बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Friday, November 15, 2019

उपहार



      प्रथम विश्वयुद्ध के दौरान, अक्तूबर 1915 में, ओस्वौल्ड चैम्बर्स मिस्र की राजधानी, काहिरा के निकट स्थित जैतोउन शिविर में, जो राष्ट्रमंडल देशों की सेनाओं के सैनिक प्रशिक्षण के लिए था, YMCA की ओर से ब्रिटिश सैनिकों के लिए पादरी की सेवकाई करने के लिए आए। जब उन्होंने सप्ताह भर की रात्रि धार्मिक सभा की घोषणा की तो 400 लोग उनके प्रवचन को, जिसका शीर्षक था, “प्रार्थना की क्या उपयोगिता है” आए। बाद में वे जब व्यक्तिगत रीति से उन लोगों से बातचीत करते थे, जिनमें वे भी थे जो उस युद्ध में परमेश्वर को ढूँढ़ रहे थे, तो वे बहुधा परमेश्वर के वचन बाइबल से लूका 11:13, “सो जब तुम बुरे हो कर अपने लड़के-बालों को अच्छी वस्‍तुएं देना जानते हो, तो स्‍वर्गीय पिता अपने मांगने वालों को पवित्र आत्मा क्यों न देगा” को बताते थे।

      अपने पुत्र प्रभु यीशु मसीह में होकर, संसार के सभी लोगों के लिए, परमेश्वर का मुफ्त उपहार है पापों से क्षमा, अनंतकालीन आशा, और पवित्र आत्मा में होकर उसकी हमारे साथ सदा बनी रहने वाली उपस्थिति। प्रभु ने हम से वायदा किया है, “क्योंकि जो कोई मांगता है, उसे मिलता है; और जो ढूंढ़ता है, वह पाता है; और जो खटखटाता है, उसके लिये खोला जाएगा” (पद 10)।

      ओस्वौल्ड चैम्बर्स का, 15 नवम्बर 1917 को अचानक ही, उनके अपेंडिक्स के फट जाने के कारण देहांत हो गया। उनके आदर में, एक सैनिक ने संगमरमर के पत्थर पर बनी हुई खुली हुई बाइबल, जिसपर लूका 11:13 लिखा हुआ था, खरीदी और उनकी कब्र के निकट रख दी।

      तो स्‍वर्गीय पिता अपने मांगने वालों को पवित्र आत्मा क्यों न देगा” परमेश्वर की हमारे साथ लगातार बनी रहने वाली उपस्थिति का यह उपहार, उसके प्रत्येक विश्वासी के लिए मुफ्त और सहजता से उपलब्ध है। - डेविड मैक्कैस्लैंड

परमेश्वर द्वारा हमें प्रदान किया गया पवित्र आत्मा का उपहार, 
उसके वरदानों सहित सभी मसीही विश्वासियों के लिए उपलब्ध है।

और उसी में तुम पर भी जब तुम ने सत्य का वचन सुना, जो तुम्हारे उद्धार का सुसमाचार है, और जिस पर तुम ने विश्वास किया, प्रतिज्ञा किए हुए पवित्र आत्मा की छाप लगी। - इफिसियों 1:13

बाइबल पाठ: लूका 11:5 – 13
Luke 11:5 और उसने उन से कहा, तुम में से कौन है कि उसका एक मित्र हो, और वह आधी रात को उसके पास आकर उस से कहे, कि हे मित्र; मुझे तीन रोटियां दे।
Luke 11:6 क्योंकि एक यात्री मित्र मेरे पास आया है, और उसके आगे रखने के लिये मेरे पास कुछ नहीं है।
Luke 11:7 और वह भीतर से उत्तर दे, कि मुझे दुख न दे; अब तो द्वार बन्‍द है, और मेरे बालक मेरे पास बिछौने पर हैं, इसलिये मैं उठ कर तुझे दे नहीं सकता
Luke 11:8 मैं तुम से कहता हूं, यदि उसका मित्र होने पर भी उसे उठ कर न दे, तौभी उसके लज्ज़ा छोड़कर मांगने के कारण उसे जितनी आवश्यकता हो उतनी उठ कर देगा।
Luke 11:9 और मैं तुम से कहता हूं; कि मांगो, तो तुम्हें दिया जाएगा; ढूंढ़ों तो तुम पाओगे; खटखटाओ, तो तुम्हारे लिये खोला जाएगा।
Luke 11:10 क्योंकि जो कोई मांगता है, उसे मिलता है; और जो ढूंढ़ता है, वह पाता है; और जो खटखटाता है, उसके लिये खोला जाएगा।
Luke 11:11 तुम में से ऐसा कौन पिता होगा, कि जब उसका पुत्र रोटी मांगे, तो उसे पत्थर दे: या मछली मांगे, तो मछली के बदले उसे सांप दे?
Luke 11:12 या अण्‍डा मांगे तो उसे बिच्‍छू दे?
Luke 11:13 सो जब तुम बुरे हो कर अपने लड़के-बालों को अच्छी वस्‍तुएं देना जानते हो, तो स्‍वर्गीय पिता अपने मांगने वालों को पवित्र आत्मा क्यों न देगा।

एक साल में बाइबल: 
  • यहेजकेल 1-2
  • इब्रानियों 11:1-19