बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Friday, April 20, 2018

योजना



   हमें शीघ्र और वास्तव में परमेश्वर से ही उत्तर चाहिए था। हमसे पूछा गया था कि क्या तीन माह के लिए हम दो बच्चों की देखभाल करने का बीड़ा उठाने को तैयार हैं? उन बच्चों के भविष्य के विषय निर्णय लेने का समय था। हमारे स्वयं के तीन बच्चे थे, जो उन दोनों से बड़े थे, और हमें उन दोनों स्कूल जाने की आयु से भी छोटे बच्चों की जिम्मेदारी लेनी थी। अपने परिवार में बच्चों की जिम्मेदारी को लगभग दोगुना कर लेना हमारी जीवन शैली के साथ मेल खाता हुआ लग नहीं रहा था; इस जिम्मेदारी को स्वीकार करना काफी कठिन कार्य होता।

   ऐसे में अनुभवी मसीही सेविका एमी कार्माईकल द्वारा लिखी गई दैनिक मनन के लिए मसीही लेखों की पुस्तक ने उस दिन के मनन के लिए हमारा ध्यान परमेश्वर के वचन बाइबल में गिनती 7 अध्याय के कुछ कम परिचित पदों की ओर आकर्षित किया। उस खण्ड के विषय एमी ने लिखा, “मैं सोचती हूँ कि उस समय कहातियों को कैसा लगा होगा? अन्य सभी याजकों के पास परमेश्वर के मिलाप के तम्बू के सामान को मरुभूमि और जंगल की यात्रा में ढो कर ले जाने के लिए बैल-गाड़ियां थीं। परन्तु कहातवंशियों को पत्थरीले और तपती हुई रेत के ऊबड़-खाबड़ मार्ग में उनकी जिम्मेदारी में दी गई पवित्र वस्तुओं को ढोने के लिए उनके अपने कंधे ही प्रयोग करने थे। क्या अन्दर ही अन्दर वे कभी कुड़कड़ाए, यह सोचते हुए कि अन्य याजकों को सरल कार्य सौंपा गया था, उन्हें नहीं! हो सकता है ऐसा हुआ हो; परन्तु परमेश्वर जानता है कि कुछ वस्तुएं इतनी बहुमूल्य होती हैं कि उन्हें बैल-गाड़ियों पर नहीं ले जाया जाता, इसीलिए परमेश्वर चाहता है कि हम उन्हें अपने कन्धों पर उठाकर चलें”।

   मैंने और मेरे पति ने पहचान लिया कि यही हमारा उत्तर था। हमने बहुत बार सोचा था कि हम किसी अविकसित देश में किसी बच्चे के पालन-पोषण के खर्चे को उठाएँ, परन्तु हमने ऐसा कभी किया नहीं था। वह करना अधिक सरल होता – बैल-गाड़ियों पर सामान ढोने के समान। अब हमारे घर में दो ज़रूरतमंद बच्चे थे, जिन्हें हमें अपने कन्धों पर लिए चलना था, क्योंकि वे परमेश्वर के लिए अति-मूल्यवान थे।

   हम में से प्रत्येक के लिए परमेश्वर के पास भिन्न योजनाएँ हैं। हमें लग सकता है कि औरों के पास हम से अधिक सरल जिम्मेदारियां हैं, या फिर उनका कार्य हमारे कार्य से अधिक आकर्षक अथवा प्रतिष्ठित है। परन्तु यदि हमारे प्रेमी परमेश्वर पिता ने हमें किसी कार्य के लिए चुना है, उस कार्य की जिम्मेदारी सौंपी है, तो हम कौन होते हैं कि उसकी योजना के विरुद्ध यह फुसफुसाएं कि “मैं यह नहीं कर सकता हूँ?” – मेरियन स्ट्राउड


परमेश्वर साधारण लोगों के द्वारा असाधारण कार्य करने की योजनाएं बनाता है।

हे भाइयो, अपने बुलाए जाने को तो सोचो, कि न शरीर के अनुसार बहुत ज्ञानवान, और न बहुत सामर्थी, और न बहुत कुलीन बुलाए गए। परन्तु परमेश्वर ने जगत के मूर्खों को चुन लिया है, कि ज्ञान वालों को लज्ज़ित करे; और परमेश्वर ने जगत के निर्बलों को चुन लिया है, कि बलवानों को लज्ज़ित करे। - 1 कुरिन्थियों 1:26-27

बाइबल पाठ: गिनती 7:1-9
Numbers 7:1 फिर जब मूसा ने निवास को खड़ा किया, और सारे सामान समेत उसका अभिषेक कर के उसको पवित्र किया, और सारे सामान समेत वेदी का भी अभिषेक कर के उसे पवित्र किया,
Numbers 7:2 तब इस्त्राएल के प्रधान जो अपने अपने पितरों के घरानों के मुख्य पुरूष, और गोत्रों के भी प्रधान हो कर गिनती लेने के काम पर नियुक्त थे,
Numbers 7:3 वे यहोवा के साम्हने भेंट ले आए, और उनकी भेंट छ: छाई हुई गाडिय़ां और बारह बैल थे, अर्थात दो दो प्रधान की ओर से एक एक गाड़ी, और एक एक प्रधान की ओर से एक एक बैल; इन्हें वे निवास के साम्हने यहोवा के समीप ले गए।
Numbers 7:4 तब यहोवा ने मूसा से कहा,
Numbers 7:5 उन वस्तुओं को तू उन से ले ले, कि मिलापवाले तम्बू के बरतन में काम आएं, सो तू उन्हें लेवियों के एक एक कुल की विशेष सेवकाई के अनुसार उन को बांट दे।
Numbers 7:6 सो मूसा ने वे सब गाडिय़ां और बैल ले कर लेवियों को दे दिये।
Numbers 7:7 गेर्शोनियों को उनकी सेवकाई के अनुसार उसने दो गाडिय़ां और चार बैल दिए;
Numbers 7:8 और मरारियों को उनकी सेवकाई के अनुसार उसने चार गाडिय़ां और आठ बैल दिए; ये सब हारून याजक के पुत्र ईतामार के अधिकार में किए गए।
Numbers 7:9 और कहातियों को उसने कुछ न दिया, क्योंकि उनके लिये पवित्र वस्तुओं की यह सेवकाई थी कि वह उसे अपने कन्धों पर उठा लिया करें।


एक साल में बाइबल: 
  • 2 शमूएल 9-11
  • लूका 15:11-32