बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, November 7, 2018

कठिन पहाड़



      इडाहो में हमारे घर के उत्तर दिशा में पहाड़ हैं, और उनकी एक चोटी, जगहैंडल पीक के पास एक हिम झील है। उस झील तक का मार्ग एक बहुत कठिन मार्ग है, जो खड़ी चढ़ाइयों और चट्टानों तथा पहाड़ के किनारे के संकरे रास्तों से होकर जाता है। यह बहुत कठिन चढ़ाई का मार्ग है।

      परन्तु इस कठिन चढ़ाई के आरंभ होने से ठीक पहले एक निर्मल पानी का नाला है जो मुलायम और छोटी वनस्पति से भरी धरती में से निकलता है, और हरे-भरे मैदान से होकर बहता है। यह एक शान्त एवं मनोरम स्थान है जहाँ पर चढ़ाई चढ़ने से पहले विश्राम किया जा सकता है, ठंडा पानी पीया जा सकता है और यात्री आने वाली कठिनाई के लिए तैयार हो सकते हैं।

      मसीही जीवन पर लिखी गई जौन बनयन की विख्यात कृति, The Pilgrims Progress में “मसीही विश्वासी” “कठिनाई पर्वत” की जड़ पर पहुंचता है, जिसकी कठिन चढ़ाई को चढ़कर उसे जाना है। उसके लिए वह चढ़ाई जहाँ से आरंभ होती है वहाँ, “निर्मल जल का एक सोता है...मसीही विश्वासी उसपर जाकर वहाँ से जल पीता है, अपने आप को तरोताज़ा करता है, और फिर उस कठिन चढ़ाई पर चढ़ना आरंभ करता है।” यह मसीही जीवन में आने वाली कठिनाईयों को पार करने के लिए मिलने वाली परमेश्वर की सामर्थ्य एवं सहायता का रूपक है।

      हो सकता है कि आज आपके जीवन में भी कोई कठिनाई, कोई पहाड़ हो, और आपको यह चुनौती आपके सहने की सीमा से बाहर लग रही हो। उस चुनौती का सामना करने से पहले, सामर्थ्य तथा तरोताज़गी के सोते, प्रभु परमेश्वर के साथ कुछ समय बिताएं। अपनी समस्त कमजोरी, थकान, असहायता, भय और शंका के साथ उसके पास आएँ, उन्हें उसे सौंप दें, और उसकी सामर्थ्य, बल, और बुद्धिमता – उसके वचन बाइबल के निर्मल जल में से पीकर तृप्त और तरोताज़ा हों। जब आप उसे समर्पित होकर, उसे अपने जीवन का आधार और मार्गदर्शक बना लेंगे, तब प्रभु परमेश्वर, जो आपकी सभी परिस्थितियों को भली-भांति जानता है, वह आपको शान्ति, सांत्वना, आत्मिक बल को भरपूरी से उपलब्ध करवाएगा। वह आपको आपके कठिन पहाड़ पर चढ़ने और पार होने के लिए सामर्थ्य और मार्गदर्शन देगा, आपकी सहायता करेगा। - डेविड रोपर


वह जो सब पर शासन करता है...
उसने मसीही विश्वासी को अपने मार्ग पर आगे बढ़ने के लिए 
बलवंत और सामर्थी किया। - जौन बनयन, The Pilgrims Progress

और मसीह के उस प्रेम को जान सको जो ज्ञान से परे है, कि तुम परमेश्वर की सारी भरपूरी तक परिपूर्ण हो जाओ। अब जो ऐसा सामर्थी है, कि हमारी बिनती और समझ से कहीं अधिक काम कर सकता है, उस सामर्थ के अनुसार जो हम में कार्य करता है – इफिसियों 3:19-20

बाइबल पाठ: भजन 110
Psalms 110:1 मेरे प्रभु से यहोवा की वाणी यह है, कि तू मेरे दाहिने हाथ बैठ, जब तक मैं तेरे शत्रुओं को तेरे चरणों की चौकी न कर दूं।
Psalms 110:2 तेरे पराक्रम का राजदण्ड यहोवा सिय्योन से बढ़ाएगा। तू अपने शत्रुओं के बीच में शासन कर।
Psalms 110:3 तेरी प्रजा के लोग तेरे पराक्रम के दिन स्वेच्छाबलि बनते हैं; तेरे जवान लोग पवित्रता से शोभायमान, और भोर के गर्भ से जन्मी हुई ओस के समान तेरे पास हैं।
Psalms 110:4 यहोवा ने शपथ खाई और न पछताएगा, कि तू मेल्कीसेदेक की रीति पर सर्वदा का याजक है।
Psalms 110:5 प्रभु तेरी दाहिनी ओर हो कर अपने क्रोध के दिन राजाओं को चूर कर देगा।
Psalms 110:6 वह जाति जाति में न्याय चुकाएगा, रणभूमि लोथों से भर जाएगी; वह लम्बे चौड़े देश के प्रधान को चूर चूर कर देगा।
Psalms 110:7 वह मार्ग में चलता हुआ नदी का जल पीएगा इस कारण वह सिर को ऊंचा करेगा।


एक साल में बाइबल: 
  • यिर्मयाह 40-42
  • इब्रानियों 4