बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, June 13, 2015

सक्रीय संबंध


   एक प्रातः मैंने पाया कि मेरा इंटरनैट कनेक्शन काम नहीं कर रहा था। मैंने अपने इंटरनैट सेवा देने वाले से बात करी तो उसने आकर जाँच करी और बताया कि मेरे कंप्यूटर को इंटरनैट से जोड़ने वाला यंत्र - मोडेम खराब हो गया है और उसे बदलना पड़ेगा, किंतु नया मोडेम उपलब्ध होने और लगाए जाने में एक दिन का समय लगेगा; अर्थात मैं एक दिन तक इंटरनैट से जुड़ा नहीं रहूँगा। यह जान कर मुझे थोड़ी घबराहट हुई, और मन में विचार आया, "बिना इंटरनैट के एक दिन! ऐसे मैं कैसे रह पाऊँगा?"

   फिर मेरे मन में एक और प्रश्न उठा, "क्या मैं इसी प्रकार घबरा जाऊँगा यदि परमेश्वर के साथ मेरा संबंध एक दिन के लिए बाधित हो जाए?" हम परमेश्वर के साथ अपने संबंध को सक्रीय रखते हैं परमेश्वर के वचन बाइबल के साथ समय बिताने से, प्रार्थना में परमेश्वर के साथ संगति रखने से, उसके वचन और निर्देशों का पालन करने से (याकूब 1:22-24)।

   भजन 119 के लेखक ने परमेश्वर के साथ अविरल सक्रीय संबंध बनाए रखने के महत्व को पहचाना और परमेश्वर से आग्रह किया कि वह उसे अपने नियम सिखाए और उन नियमों को समझने की समझ-बूझ दे (पद 33-34)। फिर लेखक ने इच्छा जताई कि वह उन नियमों का पूरे मन से पालन करेगा (पद 34), उनके मार्गदर्शन में चलेगा (पद 35), और अपनी आँखों को व्यर्थ बातों को देखने से रोके रखेगा (पद 37)। परमेश्वर के वचन पर मनन करने और उसे अपने जीवन में लागू करने के द्वारा भजनकार परमेश्वर के साथ अविरल सक्रीय संबंध बना कर रख सका।

   परमेश्वर ने हमें अपना वचन इसीलिए दिया है जिससे कि वह हमारे पथ के लिए दीपक और मार्ग के लिए उजियाला हो सके और उसके साथ हमारा सक्रीय संबंध अविरल बना रहे। - सी. पी. हिया

अपनी आत्मिक बैटरी भरी रखने के लिए उसे आत्मिक स्त्रोत से जोड़े रखें।

तेरा वचन मेरे पांव के लिये दीपक, और मेरे मार्ग के लिये उजियाला है। - भजन 119:105 

बाइबल पाठ: भजन 119:33-40
Psalms 119:33 हे यहोवा, मुझे अपनी विधियों का मार्ग दिखा दे; तब मैं उसे अन्त तक पकड़े रहूंगा। 
Psalms 119:34 मुझे समझ दे, तब मैं तेरी व्यवस्था को पकड़े रहूंगा और पूर्ण मन से उस पर चलूंगा। 
Psalms 119:35 अपनी आज्ञाओं के पथ में मुझ को चला, क्योंकि मैं उसी से प्रसन्न हूं। 
Psalms 119:36 मेरे मन को लोभ की ओर नहीं, अपनी चितौनियों ही की ओर फेर दे। 
Psalms 119:37 मेरी आंखों को व्यर्थ वस्तुओं की ओर से फेर दे; तू अपने मार्ग में मुझे जिला। 
Psalms 119:38 तेरा वचन जो तेरे भय मानने वालों के लिये है, उसको अपने दास के निमित्त भी पूरा कर। 
Psalms 119:39 जिस नामधराई से मैं डरता हूं, उसे दूर कर; क्योंकि तेरे नियम उत्तम हैं। 
Psalms 119:40 देख, मैं तेरे उपदेशों का अभिलाषी हूं; अपने धर्म के कारण मुझ को जिला।

एक साल में बाइबल: 
  • एज़्रा 6-8
  • यूहन्ना 21