बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, August 29, 2020

प्रेमी पिता

 

         अपनी युवावस्था में, जैसा कि इस आयु में सामान्यतः होता है, मैं भी अपनी माँ की आज्ञाओं के विरुद्ध विद्रोह करने के समय से निकल चुकी हूँ। मेरा पिता का देहांत मेरे किशोरावस्था में प्रवेश करने से पहले ही हो चुका था, इसलिए मेरी माँ को अकेले ही मेरी परवरिश करनी पड़ी और मेरी उस आयु की बातों को संभालना पड़ा। मुझे ध्यान है कि मैं समझती थी कि माँ नहीं चाहती कि मैं कुछ मज़े लूँ – और यह भी कि शायद वह मुझसे प्रेम भी नहीं करती थी – क्योंकि वह अकसर मेरी बातों के लिए मना कर देती थी। लेकिन अब मैं समझ सकती हूँ कि जिन बातों के लिए वो मना करती थीं, वो बातें मेरे लिए अच्छी नहीं थीं, और वो मना भी इसीलिए करती थीं क्योंकि वो मुझसे प्रेम करती थीं।

         परमेश्वर के वचन बाइबल में इस्राएलियों ने भी उनकी बेबीलोन की बंधुवाई को लेकर उनके प्रति परमेश्वर के प्रेम पर प्रश्न किए। परन्तु उनकी वह बंधुवाई परमेश्वर द्वारा उनके निरंतर उसके विरोध में होकर चलने और कार्य करने के लिए थी, जिससे वे इस्राएली शिक्षा ले सकें। अब, परमेश्वर ने उन्हें समझाने के लिए अपने भविष्यद्वक्ता मलाकी को उनके पास भेजा, और उसके द्वारा परमेश्वर की ओर से उन इस्राएलियों से कहे गए आरंभिक शब्द थे, मैंने तुमसे प्रेम किया है” (मलाकी 1:2)। इस्राएलियों ने ताना मारने के भाव के साथ पूछा कि कैसे परमेश्वर उनसे प्रेम करता है; उनके कहने का अभिप्राय था, “अच्छा! सच में?” और परमेश्वर ने मलाकी में होकर उन्हें स्मरण करवाया कि उसने उन लोगों को एदोमियों के ऊपर चुनने के द्वारा उनके प्रति अपने प्रेम को दिखाया है।

         हम सभी जीवन में कठिन समयों से होकर निकलते हैं। उन कठिन समयों में हमारे सामने परमेश्वर और उसके प्रेम पर संदेह करने का प्रलोभन होता है। ऐसे में हम उन समयों को स्मरण करें जब परमेश्वर ने हमारे प्रति अपने कभी कम न होने और कभी न बदलने वाले प्रेम को दिखाया है। जब हम थोड़ा थम कर उसकी भलाई और कृपा को स्मरण करते हैं, तो हम पाते हैं कि वह निःसंदेह हमारा प्रेमी पिता है। - कर्स्टन होल्मबर्ग

 

हमारा स्वर्गीय पिता हमें सुधरता भी है और सांत्वना भी देता है।


और तुम उस उपदेश को जो तुम को पुत्रों के समान दिया जाता है, भूल गए हो, कि हे मेरे पुत्र, प्रभु की ताड़ना को हलकी बात न जान, और जब वह तुझे घुड़के तो हियाव न छोड़। क्योंकि प्रभु, जिस से प्रेम करता है, उस की ताड़ना भी करता है; और जिसे पुत्र बना लेता है, उसको कोड़े भी लगाता है। तुम दुख को ताड़ना समझकर सह लो: परमेश्वर तुम्हें पुत्र जान कर तुम्हारे साथ बर्ताव करता है, वह कौन सा पुत्र है, जिस की ताड़ना पिता नहीं करता? - इब्रानियों 12:5–7


बाइबल पाठ: मलाकी 1:1-5

मलाकी 1:1 मलाकी के द्वारा इस्राएल के विषय में कहा हुआ यहोवा का भारी वचन।

मलाकी 1:2 यहोवा यह कहता है, मैं ने तुम से प्रेम किया है, परन्तु तुम पूछते हो, तू ने किस बात में हम से प्रेम किया है? यहोवा की यह वाणी है, क्या ऐसाव याकूब का भाई न था?

मलाकी 1:3 तौभी मैं ने याकूब से प्रेम किया परन्तु ऐसाव को अप्रिय जान कर उसके पहाड़ों को उजाड़ डाला, और उसकी बपौती को जंगल के गीदड़ों का कर दिया है।

मलाकी 1:4 एदोम कहता है, हमारा देश उजड़ गया है, परन्तु हम खण्डहरों को फिर कर बसाएंगे; सेनाओं का यहोवा यों कहता है, यदि वे बनाए भी, परन्तु मैं ढा दूंगा; उनका नाम दुष्ट जाति पड़ेगा, और वे ऐसे लोग कहलाएंगे जिन पर यहोवा सदैव क्रोधित रहे।

मलाकी 1:5 तुम्हारी आंखें इसे देखेंगी, और तुम कहोगे, यहोवा का प्रताप इस्राएल के सिवाने की परली ओर भी बढ़ता जाए।

 

एक साल में बाइबल: 

  • भजन 126-128
  • 1 कुरिन्थियों 10:19-33

No comments:

Post a Comment