततः इस निष्कर्ष पर पहुँचा कि कोई ईमानदार व्यक्ति मिल नहीं सकता। किसी भी युग में ईमानदार लोगों को खोज पाना कठिन कार्य रहा है, परन्तु ईमानदारी बहुत महत्वपूर्ण गुण है। खरे जीवन के लिए ईमानदारी सर्वोत्त्म नीति नहीं, वरन एकमात्र नीति है; ईमानदारी ही परमेश्वर की उपस्थिति में रहने और चलने वाले व्यक्ति की पहचान करवाती है। परमेश्वर के वचन बाइबल में दाऊद ने प्रश्न किया, "हे परमेश्वर तेरे तम्बू में कौन रहेगा? तेरे पवित्र पर्वत पर कौन बसने पाएगा?" (भजन 15:1); और फिर आगे इन प्रश्नों के उत्तर को भी लिखा।

   मैं अपने आप से पूछता हूँ: क्या मैं अपने जीवन की सभी बातों में विश्वासयोग्य एवं आदरणीय हूँ? क्या मेरे सभी शब्द सदा सच्चे ही होते हैं? क्या मैं सत्य को सप्रेम बोलता हूँ? क्या उन्हें प्रभावी बनाने के लिए या अपने स्वार्थ के लिए मैं तथ्यों को यदा-कदा तोड़-मरोड़ कर, या फिर बढ़ा-चढ़ाकर तो नहीं प्रस्तुत करता हूँ?

   यदि ऐसा है तो मुझे परमेश्वर की ओर संपूर्ण विश्वास के साथ फिरने और उससे क्षमा माँगने की आवश्यकता है; साथ ही उससे एक पूर्णत्या अच्छा और ईमानदार हृदय भी माँगना है जिस से ईमानदारी मेरे जीवन और चरित्र का एक अभिन्न अंग बन जाए। हमें यह कभी नहीं भूलना चाहिए कि, "...हे मेरे परमेश्वर! मैं जानता हूँ कि तू मन को जांचता है और सिधाई से प्रसन्न रहता है..." (1 इतिहास 29:17)।

   मुझे परमेश्वर के वचन बाइबल का आशवासन है कि जिसने मेरे जीवन में यह उत्त्म कार्य आरंभ किया है, वह इस कार्य को मेरे जीवन में पूरा भी करेगा (फिलिप्पियों 1:6)। - डेविड रोपर


ऐसा जीवन जीऐं कि जब लोग ईमानदारी और सत्यनिष्ठा के बारे में सोचें, 
तो उन्हें आपके जीवन तथा चरित्र का ध्यान आए।

और मुझे इस बात का भरोसा है, कि जिसने तुम में अच्छा काम आरम्भ किया है, वही उसे यीशु मसीह के दिन तक पूरा करेगा। - फिलिप्पियों 1:6

बाइबल पाठ: भजन 15
Psalms 15:1 हे परमेश्वर तेरे तम्बू में कौन रहेगा? तेरे पवित्र पर्वत पर कौन बसने पाएगा? 
Psalms 15:2 वह जो खराई से चलता और धर्म के काम करता है, और हृदय से सच बोलता है; 
Psalms 15:3 जो अपनी जीभ से निन्दा नहीं करता, और न अपने मित्र की बुराई करता, और न अपने पड़ोसी की निन्दा सुनता है; 
Psalms 15:4 वह जिसकी दृष्टि में निकम्मा मनुष्य तुच्छ है, और जो यहोवा के डरवैयों का आदर करता है, जो शपथ खाकर बदलता नहीं चाहे हानि उठानी पड़े; 
Psalms 15:5 जो अपना रूपया ब्याज पर नहीं देता, और निर्दोष की हानि करने के लिये घूस नहीं लेता है। जो कोई ऐसी चाल चलता है वह कभी न डगमगाएगा।

एक साल में बाइबल: 
  • एज़्रा 1-2
  • यूहन्ना 19:23-42