Monday, January 4, 2021

ज्योति

 

          चाँद के बादलों में छिप जाने से जंगल में स्थित हमारे गाँव पर अंधियारा छा गया। आकाश में बिजली कड़कने लगी, और गरजन की आवाज़ गूँजने लगी। मैं तब बच्चा ही था और जगा हुआ इन सब के कारण भयभीत हो रहा था, मुझे लग रहा था कि बाहर तरह-तरह के भयानक जानवर मुझ पर हमला करने को तैयार खड़े हैं। परन्तु प्रातः होने तक वे सभी आवाज़ें जाती रहीं, सूरज निकल आया, अंधियारा मिट गया, और गर्जन की बजाए चिड़ियों के चहचहाने की आवाज़ सुनाए देने लगीं। रात की भयावह बातों की तुलना में प्रातः का आनन्द बहुत मनभावन था।

          परमेश्वर के वचन बाइबल में इब्रानियों का लेखक इस्राएलियों के एक अनुभव के बारे में लिखता है; उनके मिस्र से निकलकर आने के बाद जब मूसा परमेश्वर से दस आज्ञाएँ लेने सीनै पर्वत पर गया हुआ था, तब वह पर्वत बहुत अंधियारा और आँधी-तूफ़ान से भरा हुआ था, और वे लोग भयभीत होकर छुप गए (निर्गमन 20:18-19)। उनके लिए परमेश्वर की उपस्थिति, उसके द्वारा सप्रेम अपनी व्यवस्था देने के समय में भी अंधियारी और भयावह थी। ऐसा इसलिए था क्योंकि पापी मनुष्य होने के कारण, वे परमेश्वर के मानकों पर खरे नहीं उतर सकते थे। उनके पाप के कारण वे अन्धकार और भय में थे (इब्रानियों 12:18-21)।

          परन्तु परमेश्वर ज्योति है और उसमें कुछ भी अन्धकार नहीं है (1यूहन्ना 1:5)। इब्रानियों 12 में सीनै पर्वत परमेश्वर की पवित्रता और अनाज्ञाकारिता के हमारे पुराने जीवन का प्रतीक है। जबकि सिय्योन पर्वत की सुन्दरता परमेश्वर के अनुग्रह और “नई वाचा के मध्यस्थ” (पद 22-24) प्रभु यीशु मसीह में मसीही विश्वासी के नए जीवन का प्रतीक है।

          जो कोई भी प्रभु यीशु मसीह के पीछे चलेगा वह “कभी अन्धकार में न चलेगा, परन्तु जीवन की ज्योति पाएगा” (यूहन्ना 8:12)। प्रभु यीशु मसीह में होकर हम अपने पुराने जीवन के अन्धकार को तज सकते हैं और प्रभु की ज्योति तथा उसके राज्य की सुन्दरता में चलने के आनन्द का उत्सव मना सकते हैं। - लॉरेंस दरमानी

 

क्या आपने प्रभु की ज्योति में चलने का निर्णय ले लिया है?


उस में जीवन था; और वह जीवन मनुष्यों की ज्योति थी। - यूहन्ना 1:4

बाइबल पाठ: इब्रानियों 12:18-24

इब्रानियों 12:18 तुम तो उस पहाड़ के पास जो छूआ जा सकता था और आग से प्रज्वलित था, और काली घटा, और अन्‍धेरा, और आन्धी के पास।

इब्रानियों 12:19 और तुरही की ध्वनि, और बोलने वाले के ऐसे शब्द के पास नहीं आए, जिस के सुनने वालों ने बिनती की, कि अब हम से और बातें न की जाएं।

इब्रानियों 12:20 क्योंकि वे उस आज्ञा को न सह सके, कि यदि कोई पशु भी पहाड़ को छूए, तो पत्थरवाह किया जाए।

इब्रानियों 12:21 और वह दर्शन ऐसा डरावना था, कि मूसा ने कहा; मैं बहुत डरता और कांपता हूं।

इब्रानियों 12:22 पर तुम सिय्योन के पहाड़ के पास, और जीवते परमेश्वर के नगर स्वर्गीय यरूशलेम के पास।

इब्रानियों 12:23 और लाखों स्‍वर्गदूतों और उन पहिलौठों की साधारण सभा और कलीसिया जिन के नाम स्वर्ग में लिखे हुए हैं: और सब के न्यायी परमेश्वर के पास, और सिद्ध किए हुए धर्मियों की आत्माओं।

इब्रानियों 12:24 और नई वाचा के मध्यस्थ यीशु, और छिड़काव के उस लहू के पास आए हो, जो हाबिल के लहू से उत्तम बातें कहता है।

 

एक साल में बाइबल: 

  • उत्पत्ति 10-12
  • मत्ती 4