बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, February 2, 2020

अवसर



      अनेकों लोगों के समान मैं भी व्यायाम करने से कतराता हूँ। इसलिए हाल ही में मैंने अपने आप को व्यायाम के लिए प्रोत्साहित करने के लिए पेडोमीटर नामक एक उपकरण ले लिया, जो मेरे द्वारा कदमों के प्रयोग की गिनती करता रहता है। यह एक साधारण सा उपकरण है, परन्तु इस छोटे से उपकरण ने मेरे जीवन में जो परिवर्तन किया है वह अद्भुत है। अब सोफा से उतरकर कुछ काम करना हो तो उसके लिए खिसियाने और कुड़कुड़ाने के स्थान पर मैं उसे कुछ और क़दमों की गिनती बढ़ाने का अवसर देखता हूँ। उबाऊ और साधारण से काम करना, जैसे कि किसी के लिए एक ग्लास पानी लाकर देना, अब मेरे लिए अवसर हैं एक बड़े लक्ष्य तक पहुँचने में योगदान के लिए। मेरे पेडोमीटर ने मेरे दृष्टिकोण और उत्साह को बदल दिया है। अब मैं उन अवसरों की तलाश में रहता हूं जिनसे मुझे कदमों की गिनती बढ़ाने का कारण मिलेगा।

      क्या हमारा मसीही जीवन भी कुछ इसी के समान नहीं है? प्रतिदिन हमारे पास लोगों से मिलने, उनसे प्रेम करने, उनकी सेवा करने के अवसर होते हैं, जैसा कि परमेश्वर के वचन बाइबल में, कुलुस्सियों 4:5 में प्रेरित पौलुस कहता है। परन्तु क्या मैं सदा उन अवसरों के प्रति सजग रहता हूँ? क्या मैं साधारण सी बातों में भी लोगों को प्रोत्साहित करने के अवसर ढूँढ़ता हूँ? मैं जितने भी लोगों के संपर्क में आता हूँ, परमेश्वर उन सभी के जीवनों में भी कार्यरत है, वे चाहे मेरे परिवार जन हों या फिर किसी दुकान में काम करने वाला कोई कर्मचारी हो। प्रत्येक संपर्क मेरे लिए एक अवसर है इसका ध्यान करने का कि ऐसे में प्रभु परमेश्वर क्या करता – चाहे वह एक “छोटी” सी बात, जैसे कि रेस्टोरां के वेटर से उसका हाल-चाल पूछना ही क्यों न हो।

      कौन जाने कि ऐसे अवसरों में परमेश्वर क्या कार्य कर जाए, जब हम उन अवसरों के प्रति सचेत रहते हैं, जो वह हमारी ओर भेजता है। - एडम होल्ज़

किसी की सेवा करने के प्रत्येक अवसर का सदुपयोग करें।

पहुनाई करना न भूलना, क्योंकि इस के द्वारा कितनों ने अनजाने स्‍वर्गदूतों की पहुनाई की है। - इब्रानियों 13:2

बाइबल पाठ: कुलुस्सियों 4:1-6
Colossians 4:1 हे स्‍वामियों, अपने अपने दासों के साथ न्याय और ठीक ठीक व्यवहार करो, यह समझकर कि स्वर्ग में तुम्हारा भी एक स्‍वामी है।
Colossians 4:2 प्रार्थना में लगे रहो, और धन्यवाद के साथ उस में जागृत रहो।
Colossians 4:3 और इस के साथ ही साथ हमारे लिये भी प्रार्थना करते रहो, कि परमेश्वर हमारे लिये वचन सुनाने का ऐसा द्वार खोल दे, कि हम मसीह के उस भेद का वर्णन कर सकें जिस के कारण मैं कैद में हूं।
Colossians 4:4 और उसे ऐसा प्रगट करूं, जैसा मुझे करना उचित है।
Colossians 4:5 अवसर को बहुमूल्य समझ कर बाहर वालों के साथ बुद्धिमानी से बर्ताव करो।
Colossians 4:6 तुम्हारा वचन सदा अनुग्रह सहित और सलोना हो, कि तुम्हें हर मनुष्य को उचित रीति से उत्तर देना आ जाए।

एक साल में बाइबल: 
  • निर्गमन 29-30
  • मत्ती 21:23-46