बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, October 19, 2016

बुनियाद


   मुझे विरासत में एक पुराना घर मिला था, और मैं उसे ठीक-ठाक करके पुनः उपयोग के योग्य बनवा रहा था। घर बनाने वाले ठेकेदार ने आकर मुझ से कहा, तुम्हारे लिए एक बुरी खबर है; "जब हमने घर के पिछले भाग को आपके दफतर के लिए ठीक करना आरंभ किया तो पता चला कि पिछले भाग का अधिकांश हिस्से की बुनियाद ना के बराबर है, और हमें वह सारा भाग तोड़कर, सही बुनियाद डालकर फिर से बनाना पड़ेगा।" मैंने मन ही मन इस अनेपक्षित नए खर्च का हिसाब जोड़ते हुए उससे पूछा, "क्या यह करना ज़रुरी है? क्या आप ऐसे ही उसकी मरम्मत नहीं कर सकते?" लेकिन ठेकेदार अडिग रहा, और बोला, "यदि हम सही गहराई तक नई बुनियाद नहीं बनाते हैं तो भवन-निर्माण अधिकारी स्वीकृति नहीं देगा। सही बुनियाद होना आवश्यक है।"

   सही बुनियाद एक स्थिर और स्थाई तथा किसी अल्पकालिक निर्माण के बीच का अन्तर है। प्रभु यीशु जानते थे कि चाहे बुनियाद दिखाई नहीं देती है, लेकिन घर की सामर्थ और स्थिरता के लिए वह अति महत्वपूर्ण होती है (मत्ती 7:24-25); विशेषकर घर को प्राकृतिक आपदाओं से सुरक्षित रखने के लिए। प्रभु यीशु यह भी जानते थे कि जिन लोगों से वे यह बातें कर रहे हैं, उनके मन कैसे हैं; वे लोग सरल तथा छोटा मार्ग चुन कर उस पर चलने, और कार्यों को आधा-अधूरा करके लक्ष्य प्राप्त करने के प्रयासों में रहते हैं।

   अन्य बुनियादें सरल और शीघ्र बन जाने वाली हो सकती हैं, लेकिन मसीही विश्वास के जीवन की सही बुनियाद प्रभु यीशु और परमेश्वर का वचन बाइबल है, जिस पर निर्माण करना सतत प्रयास और मेहनत माँगता है। लेकिन ऐसे बनाए गए विश्वास के जीवन ही हर संघर्ष और तूफान का सामना बिना कोई नुकसान उठाए कर सकते हैं, हर परिस्थिति में स्थिर खड़े रह सकते हैं। - मेरियन स्ट्राउड


बुद्धिमान व्यक्ति अपना जीवन चट्टान पर ही बनाते हैं।

क्योंकि उस नेव को छोड़ जो पड़ी है, और वह यीशु मसीह है कोई दूसरी नेव नहीं डाल सकता। - 1 कुरिन्थियों 3:11

बाइबल पाठ: मत्ती 7:24-29
Matthew 7:24 इसलिये जो कोई मेरी ये बातें सुनकर उन्हें मानता है वह उस बुद्धिमान मनुष्य की नाईं ठहरेगा जिसने अपना घर चट्टान पर बनाया। 
Matthew 7:25 और मेंह बरसा और बाढ़ें आईं, और आन्‍धियां चलीं, और उस घर पर टक्करें लगीं, परन्तु वह नहीं गिरा, क्योंकि उस की नेव चट्टान पर डाली गई थी। 
Matthew 7:26 परन्तु जो कोई मेरी ये बातें सुनता है और उन पर नहीं चलता वह उस निर्बुद्धि मनुष्य की नाईं ठहरेगा जिसने अपना घर बालू पर बनाया। 
Matthew 7:27 और मेंह बरसा, और बाढ़ें आईं, और आन्‍धियां चलीं, और उस घर पर टक्करें लगीं और वह गिरकर सत्यानाश हो गया।
Matthew 7:28 जब यीशु ये बातें कह चुका, तो ऐसा हुआ कि भीड़ उसके उपदेश से चकित हुई। 
Matthew 7:29 क्योंकि वह उन के शास्‍त्रियों के समान नहीं परन्तु अधिकारी की नाईं उन्हें उपदेश देता था। 

एक साल में बाइबल: 
  • यशायाह 56-58
  • 2 थिस्सलुनीकियों 2