बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, July 1, 2020

गुण


     एक विशेष अवसर के उपलक्ष्य में, मेरे पति मुझे एक स्थानीय कलाकृतियों की दुकान पर ले गए, और मुझ से अपनी पसंद का कोई भी चित्र को चुन लेने के लिए कहा। मैंने एक छोटा चित्र, जिसमें एक जंगल में से होकर बहती हुई छोटी नदी को दिखाया गया था, चुन लिया। उस चित्र के अधिकाँश स्थान में वह नदी  दिखाई गई थी, और इस कारण आकाश का कुछ विशेष भाग दिखाई नहीं दे रहा था। परन्तु उस नदी में प्रतिबिंबित होती हुई बातें, सूर्य के स्थान, पेड़ों को चोटियों तक, और धुंधला से वातावरण, वस्तुस्थिति को स्पष्ट दिखा रही थीं। उस चित्र के आकाश को देखने के लिए उसे नीचे पानी के सतह पर देखना होता था।

     आत्मिक रीति से प्रभु यीशु उस नदी के समान हैं। जब हमें देखना होता है कि परमेश्वर का स्वरूप क्या है, तो हमें प्रभु यीशु को देखना है। परमेश्वर के वचन बाइबल में इब्रानियों के लेखक ने लिखा, कि प्रभु यीशु ही परमेश्वर के तत्व की छाप हैं (इब्रानियों 1:3)। यद्यपि हम बाइबल के सीधे कथनों, जैसे कि, “परमेश्वर प्रेम है” से भी परमेश्वर के बारे में सीख सकते हैं, परन्तु हम परमेश्वर के विषय अपनी समझ को और अधिक गहरा करते हैं, जब हम प्रभु यीशु में होकर परमेश्वर को हमारे समान समस्याओं का सामना करते और उन्हें प्रतिक्रियाएँ देते हुए देखते हैं। मानव रूप में परमेश्वर होने के नाते, प्रभु यीशु ने हमें परमेश्वर के विषय यह सिखाया है।

     अपनी परीक्षा के समय में प्रभु यीशु ने परमेश्वर की पवित्रता को दिखाया। आत्मिक अन्धकार का सामना करने में, उन्होंने परमेश्वर के अधिकार को दर्शाया। लोगों की समस्याओं का सामना करते हुए, उन्होंने परमेश्वर की बुद्धिमत्ता दिखाई। अपनी मृत्यु में उन्होंने परमेश्वर के प्रेम को प्रगट किया।

     यद्यपि हम परमेश्वर के बारे में सब कुछ तो नहीं समझ सकते हैं – क्योंकि हम अपनी मानव बुद्धि में सीमित हैं और वह असीम है – परन्तु प्रभु यीशु में हम परमेश्वर के गुणों को देख और जान सकते हैं। - जेनिफर बेनसन शुल्टज़

 

प्रभु यीशु का अवलोकन हमें परमेश्वर के गुण बताता है।


वह तो अदृश्य परमेश्वर का प्रतिरूप और सारी सृष्‍टि में पहिलौठा है। - कुलुस्सियों 1:15

बाइबल पाठ: इब्रानियों 1:1-10

इब्रानियों 1:1 पूर्व युग में परमेश्वर ने बाप दादों से थोड़ा थोड़ा कर के और भांति भांति से भविष्यद्वक्ताओं के द्वारा बातें कर के।

इब्रानियों 1:2 इन दिनों के अन्‍त में हम से पुत्र के द्वारा बातें की, जिसे उसने सारी वस्‍तुओं का वारिस ठहराया और उसी के द्वारा उसने सारी सृष्‍टि रची है।

इब्रानियों 1:3 वह उस की महिमा का प्रकाश, और उसके तत्‍व की छाप है, और सब वस्‍तुओं को अपनी सामर्थ्य के वचन से संभालता है: वह पापों को धोकर ऊंचे स्थानों पर महामहिमन के दाहिने जा बैठा।

इब्रानियों 1:4 और स्‍वर्गदूतों से उतना ही उत्तम ठहरा, जितना उसने उन से बड़े पद का वारिस हो कर उत्तम नाम पाया।

इब्रानियों 1:5 क्योंकि स्‍वर्गदूतों में से उसने कब किसी से कहा, कि तू मेरा पुत्र है, आज तू मुझ से उत्पन्न हुआ? और फिर यह, कि मैं उसका पिता होऊँगा, और वह मेरा पुत्र होगा?

इब्रानियों 1:6 और जब पहिलौठे को जगत में फिर लाता है, तो कहता है, कि परमेश्वर के सब स्वर्गदूत उसे दण्‍डवत करें।

इब्रानियों 1:7 और स्‍वर्गदूतों के विषय में यह कहता है, कि वह अपने दूतों को पवन, और अपने सेवकों को धधकती आग बनाता है।

इब्रानियों 1:8 परन्तु पुत्र से कहता है, कि हे परमेश्वर तेरा सिंहासन युगानुयुग रहेगा: तेरे राज्य का राजदण्‍ड न्याय का राजदण्‍ड है।

इब्रानियों 1:9 तू ने धर्म से प्रेम और अधर्म से बैर रखा; इस कारण परमेश्वर तेरे परमेश्वर ने तेरे साथियों से बढ़कर हर्ष रूपी तेल से तुझे अभिषेक किया।

इब्रानियों 1:10 और यह कि, हे प्रभु, आदि में तू ने पृथ्वी की नेव डाली, और स्वर्ग तेरे हाथों की कारीगरी है।     

 

एक साल में बाइबल: 

  • अय्यूब 20-21
  • प्रेरितों 10:24-48


No comments:

Post a Comment