बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, November 9, 2019

अच्छा अन्त



      हम “अपोलो 13” फिल्म देखने गए थे; फिल्म आरंभ होने से पहले जब बत्तियाँ बन्द होने लगीं तो मेरे मित्र ने दबी आवाज़ में कहा, “दुःख की बात है, उन सबकी मृत्यु हो गई।” मैं 1970 के उस अंतरिक्ष यात्रा की फिल्म देखने लगी, उस दुर्घटना के घटित होने की प्रत्याशा में, और तब अन्त के निकट आकर ही मुझे पता चला कि मैं धोखे में थी। मैं उस घटना की सच्ची कहानी को या तो जानती नहीं थी, या भूल गई थी – उन अंतरिक्ष यात्रियों को बहुत से कठिनाइयाँ तो झेलनी पड़ीं थीं, परन्तु वे जीवित वापस घर लौट आए थे।

      मसीह यीशु में, हम भी कहानी के अन्त को जानते हैं – हम भी जीवित घर पहुँच जाएँगे। यह कहने से मेरा तात्पर्य है कि हम सभी मसीही विश्वासी अपने स्वर्गीय परेम्श्वर पिता के साथ अनन्तकाल तक रहेंगे, जैसा कि हम परमेश्वर के वचन बाइबल की अंतिम पुस्तक प्रकाशितवाक्य में देखते हैं। परमेश्वर सब कुछ नया कर देगा, एक नए आकाश और नई पृथ्वी की रचना करेगा (21:1, 5)। उस नए नगर में परमेश्वर अपने साथ अपने लोगों को रहने के लिए स्वागत करेगा, और वहाँ हम उसके साथ बिना किसी भय, बिना रात्रि के आए सदा काल तक रहेंगे। इस कहानी का अन्त जानने के कारण हम आशा से भर जाते हैं।

      इससे क्या फर्क पड़ता है? इससे अत्यंत दुःख या कठिनाई के समय में, जैसे कि जब कोई किसी प्रिय जन की मृत्यु का, या अपनी ही मृत्यु का सामना कर रहा हो, तो यह अनन्त आशा दृष्टिकोण को परिवर्तित कर सकती है। यद्यपि मृत्यु का विचार हमें घबराता है, परन्तु साथ ही अनन्त आनन्द को प्राप्त करने की प्रतिज्ञा शांतिदायक होती है। हम उस नगर की बाट जोह रहे हैं जहाँ कोई श्राप नहीं होगा, जहाँ हम परमेश्वर की ज्योति में सदा निवास करेंगे (22:5); यह अन्त अच्छा है। - एमी बाउचर पाई

परमेश्वर ने अपने लोगों के लिए कहानी का अच्छा अन्त रखा है।

और वह उन की आंखों से सब आंसू पोंछ डालेगा; और इस के बाद मृत्यु न रहेगी, और न शोक, न विलाप, न पीड़ा रहेगी; पहिली बातें जाती रहीं। - प्रकाशितवाक्य 21:4

बाइबल पाठ: प्रकाशितवाक्य 22:1-5
Revelation 22:1 फिर उसने मुझे बिल्लौर की सी झलकती हुई, जीवन के जल की एक नदी दिखाई, जो परमेश्वर और मेंम्ने के सिंहासन से निकल कर उस नगर की सड़क के बीचों बीच बहती थी।
Revelation 22:2 और नदी के इस पार; और उस पार, जीवन का पेड़ था: उस में बारह प्रकार के फल लगते थे, और वह हर महीने फलता था; और उस पेड़ के पत्तों से जाति जाति के लोग चंगे होते थे।
Revelation 22:3 और फिर श्राप न होगा और परमेश्वर और मेम्ने का सिंहासन उस नगर में होगा, और उसके दास उस की सेवा करेंगे।
Revelation 22:4 और उसका मुंह देखेंगे, और उसका नाम उन के माथों पर लिखा हुआ होगा।
Revelation 22:5 और फिर रात न होगी, और उन्हें दीपक और सूर्य के उजियाले का प्रयोजन न होगा, क्योंकि प्रभु परमेश्वर उन्हें उजियाला देगा: और वे युगानुयुग राज्य करेंगे।

एक साल में बाइबल: 
  • यिर्मयाह 46-47
  • इब्रानियों 6