बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, December 1, 2020

भरोसा

 

         जब प्रार्थना समूह के लोग अपने परिवार जनों और मित्रों के लिए, जो जीवन में किसी प्रकार की कोई चुनौती या संघर्ष का सामना कर रहे थे, प्रार्थना के विषय व्यक्त कर रहे थे तब डाईएन शान्ति के साथ उनकी बातें सुन रही थी। उसके परिवार का भी एक सदस्य था जो कई वर्षों से एक बुरी लत के साथ संघर्ष कर रहा था। परन्तु डाईएन ने अपने अनुरोध को व्यक्त नहीं किया। वह लोगों के चेहरे पर आने वाले भाव और उनके उन प्रश्नों तथा परामर्शों का सामना नहीं कर सकती थी जो सामने आने लगते थे, जब भी वह इस बात को उजागर करती थी। इसलिए उसे लगता था कि यह निवेदन न बताना ही अधिक भला है। औरों के लिए यह समझना बहुत कठिन होता था कि कोई कैसे मसीही विश्वासी भी हो सकता है और फिर भी प्रतिदिन अपने जीवन में बुरी लत के साथ संघर्ष कर सकता है।

         चाहे डाईएन ने समूह के साथ अपने निवेदन को साझा नहीं किया था, परन्तु फिर भी उसके साथ कुछ भरोसेमंद मित्र जन थे जिन्हें वह अपने साथ प्रार्थना करने के लिए कहती थी। साथ मिलकर वे लोग परमेश्वर से आग्रह करते थे कि उसके उस प्रिय जन को उसके उस बुरी लत के शक्तिशाली बंधन से मुक्त कर दे, जिससे वह मसीह में मिलने वाली स्वतंत्रता का अनुभव कर सके – और साथ ही परमेश्वर डाईएन को भी इसके लिए आवश्यक धैर्य और शान्ति को प्रदान करे। प्रार्थना करने के द्वारा उसने अपने प्रिय जन के साथ अपने संबंध में ढाढ़स और सामर्थ्य का अनुभव किया।

         हम में से अनेकों के पास ऐसे गंभीर और निरंतर बने हुए विषय होते हैं जिनके लिए की जा रही प्रार्थनाएँ अनुत्तरित जा रही हैं। परन्तु हम इस बात के प्रति आश्वस्त रह सकते हैं कि परमेश्वर को हमारी चिंता है और वह हमारी प्रार्थना के उन विषयों को सुनता तथा जानता है, तथा अपने समय, और इच्छा में सभी की भलाई के लिए उनके उत्तर भी देगा। परमेश्वर चाहता है कि हम उसके साथ निकटता से बने रहें, उसके साथ मिलकर चलते रहें, और “आशा में आनन्दित, क्लेश में स्थिर, तथा प्रार्थना में नित्य लगे रहें।”  हम उसपर अपना भरोसा बनाए रखें, क्योंकि वह उत्तर अवश्य देगा। - एलीसन कीडा

 

तो आओ; हम सच्चे मन, और पूरे विश्वास के साथ

और विवेक को दोष दूर करने के लिये हृदय पर छिड़काव ले कर

और देह को शुद्ध जल से धुलवा कर परमेश्वर के समीप जाएं। - इब्रानियों 10:22


इसलिये ढीले हाथों और निर्बल घुटनों को सीधे करो। और अपने पांवों के लिये सीधे मार्ग बनाओ, कि लंगड़ा भटक न जाए, पर भला चंगा हो जाए। - इब्रानियों 12:12-13

बाइबल पाठ: रोमियों 12:9-21

रोमियों 12:9 प्रेम निष्कपट हो; बुराई से घृणा करो; भलाई में लगे रहो।

रोमियों 12:10 भाईचारे के प्रेम से एक दूसरे पर दया रखो; परस्पर आदर करने में एक दूसरे से बढ़ चलो।

रोमियों 12:11 प्रयत्न करने में आलसी न हो; आत्मिक उन्माद में भरो रहो; प्रभु की सेवा करते रहो।

रोमियों 12:12 आशा में आनन्दित रहो; क्लेश में स्थिर रहो; प्रार्थना में नित्य लगे रहो।

रोमियों 12:13 पवित्र लोगों को जो कुछ अवश्य हो, उस में उन की सहायता करो; पहुनाई करने में लगे रहो।

रोमियों 12:14 अपने सताने वालों को आशीष दो; आशीष दो श्राप न दो।

रोमियों 12:15 आनन्द करने वालों के साथ आनन्द करो; और रोने वालों के साथ रोओ।

रोमियों 12:16 आपस में एक सा मन रखो; अभिमानी न हो; परन्तु दीनों के साथ संगति रखो; अपनी दृष्टि में बुद्धिमान न हो।

रोमियों 12:17 बुराई के बदले किसी से बुराई न करो; जो बातें सब लोगों के निकट भली हैं, उन की चिन्ता किया करो।

रोमियों 12:18 जहां तक हो सके, तुम अपने भरसक सब मनुष्यों के साथ मेल मिलाप रखो।

रोमियों 12:19 हे प्रियो अपना पलटा न लेना; परन्तु क्रोध को अवसर दो, क्योंकि लिखा है, पलटा लेना मेरा काम है, प्रभु कहता है मैं ही बदला दूंगा।

रोमियों 12:20 परन्तु यदि तेरा बैरी भूखा हो तो उसे खाना खिला; यदि प्यासा हो, तो उसे पानी पिला; क्योंकि ऐसा करने से तू उसके सिर पर आग के अंगारों का ढेर लगाएगा।

रोमियों 12:21 बुराई से न हारो परन्तु भलाई से बुराई का जीत लो।

 

एक साल में बाइबल: 

  • यहेजकेल 40-41
  • 2 पतरस 3

No comments:

Post a Comment