बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, June 24, 2019

सेवक



      हमारे चर्च में नए अगुवों को नियुक्त करने का समय आ गया था। उन नए अगुवों के द्वारा अपने दायित्व का सेवक-अगुवा होकर निर्वाह करने के चिन्ह के रूप में उन सभी ने यादगार पाँव-धोने की विधि में भाग लिया; पास्टर सहित प्रत्येक अगुवे ने एक दूसरे के पाँव धोए, और चर्च की मण्डली उन्हें ऐसा करते हुए देख रही थी।

      उस दिन जो उन्होंने किया, वह परमेश्वर के वचन बाइबल में प्रभु यीशु द्वारा किए गए कार्य पर आधारित था, जिसे हम यूहन्ना 13 अध्याय में लिखा गया पाते हैं। प्रभु द्वारा यह बात उस समय की गई जब वह अपने शिष्यों के साथ “अंतिम भोज” में भाग ले रहा था, जहाँ प्रभु यीशु ने “प्रभु-भोज” की स्थापना की थी। लिखा हुआ है कि, “भोजन पर से उठ कर अपने कपड़े उतार दिए, और अंगोछा ले कर अपनी कमर बान्‍धी। तब बरतन में पानी भरकर चेलों के पांव धोने और जिस अंगोछे से उस की कमर बन्‍धी थी उसी से पोंछने लगा” (यूहन्ना 13:4-5)। बाद में जब प्रभु यीशु इस बात को अपने शिष्यों को समझा रहे थे, तो उन्होंने कहा, “मैं तुम से सच सच कहता हूं, दास अपने स्‍वामी से बड़ा नहीं; और न भेजा हुआ अपने भेजने वाले से” (पद 16)। प्रभु ने यह भी कहा, “पर मैं तुम्हारे बीच में सेवक के समान हूं” (लूका 22:27)।

      यदि यह पाँव धोना प्रभु यीशु की गरिमा को निम्न करने वाला कार्य नहीं है, तो हम में से किसे के लिए भी किसी दूसरे की सेवा करना कोई निम्न कार्य नहीं है। प्रभु यीशु ने हम सब के लिए कितना अद्भुत उदाहरण छोड़ा है; यह वास्तविकता है कि जैसा प्रभु ने स्वयँ कहा, “क्योंकि मनुष्य का पुत्र इसलिये नहीं आया, कि उस की सेवा टहल की जाए, पर इसलिये आया, कि आप सेवा टहल करे, और बहुतों की छुड़ौती के लिये अपना प्राण दे” (मरकुस 10:45)। प्रभु ने हमें अपने उदाहरण के द्वारा दिखाया कि अगुवा और सेवक होना क्या होता है। प्रभु यीशु ही हैं, जो अपने अनुयायियों के अगुवे ही नहीं, वरन उनके सेवक भी हैं। - डेव ब्रैनन


यदि मसीह यीशु के लिए किया जाए, तो कोई कार्य छोटा नहीं है।

उसने[यीशु] उन से कहा, अन्यजातियों के राजा उन पर प्रभुता करते हैं; और जो उन पर अधिकार रखते हैं, वे उपकारक कहलाते हैं। परन्तु तुम ऐसे न होना; वरन जो तुम में बड़ा है, वह छोटे के समान और जो प्रधान है, वह सेवक के समान बने। - लूका 22:25-26

बाइबल पाठ: यूहन्ना 13:3-17
John 13:3 यीशु ने यह जानकर कि पिता ने सब कुछ मेरे हाथ में कर दिया है और मैं परमेश्वर के पास से आया हूं, और परमेश्वर के पास जाता हूं।
John 13:4 भोजन पर से उठ कर अपने कपड़े उतार दिए, और अंगोछा ले कर अपनी कमर बान्‍धी।
John 13:5 तब बरतन में पानी भरकर चेलों के पांव धोने और जिस अंगोछे से उस की कमर बन्‍धी थी उसी से पोंछने लगा।
John 13:6 जब वह शमौन पतरस के पास आया: तब उसने उस से कहा, हे प्रभु,
John 13:7 क्या तू मेरे पांव धोता है? यीशु ने उसको उत्तर दिया, कि जो मैं करता हूं, तू अब नहीं जानता, परन्तु इस के बाद समझेगा।
John 13:8 पतरस ने उस से कहा, तू मेरे पांव कभी न धोने पाएगा: यह सुनकर यीशु ने उस से कहा, यदि मैं तुझे न धोऊं, तो मेरे साथ तेरा कुछ भी साझा नहीं।
John 13:9 शमौन पतरस ने उस से कहा, हे प्रभु, तो मेरे पांव ही नहीं, वरन हाथ और सिर भी धो दे।
John 13:10 यीशु ने उस से कहा, जो नहा चुका है, उसे पांव के सिवा और कुछ धोने का प्रयोजन नहीं; परन्तु वह बिलकुल शुद्ध है: और तुम शुद्ध हो; परन्तु सब के सब नहीं।
John 13:11 वह तो अपने पकड़वाने वाले को जानता था इसी लिये उसने कहा, तुम सब के सब शुद्ध नहीं।
John 13:12 जब वह उन के पांव धो चुका और अपने कपड़े पहिनकर फिर बैठ गया तो उन से कहने लगा, क्या तुम समझे कि मैं ने तुम्हारे साथ क्या किया?
John 13:13 तुम मुझे गुरू, और प्रभु, कहते हो, और भला कहते हो, क्योंकि मैं वही हूं।
John 13:14 यदि मैं ने प्रभु और गुरू हो कर तुम्हारे पांव धोए; तो तुम्हें भी एक दुसरे के पांव धोना चाहिए।
John 13:15 क्योंकि मैं ने तुम्हें नमूना दिखा दिया है, कि जैसा मैं ने तुम्हारे साथ किया है, तुम भी वैसा ही किया करो।
John 13:16 मैं तुम से सच सच कहता हूं, दास अपने स्‍वामी से बड़ा नहीं; और न भेजा हुआ अपने भेजने वाले से।
John 13:17 तुम तो ये बातें जानते हो, और यदि उन पर चलो, तो धन्य हो।

एक साल में बाइबल: 
  • अय्यूब 1-2
  • प्रेरितों 7:22-43