बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Thursday, September 7, 2017

आशा


   अमेरिका के सेनेटर (सांसद) रॉबर्ट केनेडी ने सन 1966 में दक्षिणी अफ्रीका का, जो उस समय रंग-भेद नीति का पालन करता था, एक प्रभावी दौरा किया। वहाँ उन्होंने रंग-भेद के विरुद्ध संघर्ष करने वालों के लिए, केप टाउन विश्वविद्यालय में दिए गए भाषण में, आशा के शब्द कहे जो "Ripple of Hope" (आशा की तरंगें) के नाम से विख्यात है। अपने भाषण में केनेडी ने कहा, "जब भी कोई व्यक्ति किसी आदर्ष के लिए खड़ा होता है, या औरों की स्थिति सुधारने के लिए कार्य करता है, या अन्याय के विरुध्द प्रहार करता है, तो वह आशा की एक छोटी सी तरंग भेजता है, और लाखों अन्य ऊर्जा और निर्भीक्ता के स्त्रोतों से आने वाली ये तरंगें एक साथ मिलकर एक ऐसी ताकतवर लहर बन जाती हैं जो शोषण और विरोध की मज़बूत से मज़बूत दीवारों को भी ध्वस्त कर देती हैं।"

   इस संसार में आशा कभी-कभी दुर्लभ लगती है। परन्तु परमेश्वर का वचन बाइबल हमें बताती है कि मसीही विश्वासी के लिए एक सर्वोच्च आशा है जो सरलता से सदैव उपलब्ध रहती है। प्रेरित पतरस ने अपनी पत्री में लिखा, "हमारे प्रभु यीशु मसीह के परमेश्वर और पिता का धन्यवाद दो, जिसने यीशु मसीह के हुओं में से जी उठने के द्वारा, अपनी बड़ी दया से हमें जीवित आशा के लिये नया जन्म दिया" (1 पतरस 1:3)।

   प्रभु यीशु मसीह के पुनरुत्थान की निश्चितता के कारण, मसीह यीशु में विश्वास लाने वालों, अर्थात परमेश्वर की सन्तानों के पास ऐसी आशा है जो तरंग से कहीं बढ़कर है। वह तो भरोसे की एक जबर्दस्त लहर है, उसकी विश्वासयोग्यता में जिसने हमारे लिए मृत्यु पर विजय पाई है। हमारी सबसे बड़ी शत्रु, मृत्यु पर प्रभु यीशु ने जो जय पाई है वह सबसे अधिक निराश कर देने वाली स्थिति में भी आशा भर देती है। - बिल क्राउडर


मसीह यीशु में निराश लोगों को अनन्त और अटल आशा मिलती है।

इसलिये जब कि लड़के मांस और लोहू के भागी हैं, तो वह आप भी उन के समान उन का सहभागी हो गया; ताकि मृत्यु के द्वारा उसे जिसे मृत्यु पर शक्ति मिली थी, अर्थात शैतान को निकम्मा कर दे। और जितने मृत्यु के भय के मारे जीवन भर दासत्‍व में फंसे थे, उन्हें छुड़ा ले। - इब्रानियों 2:14-15

बाइबल पाठ: 1 पतरस 1:3-9
1 Peter 1:3 हमारे प्रभु यीशु मसीह के परमेश्वर और पिता का धन्यवाद दो, जिसने यीशु मसीह के मरे हुओं में से जी उठने के द्वारा, अपनी बड़ी दया से हमें जीवित आशा के लिये नया जन्म दिया। 
1 Peter 1:4 अर्थात एक अविनाशी और निर्मल, और अजर मीरास के लिये। 
1 Peter 1:5 जो तुम्हारे लिये स्वर्ग में रखी है, जिन की रक्षा परमेश्वर की सामर्थ्य से, विश्वास के द्वारा उस उद्धार के लिये, जो आने वाले समय में प्रगट होने वाली है, की जाती है। 
1 Peter 1:6 और इस कारण तुम मगन होते हो, यद्यपि अवश्य है कि अब कुछ दिन तक नाना प्रकार की परीक्षाओं के कारण उदास हो। 
1 Peter 1:7 और यह इसलिये है कि तुम्हारा परखा हुआ विश्वास, जो आग से ताए हुए नाशमान सोने से भी कहीं, अधिक बहुमूल्य है, यीशु मसीह के प्रगट होने पर प्रशंसा, और महिमा, और आदर का कारण ठहरे। 
1 Peter 1:8 उस से तुम बिन देखे प्रेम रखते हो, और अब तो उस पर बिन देखे भी विश्वास कर के ऐसे आनन्‍दित और मगन होते हो, जो वर्णन से बाहर और महिमा से भरा हुआ है। 
1 Peter 1:9 और अपने विश्वास का प्रतिफल अर्थात आत्माओं का उद्धार प्राप्त करते हो।

एक साल में बाइबल: 
  • नीतिवचन 1-2
  • 1 कुरिन्थियों 16