बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Thursday, March 4, 2021

साथ


          उसका सारा ध्यान उस सबसे ऊपर वाली शेल्फ पर केन्द्रित था, जहाँ पर स्पैघेटी के साथ खाई जाने वाली विभिन्न प्रकार की चटनी की बोतलें रखी हुई थीं। मैं भी दुकान में परचून के समान वाले भाग में उसी के पास खड़ा हुआ था, और मैं भी उसी शेल्फ पर लगी बोतलों को देख रहा था, अपने लिए खरीदने के लिए चुनाव करने का प्रयास कर रहा था, किन्तु उसे मेरी उपस्थिति का ज़रा सा भी आभास नहीं था; वह तो बस अपनी ही आवश्यकता में खोई हुई थी। अब, मैं कद में काफी लंबा हूँ, इसलिए दुकानों की सबसे ऊपर की शेल्फ पर रखे सामान तक पहुँचने में मुझे कोई समस्या नहीं होती है, लेकिन वह छोटे ही कद की थी, उसके लिए वह ऊपर की शेल्फ तक पहुँचना समस्या थी। इसलिए मैंने उसे सहायता देने का प्रस्ताव दिया, और मेरी आवाज़ सुन कर वह चौंक गई, और बोली, “अरे! मैंने तो आपको यहाँ खड़े हुए भी नहीं देखा। हाँ, कृपया मेरी सहायता कीजिए।”

          परमेश्वर के वचन बाइबल में शिष्यों के सामने भी के बड़ी समस्या थी – भूखे लोगों की एक बड़ी भीड़, आबादी से दूर स्थित क्षेत्र, और ढलता हुआ दिन। उन्होंने प्रभु यीशु से कहा – “देख देर होती जा रही है; इस भीड़ को विदा कर, जिससे के वे समय रहते गाँवों तक पहुँच सकें और अपने लिए भोजन खरीद सकें” (मत्ती 14:15)। जब प्रभु ने उन शिष्यों से कहा कि भीड़ को भेजने की बजाए, वे ही उस भीड़ के लिए रोटी का इंतज़ाम करें, तो उनका प्रत्युत्तर था, “हमारे पास तो ...” (पद 17)। उन्हें केवल अपनी घटी का ही ध्यान था; जबकि उनके साथ प्रभु यीशु खड़ा था, जो न केवल रोटी का स्त्रोत था, वरन स्वयं जीवन की रोटी भी था।

          हम भी अपनी ही चुनौतियों के समाधान स्वयं निकालने की चिंताओं तथा जीवन के प्रति अपने सीमित दृष्टिकोण में इतने लिप्त हो सकते हैं कि सदैव हमारे साथ बने रहने वाले हमारे प्रभु यीशु मसीह की उपस्थिति की अनदेखी कर देते हैं। चाहे वीरान पहाड़ी स्थान हों या परचून की दुकान में रखा सामान हो, और इन सबके मध्य जो कुछ भी और हो सकता है वह सभी हो, वह इम्मानुएल – परमेश्वर हमारे साथ, हमारी हर परिस्थिति में सहायता करने के लिए हमारे साथ विद्यमान है। - जॉन ब्लेज़

 

हम चाहे जहाँ हों, और सामने चुनौती चाहे कुछ भी हो, हमारा प्रभु सदा हमारे साथ है।


जब तू जल में हो कर जाए, मैं तेरे संग संग रहूंगा और जब तू नदियों में हो कर चले, तब वे तुझे न डुबा सकेंगी; जब तू आग में चले तब तुझे आंच न लगेगी, और उसकी लौ तुझे न जला सकेगी। -  यशायाह 43:2

बाइबल पाठ: मत्ती 14:13-21

मत्ती 14:13 जब यीशु ने यह सुना, तो नाव पर चढ़कर वहां से किसी सुनसान जगह एकान्‍त में चला गया; और लोग यह सुनकर नगर नगर से पैदल उसके पीछे हो लिए।

मत्ती 14:14 उसने निकलकर बड़ी भीड़ देखी; और उन पर तरस खाया; और उसने उन के बीमारों को चंगा किया।

मत्ती 14:15 जब सांझ हुई, तो उसके चेलों ने उसके पास आकर कहा; यह तो सुनसान जगह है और देर हो रही है, लोगों को विदा किया जाए कि वे बस्तियों में जा कर अपने लिये भोजन मोल लें।

मत्ती 14:16 यीशु ने उन से कहा उन का जाना आवश्यक नहीं! तुम ही इन्हें खाने को दो।

मत्ती 14:17 उन्होंने उस से कहा; यहां हमारे पास पांच रोटी और दो मछलियों को छोड़ और कुछ नहीं है।

मत्ती 14:18 उसने कहा, उन को यहां मेरे पास ले आओ।

मत्ती 14:19 तब उसने लोगों को घास पर बैठने को कहा, और उन पांच रोटियों और दो मछलियों को लिया; और स्वर्ग की ओर देखकर धन्यवाद किया और रोटियां तोड़ तोड़कर चेलों को दीं, और चेलों ने लोगों को।

मत्ती 14:20 और सब खाकर तृप्त हो गए, और उन्होंने बचे हुए टुकड़ों से भरी हुई बारह टोकरियां उठाईं।

मत्ती 14:21 और खाने वाले स्त्रियों और बालकों को छोड़कर पांच हजार पुरुषों के अटकल थे।

 

एक साल में बाइबल: 

  • गिनती 31-33
  • मरकुस 9:1-29


No comments:

Post a Comment