बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, October 4, 2020

साहस


         टेरेसा प्रेकेरोवा किशोरी ही थी जब दूसरे विश्व-युद्ध के आरंभ के समय उसके देश पोलैंड पर जर्मनी की नात्ज़ी सेनाओं ने आक्रमण किया। यह यहूदियों के विरुद्ध नात्ज़ियों की सर्वनाश की नीति का भी आरंभ था, और टेरेसा के यहूदी पड़ौसी गायब होने लगे – नात्ज़ियों द्वारा बंदी बना लिए गए। तब टेरेसा और पोलैंड के अन्य निवासियों ने अपनी जान जोखिम में डालकर उन लोगों को उन यहूदी बंदियों की बस्तियों और मार डाले जाने से बचाना आरंभ किया। बाद में टेरेसा उस युद्ध और नात्ज़ियों के अत्याचारों की प्रमुख इतिहासकार बनी। बुराई की उस बाढ़ के विरुद्ध खड़े रहने के उसके साहस ने ‘याद वशेम होलोकोस्ट मेमोरियल’ के ‘राईचस अमंग द नेशंस’ के नामों में उसका नाम सम्मिलित करवाया।

         बुराई के विरुद्ध खड़े रहने के लिए साहस की आवश्यकता होती है। परमेश्वर के वचन बाइबल में प्रेरित पौलुस ने इफिसुस के मसीही विश्वासियों की मण्डली को लिखा, क्योंकि हमारा यह मल्लयुद्ध, लहू और मांस से नहीं, परन्तु प्रधानों से और अधिकारियों से, और इस संसार के अन्धकार के हाकिमों से, और उस दुष्टता की आत्मिक सेनाओं से है जो आकाश में हैं” (इफिसियों 6:12)। यह स्पष्ट है कि हम अपने आप में उन अनदेखे विरोधियों का सामना अकेले नहीं कर सकते हैं, इसीलिए परमेश्वर ने हमारी सहायता के लिए आवश्यक आत्मिक संसाधनों को हमें दिया है, जिससे हम उसके द्वारा दिए गए उन हथियारों को बाँध कर शैतान की युक्तियों के विरुद्ध दृढ़ खड़े रहें (पद 11)।

         इस प्रकार साहस के साथ खड़े रहना किस प्रकार होता है? यह किसी के प्रति हो रहे अन्याय के विरुद्ध कार्य करना हो सकता है, या किसी ऐसे व्यक्ति के पक्ष में होकर हस्तक्षेप करना हो सकता है, जिसके लिए हम जानते हैं कि उसका शोषण किया जा रहा है, या उसे निशाना बना कर सताया जा रहा है। इस संघर्ष का स्वरूप कैसा भी हो, हम साहस के साथ खड़े रह सकते हैं, क्योंकि हमारी हर परिस्थिति के लिए हमारे परमेश्वर ने हमें प्रावधान तैयार करके उपलब्ध करवा दिए हैं। बुराई के विरुद्ध और परमेश्वर के पक्ष में साहस के साथ डटे रहें। - बिल क्राउडर

 

परमेश्वर हमें उसके पक्ष में खड़े रहने के लिए सक्षम करता है।


हमारे प्रभु यीशु मसीह के परमेश्वर और पिता का धन्यवाद हो, कि उसने हमें मसीह में स्वर्गीय स्थानों में सब प्रकार की आशीष दी है। - इफिसियों 1:3

बाइबल पाठ: इफिसियों 6:10-18

इफिसियों 6:10 निदान, प्रभु में और उस की शक्ति के प्रभाव में बलवन्‍त बनो।

इफिसियों 6:11 परमेश्वर के सारे हथियार बान्ध लो; कि तुम शैतान की युक्तियों के सामने खड़े रह सको।

इफिसियों 6:12 क्योंकि हमारा यह मल्लयुद्ध, लहू और मांस से नहीं, परन्तु प्रधानों से और अधिकारियों से, और इस संसार के अन्धकार के हाकिमों से, और उस दुष्टता की आत्मिक सेनाओं से है जो आकाश में हैं।

इफिसियों 6:13 इसलिये परमेश्वर के सारे हथियार बान्ध लो, कि तुम बुरे दिन में सामना कर सको, और सब कुछ पूरा कर के स्थिर रह सको।

इफिसियों 6:14 सो सत्य से अपनी कमर कसकर, और धार्मिकता की झिलम पहन कर।

इफिसियों 6:15 और पांवों में मेल के सुसमाचार की तैयारी के जूते पहन कर।

इफिसियों 6:16 और उन सब के साथ विश्वास की ढाल ले कर स्थिर रहो जिस से तुम उस दुष्‍ट के सब जलते हुए तीरों को बुझा सको।

इफिसियों 6:17 और उद्धार का टोप, और आत्मा की तलवार जो परमेश्वर का वचन है, ले लो।

इफिसियों 6:18 और हर समय और हर प्रकार से आत्मा में प्रार्थना, और बिनती करते रहो, और इसी लिये जागते रहो, कि सब पवित्र लोगों के लिये लगातार बिनती किया करो।

 

एक साल में बाइबल: 

  • यशायाह 20-22
  • इफिसियों 6

No comments:

Post a Comment