बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Sunday, July 13, 2014

चींटी


   अपनी पुस्तक, Adventures Among Ants: A Global Safari with a Cast of Trillions में लेखक मार्क मौफैट बचपन से ही चींटियों के प्रति उनके आकर्षण के बारे में बताते हैं। उनका यह आकर्षण आयु बढ़ने के साथ कम नहीं हुआ, वे चींटियों से इतना लगाव रखते थे कि इस विषय पर उन्होंने हार्वर्ड विश्वविद्यालय से डॉक्टरेट की उपाधि प्राप्त कर ली और फिर इस विषय पर एक विशेषज्ञ के रूप में सारे संसार में भ्रमण किया। इन छोटे से आकार के जन्तुओं के अध्ययन ने उन्हें इनके मेहनती जीवन के बारे में अद्भुत बातें सिखाई हैं।

   मौफैट द्वारा चींटियों के बारे में अचरज भरी बातें पता लगाने से बहुत पहले परमेश्वर के वचन बाइबल में इन जन्तुओं के कार्य कौशल के बारे में टिप्पणी करी गई है। राजा सुलेमान ने अपने नीतिवचनों में इनका उल्लेख किया है और उनसे शिक्षा लेने को कहा है कि कैसे वे योजनाबद्ध रीति से कार्य करती हैं, समय रहते कठिन समयों के लिए जुटा लेती हैं तथा स्वतः ही अनुशासन में रहकर कार्य करती रहती हैं।

   परमेश्वर ने हमें शिक्षा देने के लिए अपनी सृष्टि में विस्मित कर देने वाली बातें बना कर रखीं हैं। परमेश्वर ने अपनी बातों की शिक्षाओं को भौतिक प्रकृति में प्रदर्शित किया है, और वह चाहता है कि हम चींटी जैसी उसकी छोटी सी रचना से व्यावाहरिक जीवन और आत्मिक महत्व की बड़ी बड़ी बातें सीखें। परमेश्वर का वचन बाइबल और परमेश्वर कि सृष्टि उसके अद्भुत प्रताप की शिक्षाओं से भरे पड़े हैं; आवश्यकता है तो केवल ध्यान से उनका अध्ययन करने की, उन बातों को देखने समझने और पहचानने की। - डेनिस फिशर


परमेश्वर की रची प्रकृति पर ध्यान देने से हम बहुत से महत्वपूर्ण पाठ सीख सकते हैं।

पशुओं से तो पूछ और वे तुझे दिखाएंगे; और आकाश के पक्षियों से, और वे तुझे बता देंगे। पृथ्वी पर ध्यान दे, तब उस से तुझे शिक्षा मिलेगी; ओर समुद्र की मछलियां भी तुझ से वर्णन करेंगी। कौन इन बातों को नहीं जानता, कि यहोवा ही ने अपने हाथ से इस संसार को बनाया है। - अय्युब 12:7-9

बाइबल पाठ: नीतिवचन 6:6-11
Proverbs 6:6 हे आलसी, च्यूंटियों के पास जा; उनके काम पर ध्यान दे, और बुद्धिमान हो। 
Proverbs 6:7 उन के न तो कोई न्यायी होता है, न प्रधान, और न प्रभुता करने वाला, 
Proverbs 6:8 तौभी वे अपना आहार धूपकाल में संचय करती हैं, और कटनी के समय अपनी भोजन वस्तु बटोरती हैं। 
Proverbs 6:9 हे आलसी, तू कब तक सोता रहेगा? तेरी नींद कब टूटेगी? 
Proverbs 6:10 कुछ और सो लेना, थोड़ी सी नींद, एक और झपकी, थोड़ा और छाती पर हाथ रखे लेटे रहना, 
Proverbs 6:11 तब तेरा कंगालपन बटमार की नाईं और तेरी घटी हथियारबन्द के समान आ पड़ेगी।

एक साल में बाइबल: 
  • नीतिवचन 4-7