बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, February 10, 2018

सर्वप्रथम


   मेरे मित्र के बेटे ने एक दिन अपने स्कूल की पोषाक के ऊपर एक स्पोर्ट्स कमीज़ पहन ली। वह अपनी मनपसंद टीम के लिए, जो उस संध्या एक महत्वपूर्ण खेल खेलने जा रही थी, अपना समर्थन दिखाना चाह रहा था। घर से बाहर निकलने से पहले उस स्पोर्ट्स कमीज़ के ऊपर उसने कुछ और डाल लिया – एक चेन जिसमें लगी लटकन पर लिखा था ‘यीशु’। उसके इस साधारण से कार्य ने एक महत्वपूर्ण और गहरे सत्य को प्रकट किया: हमारे जीवन की प्रत्येक बात में, प्रभु यीशु ही सर्वप्रथम, सर्वोच्च स्थान के हकदार हैं।

   परमेश्वर का वचन बाइबल हमें बताती है कि प्रभु यीशु ही “सब वस्‍तुओं में प्रथम है” (कुलुस्सियों 1:17)। प्रभु यीशु समस्त सृष्टि में सर्वोच्च हैं (पद 15-16); और “वही देह, अर्थात कलीसिया का सिर हैं” (पद 18)। इस बात के कारण उन्हें सब बातों में पहला स्थान मिलना चाहिए।

   जब अपने जीवन की प्रत्येक बात में हम प्रभु यीशु को आदर का सर्वोच्च स्थान देते हैं, तो उसका सत्य हमारे आस-पास के लोगों पर प्रकट हो जाता है। हमें विचार करना चाहिए कि, अपने कार्यस्थल में क्या हम सर्वप्रथम परमेश्वर के लिए कार्य कर रहे हैं या केवल अपने अधिकारी को प्रसन्न करने के लिए? (3:23); औरों के साथ हमारे व्यवहार में हम परमेश्वर के मानकों को कैसे प्रकट करते हैं? (12-14)। क्या अपने जीवन-यापन, अपनी दिनचर्या, अपनी मनपसंद गतिविधियों में हम उसे सर्वप्रथम स्थान देते हैं?

   जब हमारे जीवनों पर प्रभाव डालने वाले सबसे महत्वपूर्ण प्रभु यीशु होंगे, तो हमारे ह्रदयों में उनका सही स्थान – सर्वप्रथम, भी हो जाएगा। - जेनिफर बेन्सन शुल्ट


प्रभु यीशु को अपने जीवन की हर बात में सर्वप्रथम रखिए।

प्रभु परमेश्वर वह जो है, और जो था, और जो आने वाला है; जो सर्वशक्तिमान है: यह कहता है, कि मैं ही अल्फा और ओमेगा हूं। - प्रकाशितवाक्य 1:8

बाइबल पाठ: कुलुस्सियों 1:12-20
Colossians 1:12 और पिता का धन्यवाद करते रहो, जिसने हमें इस योग्य बनाया कि ज्योति में पवित्र लोगों के साथ मीरास में समभागी हों।
Colossians 1:13 उसी ने हमें अन्धकार के वश से छुड़ाकर अपने प्रिय पुत्र के राज्य में प्रवेश कराया।
Colossians 1:14 जिस में हमें छुटकारा अर्थात पापों की क्षमा प्राप्त होती है।
Colossians 1:15 वह तो अदृश्य परमेश्वर का प्रतिरूप और सारी सृष्‍टि में पहिलौठा है।
Colossians 1:16 क्योंकि उसी में सारी वस्‍तुओं की सृष्‍टि हुई, स्वर्ग की हो अथवा पृथ्वी की, देखी या अनदेखी, क्या सिंहासन, क्या प्रभुताएं, क्या प्रधानताएं, क्या अधिकार, सारी वस्तुएं उसी के द्वारा और उसी के लिये सृजी गई हैं।