बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, October 15, 2017

मार्गदर्शन


   एक शताब्दी पूर्व, 41 वर्षीय ऑस्वौल्ड चैम्बर्स, प्रथम विश्व-युद्ध के समय में मिस्त्र में स्थित ब्रिटिश राष्ट्रमण्डल सेनाओं में YMCA की ओर से पादरी का कार्य करने के लिए पहुँचे। उन्हें मिस्त्र की राजधानी काइरो से 6 मील उत्तर में स्थित एक शिविर में नियुक्त किया गया। वहाँ बिताई अपनी पहली रात में चैम्बर्स ने अपनी डायरी में लिखा, "यह इलाका बिलकुल मरुभूमि है, सैनिकों के हृदयों में भी, और मनुष्यों के लिए अद्भुत सुअवसर है। ऐसा मैंने पहले कभी नहीं देखा या अनुभव किया है। मैं बड़ी रुचि के साथ उन नई बातों की ओर देख रहा हूँ जो परमेश्वर यहाँ करने जा रहा है।"

   चैम्बर्स परमेश्वर के वचन बाइबल में नीतिवचन 3:5-6 की बात: "तू अपनी समझ का सहारा न लेना, वरन सम्पूर्ण मन से यहोवा पर भरोसा रखना। उसी को स्मरण कर के सब काम करना, तब वह तेरे लिये सीधा मार्ग निकालेगा" पर विश्वास रखता था, और उसका पालन करता था। ऐसा करना चुनौतीपूर्ण भी है और शान्तिदायक भी। यह जानने और मानने में कि परमेश्वर प्रतिदिन हमारा मार्गदर्शन करेगा, सुरक्षा है; परन्तु हमें अपनी योजनाओं से इतना आसक्त नहीं हो जाना चाहिए कि हम परमेश्वर के द्वारा दिए जाने वाले मार्गदर्शन के पुनःनिर्देशनों की तथा किसी कार्य को करने के उसके समय की अवहेलना करने लगें।

   चैम्बर्स ने कहा, "हमें कोई अधिकार नहीं है कि हम पूर्वनिर्धारण कर के बैठ जाएं कि परमेश्वर को हमें कहाँ रखना चाहिए, या करने के लिए क्या कार्य देना चाहिए। परमेश्वर ही हमारे लिए हर योजना बनाता है। वह हमें जहाँ भी रखे, जिस बात के लिए भी हमारा मार्गदर्शन करे, हमारा लक्ष्य बस पूरे मन से उसके प्रति समर्पित रहना और उस कार्य को पूरी लगन एवं निष्ठा के साथ पूरा करना है।" - डेविड मैक्कैसलैण्ड


जब हम परमेश्वर पर भरोसा बनाए रखते हैं, 
तो वह हमारा मार्गदर्शन भी करता जाता है।

क्योंकि यहोवा की यह वाणी है, कि जो कल्पनाएं मैं तुम्हारे विषय करता हूँ उन्हें मैं जानता हूँ, वे हानि की नहीं, वरन कुशल ही की हैं, और अन्त में तुम्हारी आशा पूरी करूंगा। - यिर्मयाह 29:11

बाइबल पाठ: नीतिवचन 3:1-8
Proverbs 3:1 हे मेरे पुत्र, मेरी शिक्षा को न भूलना; अपने हृदय में मेरी आज्ञाओं को रखे रहना; 
Proverbs 3:2 क्योंकि ऐसा करने से तेरी आयु बढ़ेगी, और तू अधिक कुशल से रहेगा। 
Proverbs 3:3 कृपा और सच्चाई तुझ से अलग न होने पाएं; वरन उन को अपने गले का हार बनाना, और अपनी हृदय रूपी पटिया पर लिखना। 
Proverbs 3:4 और तू परमेश्वर और मनुष्य दोनों का अनुग्रह पाएगा, तू अति बुद्धिमान होगा।
Proverbs 3:5 तू अपनी समझ का सहारा न लेना, वरन सम्पूर्ण मन से यहोवा पर भरोसा रखना। 
Proverbs 3:6 उसी को स्मरण कर के सब काम करना, तब वह तेरे लिये सीधा मार्ग निकालेगा। 
Proverbs 3:7 अपनी दृष्टि में बुद्धिमान न होना; यहोवा का भय मानना, और बुराई से अलग रहना। 
Proverbs 3:8 ऐसा करने से तेरा शरीर भला चंगा, और तेरी हड्डियां पुष्ट रहेंगी।

एक साल में बाइबल: 
  • यशायाह 45-46
  • 1 थिस्सलुनीकियों 3