बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, January 14, 2020

जानना और प्रेम



      मसीही आराधना के सबसे प्रचलित गीतों, विशेषकर बच्चों के लिए, में से एक है “Jesus loves me this I know, for the Bible tells me so” (“यीशु मुझ से प्यार करता, यह मैं जानता हूँ, क्योंकि बाइबल मुझे बताती है”)। इस गीत को एन्ना बी. वार्नर ने लगभग 200 वर्ष पहले लिखा था, और इस गीत के बोल बड़ी कोमलता से प्रभु के साथ हमारे संबंध को बताते हैं।

      किसी ने मेरी पत्नी को एक पट्टिका भेंट में दी, जिसमें इस गीत के शब्दों को आगे-पीछे करके उन्हें एक नया अर्थ दिया गया है। उस पट्टिका पर लिखा है, “यीशु मुझे जानता है, और मैं इस से प्यार करता हूँ।” यह प्रभु के साथ हमारे संबंध को एक बिलकुल नया दृष्टिकोण प्रदान करता है – वह हमें जानता है!

      प्राचीन इस्राएल में एक सच्चे चरवाहे और भाड़े के मज़दूर में फर्क उनके भेड़ों को जानने से प्रकट हो जाता था; भेड़ों को जानने वाला और उनसे प्रेम करने वाला ही सच्चा चरवाहा होता था। सच्चा चरवाहा भेड़ों के साथ इतना समय बिताता था कि वह अपनी भेड़ों के बारे में बहुत कुछ जानकारी रखता था और उनकी बहुत दिल से देखभाल करता था। इसी लिए हम परमेश्वर के वचन बाइबल में देखते हैं कि प्रभु यीशु मसीह ने अपने विषय कहा, “अच्छा चरवाहा मैं हूं; जिस तरह पिता मुझे जानता है, और मैं पिता को जानता हूं...मेरी भेड़ें मेरा शब्द सुनती हैं, और मैं उन्हें जानता हूं, और वे मेरे पीछे पीछे चलती हैं” (यूहन्ना 10:14, )।

      हमारा प्रभु हमें जानता है और हम से बहुत प्रेम करता है! हमारे प्रति प्रभु के उद्देश्यों पर हम पूर्णतः भरोसा रख सकते हैं और हमारे लिए उसकी देखभाल को लेकर निश्चिन्त रह सकते हैं क्योंकि परमेश्वर पिता का आश्वासन है कि “...क्योंकि तुम्हारा पिता तुम्हारे मांगने से पहिले ही जानता है, कि तुम्हारी क्या क्या आवश्यक्ता है” (मत्ती 6:8)। जब आप आज जीवन के उतार-चढ़ाव का सामना करें, तो शांत तथा आश्वस्त रहें, आपका सच्चा चरवाहा आपको जानता है और आपसे प्रेम रखता है। - बिल क्राउडर

कितनी अद्भुत बात है – प्रभु यीशु मुझ से प्रेम करता है!

यहोवा ने मुझे दूर से दर्शन देकर कहा है। मैं तुझ से सदा प्रेम रखता आया हूँ; इस कारण मैं ने तुझ पर अपनी करुणा बनाए रखी है। - यिर्मयाह 31:3

बाइबल पाठ: यूहन्ना 10:7-16
John 10:7 तब यीशु ने उन से फिर कहा, मैं तुम से सच सच कहता हूं, कि भेड़ों का द्वार मैं हूं।
John 10:8 जितने मुझ से पहिले आए; वे सब चोर और डाकू हैं परन्तु भेड़ों ने उन की न सुनी।
John 10:9 द्वार मैं हूं: यदि कोई मेरे द्वारा भीतर प्रवेश करे तो उद्धार पाएगा और भीतर बाहर आया जाया करेगा और चारा पाएगा।
John 10:10 चोर किसी और काम के लिये नहीं परन्तु केवल चोरी करने और घात करने और नष्‍ट करने को आता है। मैं इसलिये आया कि वे जीवन पाएं, और बहुतायत से पाएं।
John 10:11 अच्छा चरवाहा मैं हूं; अच्छा चरवाहा भेड़ों के लिये अपना प्राण देता है।
John 10:12 मजदूर जो न चरवाहा है, और न भेड़ों का मालिक है, भेड़िए को आते हुए देख, भेड़ों को छोड़कर भाग जाता है, और भेड़िय़ा उन्हें पकड़ता और तित्तर बित्तर कर देता है।
John 10:13 वह इसलिये भाग जाता है कि वह मजदूर है, और उसको भेड़ों की चिन्‍ता नहीं।
John 10:14 अच्छा चरवाहा मैं हूं; जिस तरह पिता मुझे जानता है, और मैं पिता को जानता हूं।
John 10:15 इसी तरह मैं अपनी भेड़ों को जानता हूं, और मेरी भेड़ें मुझे जानती हैं, और मैं भेड़ों के लिये अपना प्राण देता हूं।
John 10:16 और मेरी और भी भेड़ें हैं, जो इस भेड़शाला की नहीं; मुझे उन का भी लाना अवश्य है, वे मेरा शब्द सुनेंगी; तब एक ही झुण्ड और एक ही चरवाहा होगा।

एक साल में बाइबल: 
  • उत्पत्ति 33-35
  • मत्ती 10:1-20