बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, June 2, 2014

बोझ


   डोलोरेस बड़ी सतर्कता से सड़क पर गाड़ी चला रही थी। उसका ध्यान पीछे आ रही एक और कार पर गया जो उसके बहुत निकट चल रही थी। डोलोरेस के सावधानी और धीमी गति से चलने और मोड़ काटने से होने वाली उस दूसरी गाड़ी के चालक की खिसियाहट और बेसब्री को वह अनुभव करने पा रही थी जो उसके आगे अपनी कार निकाल नहीं पा रहा था, और उस मार्ग पर डोलोरेस की सी गति पर चलने को मजबूर था। उस दूसरी गाड़ी के चालक को यह पता नहीं था कि डोलोरेस का इस प्रकार धीमी गति से चलने का कारण था 200 से अधिक लोगों के लिए तैयार करी गई भोजन सामग्री; जिसे वह उन प्रतीक्षा कर रहे लोगों को भोजन कराने के लिए लेकर जा रही थी, और उसे ध्यान रखना था कि वह भोजन वस्तुएं ना गिरें और ना छलकें। चलते चलते डोलोरेस के मन में विचार आया, यदि वह दूसरा कार चालक जानता कि मैं क्या लेकर जा रही हूँ और वह सब कितना नाज़ुक है, तो वह मेरे धीरे चलने को समझ पाता और इस तरह से खिसियता नहीं।

   लेकिन साथ ही डोलोरेस के मन में यह भी विचार आया, मैं स्वयं ही कितनी ही बार लोगों पर इसी प्रकार खिसियाती रहती हूँ, यह जाने बिना कि वे कौन सा नाज़ुक बोझ अपने जीवन में लिए चल रहे हैं, जिसके प्रभाव से वो वैसा नहीं कर पा रहे जैसा मैं चाहती हूँ कि वे करें।

   हमारे लिए कितना सरल होता है दूसरों पर ऊँगुली उठा देना, इस भ्रम में कि हम उनकी परिस्थिति के बारे में सब कुछ जानते हैं और हमारी सभी जानकारी सही है, वास्तविक है। लेकिन परमेश्वर का वचन बाइबल हमें एक दूसरे दिशा में देखने को कहती है - हम दूसरों के साथ नम्रता, प्रेम और धैर्य के साथ व्यवहार करें (कुलुस्सियों 3:12)। जब हम दूसरों के प्रति इस प्रकार से सहनशील और उन्हें क्षमा करने वाले होते हैं तो हम कितना अधिक प्रेम करने वाले भी हो जाते हैं (पद 13)।

   प्रभु यीशु मसीह ने कहा, "और जैसा तुम चाहते हो कि लोग तुम्हारे साथ करें, तुम भी उन के साथ वैसा ही करो" (लूका 6:31)। हमें कभी इस बात को नज़रंदाज़ नहीं करना चाहिए कि हम हमेशा ही दूसरे के बोझ के बारे में सब कुछ नहीं जानते, इसलिए उसके आलोचक नहीं वरन सहायक बनें, अगर हो सके तो उसके बोझ को बाँटने वाले बनें। - सिंडी हैस कैसपर

   
जब कभी आप दूसरे के प्रति अधीर होकर कटु होने लगें, तो एक पल को रुक कर विचार कीजिए कि परमेश्वर आपके साथ कितना धीरजवन्त और प्रेमी बना रहता है।

क्योंकि सारी व्यवस्था इस एक ही बात में पूरी हो जाती है, कि तू अपने पड़ोसी से अपने समान प्रेम रख। - गलतियों 5:14

बाइबल पाठ: कुलुस्सियों 3:12-17
Colossians 3:12 इसलिये परमेश्वर के चुने हुओं की नाईं जो पवित्र और प्रिय हैं, बड़ी करूणा, और भलाई, और दीनता, और नम्रता, और सहनशीलता धारण करो। 
Colossians 3:13 और यदि किसी को किसी पर दोष देने को कोई कारण हो, तो एक दूसरे की सह लो, और एक दूसरे के अपराध क्षमा करो: जैसे प्रभु ने तुम्हारे अपराध क्षमा किए, वैसे ही तुम भी करो। 
Colossians 3:14 और इन सब के ऊपर प्रेम को जो सिद्धता का कटिबन्‍ध है बान्‍ध लो। 
Colossians 3:15 और मसीह की शान्‍ति जिस के लिये तुम एक देह हो कर बुलाए भी गए हो, तुम्हारे हृदय में राज्य करे, और तुम धन्यवादी बने रहो। 
Colossians 3:16 मसीह के वचन को अपने हृदय में अधिकाई से बसने दो; और सिद्ध ज्ञान सहित एक दूसरे को सिखाओ, और चिताओ, और अपने अपने मन में अनुग्रह के साथ परमेश्वर के लिये भजन और स्‍तुतिगान और आत्मिक गीत गाओ। 
Colossians 3:17 और वचन से या काम से जो कुछ भी करो सब प्रभु यीशु के नाम से करो, और उसके द्वारा परमेश्वर पिता का धन्यवाद करो।

एक साल में बाइबल: 
  • भजन 25-27