बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, January 29, 2019

अनन्त



      जेरलीन टैली की मृत्यु जून 2015 में हुई, वह उस समय सँसार का सबसे वृद्ध व्यक्ति था – 116 वर्ष की आयु का। यरूशलेम शहर ने 1995 में अपना 3000वां जन्मदिन मनाया। मनुष्य के लिए 116 वर्ष की आयु बहुत वृद्ध होना है, और एक शहर के लिए 3000 वर्ष का होना बहुत प्राचीन होना है; परन्तु ऐसे भी पेड़ हैं जो इससे भी पुरातन हैं। कैलिफोर्निया के एक इलाके में स्थित एक देवदार के वृक्ष की आयु 4800 वर्ष की आंकी गई है, जिससे वह कुलपति अब्राहम से भी 800 वर्ष पुराना ठहरता है!

      जब यहूदी धर्म के अगुवों ने प्रभु यीशु मसीह को उसकी पहचान के विषय उसे चुनौती दी, तो “यीशु ने उन से कहा; मैं तुम से सच सच कहता हूं; कि पहिले इसके कि इब्राहीम उत्पन्न हुआ मैं हूं” (यूहन्ना  8:58)। ऐसा कहकर उसने यह दावा किया कि वह अब्राहम से भी पहले से है। उसके इस दृढ़ कथन से उसे चुनौती देने वाले हतप्रभ रह गए और उन्होंने उसे पत्थरवाह करके मारने का प्रयास किया, क्योंकि वे समझ गए कि वह अपनी शारीरिक आयु की बात नहीं कर रहा था परन्तु अपने आप को अनन्त और परमेश्वर के प्राचीन नाम “मैं हूँ” बता कर स्वयँ को परमेश्वर जता रहा था (देखें निर्गमन 3:14)। परन्तु त्रिएक परमेश्वर का अंग होने के नाते प्रभु यीशु वैध रूप से यह दावा कर सकता था।

      प्रभु यीशु ने यूहन्ना 17:3 में प्रार्थना की “और अनन्त जीवन यह है, कि वे तुझ अद्वैत सच्चे परमेश्वर को और यीशु मसीह को, जिसे तू ने भेजा है, जाने” उस अनन्त परमेश्वर ने समय में प्रवेश किया जिससे हमें अनन्त जीवन का उपहार दे सके। उसने अपना यह उद्देश्य हमारे स्थान पर मृत्यु दण्ड सहकर, और फिर मृतकों में से पुनरुत्थान के द्वारा, पूर्ण और प्रमाणित किया। उसके इस बलिदान के कारण हम उसके साथ उस भविष्य की बाट जोह रहे हैं जहाँ समय की कोई सीमा नहीं होगी, हम अनन्तकाल तक उसके साथ बने रहेंगे।

      हमारा प्रभु परमेश्वर अनन्त है, वह हमें भी अनन्त बना रहा है। - बिल क्राउडर


मसीह में सब वस्तुएँ स्थिर रहती हैं। - कुलुस्सियों 1:17

बाइबल पाठ: यूहन्ना 8:48-59
John 8:48 यह सुन यहूदियों ने उस से कहा; क्या हम ठीक नहीं कहते, कि तू सामरी है, और तुझ में दुष्टात्मा है?
John 8:49 यीशु ने उत्तर दिया, कि मुझ में दुष्टात्मा नहीं; परन्तु मैं अपने पिता का आदर करता हूं, और तुम मेरा निरादर करते हो।
John 8:50 परन्तु मैं अपनी प्रतिष्‍ठा नहीं चाहता, हां, एक तो है जो चाहता है, और न्याय करता है।
John 8:51 मैं तुम से सच सच कहता हूं, कि यदि कोई व्यक्ति मेरे वचन पर चलेगा, तो वह अनन्त काल तक मृत्यु को न देखेगा।
John 8:52 यहूदियों ने उस से कहा, कि अब हम ने जान लिया कि तुझ में दुष्टात्मा है: इब्राहीम मर गया, और भविष्यद्वक्ता भी मर गए हैं और तू कहता है, कि यदि कोई मेरे वचन पर चलेगा तो वह अनन्त काल तक मृत्यु का स्‍वाद न चखेगा।
John 8:53 हमारा पिता इब्राहीम तो मर गया, क्या तू उस से बड़ा है? और भविष्यद्वक्ता भी मर गए, तू अपने आप को क्या ठहराता है।
John 8:54 यीशु ने उत्तर दिया; यदि मैं आप अपनी महिमा करूं, तो मेरी महिमा कुछ नहीं, परन्तु मेरी महिमा करनेवाला मेरा पिता है, जिसे तुम कहते हो, कि वह हमारा परमेश्वर है।
John 8:55 और तुम ने तो उसे नहीं जाना: परन्तु मैं उसे जानता हूं; और यदि कहूं कि मैं उसे नहीं जानता, तो मैं तुम्हारे समान झूठा ठहरूंगा: परन्तु मैं उसे जानता हूं, और उसके वचन पर चलता हूं।
John 8:56 तुम्हारा पिता इब्राहीम मेरा दिन देखने की आशा से बहुत मगन था; और उसने देखा, और आनन्द किया।
John 8:57 यहूदियों ने उस से कहा, अब तक तू पचास वर्ष का नहीं; फिर भी तू ने इब्राहीम को देखा है?
John 8:58 यीशु ने उन से कहा; मैं तुम से सच सच कहता हूं; कि पहिले इसके कि इब्राहीम उत्पन्न हुआ मैं हूं।
John 8:59 तब उन्होंने उसे मारने के लिये पत्थर उठाए, परन्तु यीशु छिपकर मन्दिर से निकल गया।
                                                                                                                                                        
एक साल में बाइबल: 
  • निर्गमन 21-22
  • मत्ती 19