बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, October 19, 2020

सहायता

 

         सन 2017 में हार्वे नामक चक्रवाधी समुद्री तूफ़ान से पूर्वी टेक्सास प्रांत में विनाशकारी बाढ़ आ गई। वर्षा के प्रचंड प्रहार से हज़ारों लोग अपने अपने घरों में ही फंसे रह गए, बाढ़ के पानी से बाहर न निकल पाने के कारण। ऐसे में अनेकों नागरिक प्रांत तथा देश के अन्य भागों से अपनी नावों को लेकर आए और लोगों की सहायता की, उन्हें बाहर निकालने में सहायक हुए। इन लोगों को “टेक्सास नेवी” का नाम दिया गया।

         इन साहसी एवं उदार लोगों का यह कार्य परमेश्वर के वचन बाइबल में नीतिवचन 3:27 का स्मरण करवाता है, जो हमें निर्देश देता है कि हम औरों की यथासंभव सहायता करें, जब भी हमें अवसर मिले। उन लोगों के पास आवश्यकता में पड़े लोगों की सहायता करने के लिए अपनी नावों को लगा देने की सामर्थ्य थी, और उन्होंने यही किया भी।  उनका यह कार्य उनके पास उपलब्ध संसाधनों का दूसरों की सहायता और भलाई में उपयोग करने की चाह को दिखाता है।

         हम सदा ही अपने आप को हमारे सामने आई आवश्यकता के सक्षम अनुभव नहीं करते हैं; अकसर हम यह सोचकर निष्क्रिय हो जाते हैं कि हमारे पास उस कार्य के योग्य कौशल, अनुभव, संसाधन, या समय नहीं है जिससे हम सहायता कर सकें। इसलिए परिस्थिति आने पर हम अपने आप को एक किनारे कर लेते हैं, बिना उसे किसी महत्व का समझे, जो हमारे पास है और जिससे हम किसी और की सहायता कर सकते हैं।

         “टेक्सास नेवी” के वह लोग न तो पानी को चढ़ने से रोक सकते थे, और न ही सरकारी सहायता लाए जाने के लिए कोई कानून बना सकते थे। परन्तु उनके पास जो कुछ भी था, उन्होंने उसे ही अपने लोगों की सहायता के लिए प्रयोग किया। हमारे पास उपलब्ध संसाधन चाहे जो भी हों, हम समय और आवश्यकता के अनुसार उनका प्रयोग लोगों की सहायता के लिए करें। - कर्स्टन होल्मबर्ग

 

परमेश्वर अपने लोगों की सहायता अन्य लोगों के द्वारा ही करता है।


इसलिये जहां तक अवसर मिले हम सब के साथ भलाई करें; विशेष कर के विश्वासी भाइयों के साथ। - गलातियों 6:10

बाइबल पाठ: नीतिवचन 3:21-31

नीतिवचन 3:21 हे मेरे पुत्र, ये बातें तेरी दृष्टि की ओट न होने पाएं; खरी बुद्धि और विवेक की रक्षा कर,

नीतिवचन 3:22 तब इन से तुझे जीवन मिलेगा, और ये तेरे गले का हार बनेंगे।

नीतिवचन 3:23 और तू अपने मार्ग पर निडर चलेगा, और तेरे पांव में ठेस न लगेगी।

नीतिवचन 3:24 जब तू लेटेगा, तब भय न खाएगा, जब तू लेटेगा, तब सुख की नींद आएगी।

नीतिवचन 3:25 अचानक आने वाले भय से न डरना, और जब दुष्टों पर विपत्ति आ पड़े, तब न घबराना;

नीतिवचन 3:26 क्योंकि यहोवा तुझे सहारा दिया करेगा, और तेरे पांव को फन्दे में फंसने न देगा।

नीतिवचन 3:27 जिनका भला करना चाहिये, यदि तुझ में शक्ति रहे, तो उनका भला करने से न रुकना।

नीतिवचन 3:28 यदि तेरे पास देने को कुछ हो, तो अपने पड़ोसी से न कहना कि जा कल फिर आना, कल मैं तुझे दूंगा।

नीतिवचन 3:29 जब तेरा पड़ोसी तेरे पास बेखटके रहता है, तब उसके विरुद्ध बुरी युक्ति न बान्धना।

नीतिवचन 3:30 जिस मनुष्य ने तुझ से बुरा व्यवहार न किया हो, उस से अकारण मुकद्दमा खड़ा न करना।

नीतिवचन 3:31 उपद्रवी पुरुष के विषय में डाह न करना, न उसकी सी चाल चलना;

 

एक साल में बाइबल: 

  • यशायाह 56-58
  • 2 थिस्सलुनीकियों 2

No comments:

Post a Comment