बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, October 1, 2017

शंका


   एक बार मैं ट्रेन में बैठकर एक आवश्यक कार्य के लिए जा रहा था; मेरे मन में विचार उठने लगे कि क्या मैं सही ट्रेन में हूँ? मैं उस ओर ट्रेन से कभी गया नहीं था और मैंने चलने से पहले किसी से सहायता के लिए कुछ पूछा भी नहीं था। अन्ततः शंका और अनिश्चितता से अभिभूत होकर, मैं अगले स्टेशन पर उतर गया, लेकिन उतरने के बाद मुझे पता चला कि मैं वास्तव में सही ट्रेन में ही था।

   यह घटना मुझे स्मरण करवाती है कि कैसे शंका हम से हमारे विश्वास और शान्ति को चुरा सकती है। एक समय मैं अपने उध्दार की निश्चितता को लेकर असमंजस में था, उससे संघर्ष कर रहा था, परन्तु परमेश्वर ने इस असमंजस से निकलने में मेरी सहायता की। इसके पश्चात मैं प्रभु यीशु मसीह के प्रति अपने परिवर्तन की कहानी और अपने स्वर्ग जाने के आश्वासन को बाँट रहा था, तो किसी ने मुझ से पूछा, "आप इतने निश्चित कैसे हो सकते हैं कि आपने उध्दार पा लिया है और आप स्वर्ग जाएंगे ही?" मैंने तुरंत नम्रता के साथ उसे परमेश्वर के वचन बाइबल से वह पद दिखाया, परमेश्वर ने जिसका प्रयोग मेरे असमंजस को दूर करने के लिए किया था: "मैं ने तुम्हें, जो परमेश्वर के पुत्र के नाम पर विश्वास करते हो, इसलिये लिखा है; कि तुम जानो, कि अनन्त जीवन तुम्हारा है" (1 यूहन्ना 5:13)।

   परमेश्वर ने संसार के सभी मनुष्यों से प्रतिज्ञा की है कि उसके पुत्र प्रभु यीशु मसीह में लाए गए विश्वास के द्वारा हमें अनन्त जीवन दे दिया गया है: "परमेश्वर ने हमें अनन्त जीवन दिया है: और यह जीवन उसके पुत्र में है" (पद 11)। परमेश्वर का यह अटल आश्वासन हमारे विश्वास को चोखा करता है, जब हम निराश होते हैं तो हमें उभारता है, और शंका के समय में हमें साहस प्रदान करता है। - लॉरेंस दरमानी


परमेश्वर की प्रतिज्ञाओं को स्मरण करने से शंका मिट जाती है।

परन्तु ये इसलिये लिखे गए हैं, कि तुम विश्वास करो, कि यीशु ही परमेश्वर का पुत्र मसीह है: और विश्वास कर के उसके नाम से जीवन पाओ। - यूहन्ना 20:31

बाइबल पाठ: 1 यूहन्ना 5:9-13
1 John 5:9 जब हम मनुष्यों की गवाही मान लेते हैं, तो परमेश्वर की गवाही तो उस से बढ़कर है; और परमेश्वर की गवाही यह है, कि उसने अपने पुत्र के विषय में गवाही दी है। 
1 John 5:10 जो परमेश्वर के पुत्र पर विश्वास करता है, वह अपने ही में गवाही रखता है; जिसने परमेश्वर की प्रतीति नहीं की, उसने उसे झूठा ठहराया; क्योंकि उसने उस गवाही पर विश्वास नहीं किया, जो परमेश्वर ने अपने पुत्र के विषय में दी है। 
1 John 5:11 और वह गवाही यह है, कि परमेश्वर ने हमें अनन्त जीवन दिया है: और यह जीवन उसके पुत्र में है। 
1 John 5:12 जिस के पास पुत्र है, उसके पास जीवन है; और जिस के पास परमेश्वर का पुत्र नहीं, उसके पास जीवन भी नहीं है।
1 John 5:13 मैं ने तुम्हें, जो परमेश्वर के पुत्र के नाम पर विश्वास करते हो, इसलिये लिखा है; कि तुम जानो, कि अनन्त जीवन तुम्हारा है।

एक साल में बाइबल: 
  • यशायाह 11-13
  • इफिसियों 4