बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Thursday, January 14, 2021

विश्वास

 

          विश्वास के बारे में सीखने के लिए पाठ, अनपेक्षित स्थानों से आ सकते हैं – जैसा कि मैंने अपन पालतू कुत्ते, बेयर, से एक पाठ सीखा। बेयर का पानी पीने का बड़ा सा कटोरा, हमारे रसोई के एक कोने में रखा रहता है। जब भी वह कटोरा खाली हो जाता है, तो बेयर न तो उस पर पंजे मार कर शोर करता है, और न ही वहाँ पर जाकर भौंकता है। वह बस शांत होकर उस कटोरे के पास बैठ जाता है। उसे भरोसा है कि मैं वहाँ आऊँगा, उस खाली कटोरे को देखूँगा और उसमें पानी भर दूँगा। कभी-कभी उसे इसके लिए कई मिनिट तक प्रतीक्षा करनी पड़ती है, परन्तु बेयर ने सीख लिया है कि देर-सवेर मैं अन्दर आऊँगा, उसे वहाँ बैठा हुआ देखूँगा, और उसकी आवश्यकता की पूर्ति कर दूँगा। मुझ में उसके इस साधारण से भरोसे ने मुझे परमेश्वर में और अधिक भरोसा रखना सिखाया है।

          परमेश्वर के वचन बाइबल में लिखा है कि “और विश्वास बिना उसे प्रसन्न करना अनहोना है, क्योंकि परमेश्वर के पास आने वाले को विश्वास करना चाहिए, कि वह है; और अपने खोजने वालों को प्रतिफल देता है” (इब्रानियों 11:6)। जितने भी परमेश्वर के पास मसीह यीशु में लाए गए व्यक्तिगत विश्वास के द्वारा आते हैं, परमेश्वर उनके लिए अपनी सभी प्रतिज्ञाओं को पूरा करने में विश्वासयोग्य है।

          कभी-कभी, ‘अनदेखी वस्तुओं में विश्वास रखना कठिन होता है। परन्तु हम परमेश्वर की भलाई तथा उसके प्रेमी स्वभाव पर, उसकी बुद्धिमत्ता की हर बात के लिए सिद्ध और सर्वोत्तम  होने पर, भरोसा रख सकते हैं – चाहे हमें कुछ समय तक उसकी कार्यवाही होने की प्रतीक्षा ही क्यों न करनी पड़े। वह सदा ही अपनी कही बात को पूरा करने में विश्वासयोग्य रहता है कि वह हमारी अनन्त आत्माओं को बचाएगा और हमारी सभी आवश्यकताओं को पूरा करेगा, अभी और हमेशा। इसलिए हम विश्वास के साथ उसके पास आएँ और पूरे भरोसे के साथ उसके साथ चलें। - जेम्स बैंक्स

 

कल की चिंता न करें – परमेश्वर वहाँ अभी से विद्यमान है।


और मेरा परमेश्वर भी अपने उस धन के अनुसार जो महिमा सहित मसीह यीशु में है तुम्हारी हर एक घटी को पूरी करेगा। - फिलिप्पियों 4:19

बाइबल पाठ: इब्रानियों 11:1-6

इब्रानियों 11:1 अब विश्वास आशा की हुई वस्तुओं का निश्चय, और अनदेखी वस्तुओं का प्रमाण है।

इब्रानियों 11:2 क्योंकि इसी के विषय में प्राचीनों की अच्छी गवाही दी गई।

इब्रानियों 11:3 विश्वास ही से हम जान जाते हैं, कि सारी सृष्टि की रचना परमेश्वर के वचन के द्वारा हुई है। यह नहीं, कि जो कुछ देखने में आता है, वह देखी हुई वस्तुओं से बना हो।

इब्रानियों 11:4 विश्वास ही से हाबिल ने कैन से उत्तम बलिदान परमेश्वर के लिये चढ़ाया; और उसी के द्वारा उसके धर्मी होने की गवाही भी दी गई: क्योंकि परमेश्वर ने उस की भेंटों के विषय में गवाही दी; और उसी के द्वारा वह मरने पर भी अब तक बातें करता है।

इब्रानियों 11:5 विश्वास ही से हनोक उठा लिया गया, कि मृत्यु को न देखे, और उसका पता नहीं मिला; क्योंकि परमेश्वर ने उसे उठा लिया था, और उसके उठाए जाने से पहिले उस की यह गवाही दी गई थी, कि उसने परमेश्वर को प्रसन्न किया है।

इब्रानियों 11:6 और विश्वास बिना उसे प्रसन्न करना अनहोना है, क्योंकि परमेश्वर के पास आने वाले को विश्वास करना चाहिए, कि वह है; और अपने खोजने वालों को प्रतिफल देता है।

 

एक साल में बाइबल: 

  • उत्पत्ति 33-35
  • मत्ती 10:1-20

No comments:

Post a Comment