बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Tuesday, September 9, 2014

मुखावरण


   हमारे घर के निकट ही एक फार्म है जहाँ बहुत से घोड़े हैं। कुछ विशेष ऋतुओं में उन घोड़ों की आँखों पर एक मुखावरण पहना दिया जाता है। बहुत समय तक मुझे उन घोड़ों के लिए बुरा लगता था, कि उन्हें देखने से वंचित कर दिया जाता है। लेकिन फिर मुझे पता चला कि उस मुखावरण के बारे में मेरी वह धारणा गलत थी। वे मुखावरण जाली के बने होते हैं जिन में से घोड़ों को दिखाई देता रहता है, लेकिन वे घोड़ों की आँखों को मक्खियों से बचाने के लिए पहनाए जाते हैं जिससे उन्हें नेत्र रोग ना होने पाएं और वे घोड़े अन्धे होने से बचे रह सकें!

   जैसी धारणा मैंने घोड़ों के मुखावरण के बारे में बना ली थी कुछ वैसी ही धारणा अनेक गैर-मसीही परमेश्वर के वचन बाइबल के बारे में बनाए रखते हैं। उन्हें लगता है कि बाइबल परमेश्वर द्वारा मसीही विश्वासियों की आँखों को बन्द कर देने का एक माध्यम है जिससे वे संसार में मिलने वाले अनेकों प्रकार के सुख को देखने ना पाएं। वे मसीही विश्वासियों के लिए यह सोच कर अफसोस करते हैं कि मसीही विश्वासियों का परमेश्वर उन्हें जीवन का आनन्द लेने से वंचित करता है। जैसे मैं घोड़ों के मुखावरण के सत्य से अनजान थी वैसे ही वे लोग भी बाइबल के सत्य से अनभिज्ञ हैं।

   बाइबल की शिक्षाएं हम मसीही विश्वासियों को संसार और साँसारिकता के आनन्दों के प्रति अन्धा नहीं करतीं, वरन वे संसार की झूठी बातों से हमारी रक्षा करती हैं जिस से हम आत्मिक रीति से अन्धे ना हो जाएं। बाइबल हमें संसार और साँसारिकता को सही परिपेक्ष में दिखाती है, हमारे दायित्व और हमारे अन्त के बारे में हमें बताती है, जीवन का सही मार्ग हमें सिखाती है। बाइबल हमें जीवन का आनन्द लेने से वंचित नहीं करती, वरन वह हमें जीवन का सही आनन्द लेने का मार्गदर्शन करती है, जिससे हम इस जीवन में भी और आने वाले जीवन में भी सर्वदा आनन्दित तथा सुखी रह सकें।

   बाइबल हमारे लिए सत्य देखने में बाधा नहीं बनती, वरन झूठ पर विश्वास करने से बचाती है। - जूली ऐकैरमैन लिंक


जब हम परमेश्वर के वचन बाइबल में होकर संसार को देखते हैं तब हम दोनों की सच्चाई को देखने तथा जानने पाते हैं।

क्योंकि जो कुछ संसार में है, अर्थात शरीर की अभिलाषा, और आंखों की अभिलाषा और जीविका का घमण्‍ड, वह पिता की ओर से नहीं, परन्तु संसार ही की ओर से है। - 1यूहन्ना 2:16 

बाइबल पाठ: भजन 119:33-40
Psalms 119:33 हे यहोवा, मुझे अपनी विधियों का मार्ग दिखा दे; तब मैं उसे अन्त तक पकड़े रहूंगा। 
Psalms 119:34 मुझे समझ दे, तब मैं तेरी व्यवस्था को पकड़े रहूंगा और पूर्ण मन से उस पर चलूंगा। 
Psalms 119:35 अपनी आज्ञाओं के पथ में मुझ को चला, क्योंकि मैं उसी से प्रसन्न हूं। 
Psalms 119:36 मेरे मन को लोभ की ओर नहीं, अपनी चितौनियों ही की ओर फेर दे। 
Psalms 119:37 मेरी आंखों को व्यर्थ वस्तुओं की ओर से फेर दे; तू अपने मार्ग में मुझे जिला। 
Psalms 119:38 तेरा वचन जो तेरे भय मानने वालों के लिये है, उसको अपने दास के निमित्त भी पूरा कर। 
Psalms 119:39 जिस नामधराई से मैं डरता हूं, उसे दूर कर; क्योंकि तेरे नियम उत्तम हैं। 
Psalms 119:40 देख, मैं तेरे उपदेशों का अभिलाषी हूं; अपने धर्म के कारण मुझ को जिला।

एक साल में बाइबल: 
  • यहेजकेल 19-21