बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

सूचना:

ई-मेल के द्वारा ब्लोग्स के लेख प्राप्त करने की सुविधा ब्लोगर द्वारा जुलाई महीने से समाप्त कर दी जाएगी. इसलिए यदि आप ने इस ब्लॉग के लेखों को स्वचालित रीति से ई-मेल द्वारा प्राप्त करने की सुविधा में अपना ई-मेल पता डाला हुआ है, तो उसके बाद से आप इन लेखों फिर सीधे इस वेब-साईट के द्वारा ही देखने और पढ़ने पाएँगे.

Monday, April 5, 2021

नया जीवन

 

          समाचार गंभीर और चिंताजनक था। मेरे पिता को छाती में दर्द होता रहता था, इसलिए उनके डॉक्टर ने उनके हृदय की कुछ जांचें करने को कहा। जांचो के परिणाम से पता चला कि उनके हृदय की मांसपेशियों में खून ले जाने वाली तीनों मुख्य नसों में रुकावट है, जिससे हृदय को पूरी तरह से रक्त-प्रवाह नहीं मिल पा रहा है। उनके इलाज के लिए हृदय का आपरेशन कर के उस रुकावट के पार रक्त प्रवाहित करने का मार्ग बनाना था। आपरेशन की तिथि 14 फरवरी निर्धारित हुई। मेरे पिता कुछ चिंतित तो थे, किन्तु उन्होंने उस तिथि को एक आशा-पूर्ण चिह्न के समान देखा; उन्होंने कहा, “मुझे वेलेंटाइन दिवस मनाने के लिए एक नया हृदय मिलने वाला है!” और यही हुआ भी – ऑपरेशन सफल रहा, उनके हृदय की माँसपेशियों में रक्त प्रवाहित करने का नया मार्ग बन गया, और हृदय को एक नया जीवन मिल गया।

          मेरे पिता के ऑपरेशन ने मुझे स्मरण दिलाया कि परमेश्वर ने भी उसकी भलाइयों और आशीषों को हमारे जीवनों में प्रवाहित होने से बाधित करने वाले पापों को हटाकर, हमें एक नए जीवन का मार्ग बनाकर दिया है – यदि हम उसके इस प्रावधान को स्वीकार कर लें तो। जैसा परमेश्वर के वचन बाइबल में  सिखाया गया है, पाप हमारे जीवन के आत्मिक मार्गों को बाधित कर देता है, हम परमेश्वर से संपर्क नहीं करने पाते हैं (यशायाह 59:2); हमें भी उस बाधा से पार होने के लिए आत्मिक ऑपरेशन की आवश्यकता होती है, जो प्रभु यीशु में हमारा लाया गया विश्वास और पापों से पश्चाताप करके देता है।

          परमेश्वर ने यहेजकेल 33:26 में अपने लोगों से इसी बात की प्रतिज्ञा की है। उसने इस्राएलियों को आश्वस्त किया,तुम को नया मन दूंगा, और तुम्हारे भीतर नई आत्मा उत्पन्न करूंगा; और तुम्हारी देह में से पत्थर का हृदय निकाल कर तुम को मांस का हृदय दूंगा”। उसने यह भी प्रतिज्ञा की है “तुम को तुम्हारी सारी अशुद्धता और मूरतों से शुद्ध करूंगा” (पद 25) तथा “अपना आत्मा तुम्हारे भीतर देकर ऐसा करूंगा कि तुम मेरी विधियों पर चलोगे और मेरे नियमों को मान कर उनके अनुसार करोगे” (पद 27)। ऐसे लोगों से जो सारी आशा खो चुके थे, परमेश्वर ने उन्हें एक नई शुरुआत देने की प्रतिज्ञा दी, क्योंकि परमेश्वर ही है जो नया जीवन प्रदान कर सकता है।

          परमेश्वर की यह प्रतिज्ञा प्रभु यीशु मसीह में होकर संसार के सभी लोगों पर भी लागू होती है, क्योंकि प्रभु यीशु के कलवरी के क्रूस पर सारे संसार के सभी लोगों के पापों के लिए दिए गए बलिदान, मारे जाने, गाड़े जाने और तीसरे दिन मृतकों में से जी उठने के द्वारा पाप क्षमा और नए जीवन के प्रवाहित होने का मार्ग खोल दिया गया है; अब बस उसे  स्वेच्छा से स्वीकार करके उसमें प्रवेश करना है। जैसे ही हम प्रभु परमेश्वर के कार्य को स्वीकार करते हैं, उस पर विश्वास लाते हैं, हमें एक नया आत्मिक ‘हृदय मिल जाता है, ऐसा जो हमारे पापों और निराशाओं से स्वच्छ कर दिया गया है। ऐसा जिस में अब मसीह यीशु की पवित्र आत्मा निवास करती है, जो परमेश्वर की शक्ति से धड़कता है; वह जिसमें नया जीवन है, और जो दूसरों को भी नए जीवन का मार्ग दिखाता है। - एडम होल्ज़

 

प्रभु यीशु सभी को, जो भी विश्वास में उसे स्वीकार करे, एक नया जीवन देता है।


सुनो, यहोवा का हाथ ऐसा छोटा नहीं हो गया कि उद्धार न कर सके, न वह ऐसा बहिरा हो गया है कि सुन न सके; परन्तु तुम्हारे अधर्म के कामों ने तुम को तुम्हारे परमेश्वर से अलग कर दिया है, और तुम्हारे पापों के कारण उस का मुँह तुम से ऐसा छिपा है कि वह नहीं सुनता। - यशायाह 59:1-2

बाइबल पाठ: यहेजकेल 36:24-27

यहेजकेल 36:24 मैं तुम को जातियों में से ले लूंगा, और देशों में से इकट्ठा करूंगा; और तुम को तुम्हारे निज देश में पहुंचा दूंगा।

यहेजकेल 36:25 मैं तुम पर शुद्ध जल छिड़कूंगा, और तुम शुद्ध हो जाओगे; और मैं तुम को तुम्हारी सारी अशुद्धता और मूरतों से शुद्ध करूंगा।

यहेजकेल 36:26 मैं तुम को नया मन दूंगा, और तुम्हारे भीतर नई आत्मा उत्पन्न करूंगा; और तुम्हारी देह में से पत्थर का हृदय निकाल कर तुम को मांस का हृदय दूंगा।

यहेजकेल 36:27 और मैं अपना आत्मा तुम्हारे भीतर देकर ऐसा करूंगा कि तुम मेरी विधियों पर चलोगे और मेरे नियमों को मान कर उनके अनुसार करोगे।

 

एक साल में बाइबल: 

  • 1 शमूएल 1-3
  • लूका 8:26-56

No comments:

Post a Comment