बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, October 5, 2015

एक की कीमत


   हाई स्कूल पास कर लेने के दीक्षांत समारोह में भाग लेने से कुछ ही घंटे पहले हुई एक वाहन दुर्घटना में किम हैस्किन्स के पिता का देहान्त हो गया और उसे तथा उसकी माता को चोटिल हालत में अस्पताल में दाखिल होना पड़ा। अगले दिन किम के स्कूल के प्रधानाचार्य, जो गैरेट, उससे मिलने अस्पताल गए और उससे कहा कि वे उसके लिए स्कूल में कुछ विशेष करना चाहते हैं। कॉलेराडो स्प्रिंग्स से प्रकाशित अखबार ’दि गैज़े’ में जेम्स ड्रयु द्वारा लिखित लेख में स्कूल के अध्यापकों, विद्यार्थियों और अन्य कर्मचारियों द्वारा किम के प्रति दिखाए गए अपार प्रेम और सहानुभूति का वर्णन किया। कुछ दिन के पश्चात, किम की हानि से द्रवित हुए ये सभी लोग, खास किम के लिए स्कूल के ऑडिटोरियम में आयोजित किए गए एक विशेष दीक्षांत समारोह में सम्मिलित हुए।

   प्रधानाचार्य गैरेट ने कहा, "हम शिक्षा में बहुत कहते हैं कि कोई भी विद्यार्थी पीछे नहीं छूटना चाहिए। सेना में वे कहते हैं कि युद्ध-भूमि में कोई सैनिक पीछे नहीं छूटना चाहिए। आज का यह समारोह इसलिए है कि कोई स्नातक पीछे छूटना नहीं चाहिए।"

   प्रभु यीशु ने भी परमेश्वर के लिए प्रत्येक मनुष्य के महत्व को दिखाने के लिए खोए हुए के ढूँढ़े जाने के तीन दृष्टांतों का प्रयोग किया - खोई हुई भेड़, खोया हुआ सिक्का, खोया हुआ पुत्र (लूका 15)। प्रत्येक दृष्टांत में किसी व्यक्ति का कुछ बहुमूल्य खो गया था; और जब वह मिल गया तो वह व्यक्ति अपने पड़ौसियों और मित्रों के साथ इस बात का आनन्द मनाता है।

   सन्देश स्पष्ट है, हम सब परमेश्वर के लिए बेशकीमती हैं, इसीलिए उसने हमें अपने पास लौटा लाने के लिए प्रभु यीशु में होकर पापों की क्षमा और नया जीवन सेंत-मेंत उपलब्ध कराया है; और वह अपने प्रेम और अनुग्रह के साथ सदा हमारे साथ-साथ बने रहने का वायदा करता है। जब भी कोई एक भी पापी अपने पापों से पश्चाताप करके परमेश्वर के पास आता है तो स्वर्ग में बड़ा आनन्द होता है (पद 7)। - डेविड मैक्कैसलैंड

परमेश्वर की नज़र में हमारी कीमत, उसके द्वारा हमारे लिए चुकाए गए दाम से प्रकट होती है।

तुम तो मेरी भेड़-बकरियां, मेरी चराई की भेड़-बकरियां हो; तुम तो मनुष्य हो, और मैं तुम्हारा परमेश्वर हूँ, परमेश्वर यहोवा की यही वाणी है। - यहेजकेल34:31

बाइबल पाठ: लूका 15:1-10
Luke 15:1 सब चुंगी लेने वाले और पापी उसके पास आया करते थे ताकि उस की सुनें। 
Luke 15:2 और फरीसी और शास्त्री कुड़कुड़ा कर कहने लगे, कि यह तो पापियों से मिलता है और उन के साथ खाता भी है।
Luke 15:3 तब उसने उन से यह दृष्‍टान्‍त कहा। 
Luke 15:4 तुम में से कौन है जिस की सौ भेड़ें हों, और उन में से एक खो जाए तो निन्नानवे को जंगल में छोड़कर, उस खोई हुई को जब तक मिल न जाए खोजता न रहे? 
Luke 15:5 और जब मिल जाती है, तब वह बड़े आनन्द से उसे कांधे पर उठा लेता है। 
Luke 15:6 और घर में आकर मित्रों और पड़ोसियों को इकट्ठे कर के कहता है, मेरे साथ आनन्द करो, क्योंकि मेरी खोई हुई भेड़ मिल गई है। 
Luke 15:7 मैं तुम से कहता हूं; कि इसी रीति से एक मन फिराने वाले पापी के विषय में भी स्वर्ग में इतना ही आनन्द होगा, जितना कि निन्नानवे ऐसे धर्मियों के विषय नहीं होता, जिन्हें मन फिराने की आवश्यकता नहीं।
Luke 15:8 या कौन ऐसी स्त्री होगी, जिस के पास दस सिक्के हों, और उन में से एक खो जाए; तो वह दीया बारकर और घर झाड़ बुहार कर जब तक मिल न जाए, जी लगाकर खोजती न रहे? 
Luke 15:9 और जब मिल जाता है, तो वह अपने सखियों और पड़ोसिनियों को इकट्ठी कर के कहती है, कि मेरे साथ आनन्द करो, क्योंकि मेरा खोया हुआ सिक्‍का मिल गया है। 
Luke 15:10 मैं तुम से कहता हूं; कि इसी रीति से एक मन फिराने वाले पापी के विषय में परमेश्वर के स्‍वर्गदूतों के साम्हने आनन्द होता है। 

एक साल में बाइबल: 
  • यशायाह 23-25
  • फिलिप्पियों 1