बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, July 2, 2014

नया दिन


   हाल ही में एक प्रातः कालीन सभा में, सभा के संचालक ने इस प्रार्थना के साथ सभा का आरंभ किया: "प्रभु आज के लिए हम आपका धन्यवाद करते हैं। यह एक नए दिन का आरंभ है जो हमने पहले कभी नहीं देखा है।" हालाँकि यह बात बिलकुल प्रकट है, फिर भी इस प्रार्थना ने मेरे मन में कुछ विचार जगाए:

   पहली बात, क्योंकि प्रत्येक दिन एक नया अवसर है, वह ऐसी बातों से भरा होगा जिनके बारे में हम ना तो जानते हैं और ना ही जिनके लिए कोई तैयारी कर के रख सकते हैं। इसलिए यह अनिवार्य है कि हम अपनी सीमाओं को पहचानें और दिन का योग्य रीति से उपयोग करने के लिए स्वेच्छापूर्वक परमेश्वर पर ही पूर्णतया निर्भर रहें, उस दिन को अपनी इच्छाओं या योग्यताओं पर नहीं वरन परमेश्वर के अनुग्रह और सामर्थ पर भरोसा रखते हुए व्यतीत करें।

   दूसरी बात जो मेरे ध्यान में आई, हर एक नया दिन हमें प्रदान किया गया एक अनमोल उपहार है जिसके लिए हमें आनन्दित रहना चाहिए। संभवतः इसी विचार के अन्तर्गत भजनकार ने लिखा: "आज वह दिन है जो यहोवा ने बनाया है; हम इस में मगन और आनन्दित हों" (भजन 118:24)।

   अवश्य है कि हम हर दिन में अनेक अनजानी बातों का सामना करते हैं, जिनमें कई बहुत कठिन भी हो सकती हैं। लेकिन हर नए दिन का खज़ाना इतना बहुमूल्य है कि मूसा ने इस विषय पर लिखा: "हम को अपने दिन गिनने की समझ दे कि हम बुद्धिमान हो जाएं" (भजन 90:12)।

   क्योंकि हर नया दिन हमें परमेश्वर की ओर से मिला अनमोल उपहार है; इसलिए हम प्रत्येक दिन को धन्यवादी होकर स्वीकार करें, नम्रता के साथ परमेश्वर पर भरोसा रखते हुए उसका उपयोग करें तथा उससे आनन्दित हों। - बिल क्राउडर


हर नया दिन हमें परमेश्वर का धन्यवाद करने के अवसर प्रदान करता है।

फिर उसने उन से कहा, कि जा कर चिकना चिकना भोजन करो और मीठा मीठा रस पियो, और जिनके लिये कुछ तैयार नहीं हुआ उनके पास बैना भेजो; क्योंकि आज का दिन हमारे प्रभु के लिये पवित्र है; और उदास मत रहो, क्योंकि यहोवा का आनन्द तुम्हारा दृढ़ गढ़ है। - नहेम्याह 8:10

बाइबल पाठ: भजन 118:19-29
Psalms 118:19 मेरे लिये धर्म के द्वार खोलो, मैं उन से प्रवेश कर के याह का धन्यवाद करूंगा।
Psalms 118:20 यहोवा का द्वार यही है, इस से धर्मी प्रवेश करने पाएंगे।
Psalms 118:21 हे यहोवा मैं तेरा धन्यवाद करूंगा, क्योंकि तू ने मेरी सुन ली है और मेरा उद्धार ठहर गया है। 
Psalms 118:22 राजमिस्त्रियों ने जिस पत्थर को निकम्मा ठहराया था वही कोने का सिरा हो गया है। 
Psalms 118:23 यह तो यहोवा की ओर से हुआ है, यह हमारी दृष्टि में अद्भुत है। 
Psalms 118:24 आज वह दिन है जो यहोवा ने बनाया है; हम इस में मगन और आनन्दित हों। 
Psalms 118:25 हे यहोवा, बिनती सुन, उद्धार कर! हे यहोवा, बिनती सुन, सफलता दे! 
Psalms 118:26 धन्य है वह जो यहोवा के नाम से आता है! हम ने तुम को यहोवा के घर से आशीर्वाद दिया है। 
Psalms 118:27 यहोवा ईश्वर है, और उसने हम को प्रकाश दिया है। यज्ञपशु को वेदी के सींगों से रस्सियों बान्धो! 
Psalms 118:28 हे यहोवा, तू मेरा ईश्वर है, मैं तेरा धन्यवाद करूंगा; तू मेरा परमेश्वर है, मैं तुझ को सराहूंगा।
Psalms 118:29 यहोवा का धन्यवाद करो, क्योंकि वह भला है; और उसकी करूणा सदा बनी रहेगी!

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 115-118