बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, November 23, 2016

क्षमा


   दूसरे विश्वयुद्ध के दौरान, नेदेरलैन्डस में रहने वाला कोरी टेन बूम का परिवार घड़ियाँ बनाने का कार्य करता था, और वे यहूदी परिवारों को नाट्ज़ी आताताईयों से बचाने में सक्रीय भूमिका निभा रहे थे। यहूदियों के लिए उनकी इस सहायता के कारण अन्ततः उन सब को कैद करके नज़रबन्दी-शिविर में डाल दिया गया, जहाँ 10 दिन बाद कोरी के पिता का देहान्त हो गया। कोरी कि बहन बेट्सी का भी उसी शिविर में देहांत हुआ। जब बेट्सी और कोरी शिविर में साथ थे, तो बेट्सी के मसीही विश्वास ने कोरी के मसीही विश्वास को और दृढ़ किया।

   कोरी के इसी विश्वास ने उसे योग्य किया कि वह उन निर्मम आताताई शिविर के पहरेदारों को क्षमा कर सके। जबकि उन शिविरों के बन्द होने के बाद उन सताने वालों के प्रति नफरत और बदले की भावना अनेकों जीवनों को बरबाद कर रही थी, कोरी ने सत्य को पहचाना: नफरत उसे ही अधिक हानि पहुँचाती है जो नफरत अपने अन्दर पलने देता है, चाहे उस नफरत का कारण कितना ही जायज़ क्यों ना हो।

   कोरी के समान, हम में से प्रत्येक के पास यह अवसर होता है कि अपने बैरियों तथा शत्रुओं को क्षमा करें, उनसे प्रेम करें। क्षमा करना उस अपराध का ना तो इन्कार करता है और ना ही उसे सही होने का बहाना देता है, परन्तु जब हम क्षमा करते हैं तो हम संसार के सामने अपने प्रभु परमेश्वर और उस में हमारे विश्वास को व्यावाहरिक रूप में दिखाते हैं; क्योंकि हमारे प्रभु ने हम से कहा है: "और एक दूसरे पर कृपाल, और करूणामय हो, और जैसे परमेश्वर ने मसीह में तुम्हारे अपराध क्षमा किए, वैसे ही तुम भी एक दूसरे के अपराध क्षमा करो" (इफिसियों 4:32)।

   यदि आप उसे अपने जीवन में यह करने दें तो परमेश्वर आपकी सहायता करेगा कि प्रत्येक क्रोधपूर्ण दुर्भावना आपके जीवन से दूर हो जाए तथा उसके पवित्रात्मा का गहरा कार्य आपके जीवन को संवार एवं सुधार दे, जिससे आप में होकर हमारा तथा समस्त जगत का उद्धाकर्ता मसीह यीशु दूसरों को व्यावाहरिक रूप में दिखाई दे। - रैंडी किलगोर


जब हम किसी को क्षमा करते हैं तब उस समय हम अपने जीवन के 
किसी भी अन्य पल की अपेक्षा मसीह यीशु की समानता में अधिक होते हैं।

परन्तु मैं तुम से यह कहता हूं, कि अपने बैरियों से प्रेम रखो और अपने सताने वालों के लिये प्रार्थना करो। जिस से तुम अपने स्‍वर्गीय पिता की सन्तान ठहरोगे क्योंकि वह भलों और बुरों दोनों पर अपना सूर्य उदय करता है, और धर्मियों और अधर्मियों दोनों पर मेंह बरसाता है। - मत्ती 5:44-45

बाइबल पाठ: कुलुस्सियों 3:12-17
Colossians 3:12 इसलिये परमेश्वर के चुने हुओं की नाईं जो पवित्र और प्रिय हैं, बड़ी करूणा, और भलाई, और दीनता, और नम्रता, और सहनशीलता धारण करो। 
Colossians 3:13 और यदि किसी को किसी पर दोष देने को कोई कारण हो, तो एक दूसरे की सह लो, और एक दूसरे के अपराध क्षमा करो: जैसे प्रभु ने तुम्हारे अपराध क्षमा किए, वैसे ही तुम भी करो। 
Colossians 3:14 और इन सब के ऊपर प्रेम को जो सिद्धता का कटिबन्‍ध है बान्‍ध लो। 
Colossians 3:15 और मसीह की शान्‍ति जिस के लिये तुम एक देह हो कर बुलाए भी गए हो, तुम्हारे हृदय में राज्य करे, और तुम धन्यवादी बने रहो। 
Colossians 3:16 मसीह के वचन को अपने हृदय में अधिकाई से बसने दो; और सिद्ध ज्ञान सहित एक दूसरे को सिखाओ, और चिताओ, और अपने अपने मन में अनुग्रह के साथ परमेश्वर के लिये भजन और स्‍तुतिगान और आत्मिक गीत गाओ। 
Colossians 3:17 और वचन से या काम से जो कुछ भी करो सब प्रभु यीशु के नाम से करो, और उसके द्वारा परमेश्वर पिता का धन्यवाद करो।

एक साल में बाइबल: 
  • यहेजेकल 20-21
  • याकूब 5