बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Wednesday, November 4, 2015

अनुकंपा


   अमेरिका के गृह युद्ध (1861-1865) में रिचर्ड कर्कलैंड सेना में सार्जेंट थे। फ्रड्रिकबर्ग के युद्ध में मेरीज़ हाईट्स नामक स्थान पर विरोधी पक्ष के अनेक घायल सैनिकों को युद्ध भूमि पर छोड़ शेष सेना पीछे हट गई थी। रिचर्ड ने उन घायल सैनिकों की सहायता के लिए अनुमति ली, खाने-पीने की वस्तुएं जमा करीं और सुरक्षा के लिए बनाई गई दीवार को लांघ कर दूसरी ओर पहुँच गया और दुश्मन की सेना के घायल सैनिकों की सेवा करने लगा। अपनी जान को जोखिम में डाल कर मेरीज़ हाईट्स का यह फरिश्ता मसीह यीशु की अपने चेलों को दी गई आज्ञा, अपने दुश्मनों से भी प्रेम करो (मत्ती 5:44) को पूरा करता रहा, प्रभु यीशु की अनुकंपा दुश्मन सैनिकों में बाँटता रहा।

   हम में से बहुत कम के पास रिचर्ड के समान दुश्मन सैनिकों के बीच अनुकंपा दिखाने का अवसर होगा, लेकिन हमारे चारों ओर ऐसे लोगों की कमी नहीं है जो दुखों, निराशाओं और परेशानियों में जीवन व्यतित कर रहे हैं; कोई अकेला रह गया है, किसी को हानि उठानी पड़ी है, कोई बीमार है; लेकिन एक व्याधि है जिसने सबको परेशान किया हुआ है - पाप का रोग और उसके दुषपरिणाम। हमारी अपनी व्यस्तताओं और अन्य बातों में लगे ध्यान के कारण शान्ति और अनुकंपा के लिए उनकी पुकार चाहे हमें सुनाई नहीं देती लेकिन वे इस प्रतीक्षा में हैं कि कोई उनके पास आए, उन्हें शान्ति दे, उनके दुख को बाँटे।

   प्रेरित पौलुस ने रोम के मसीही विश्वासियों को लिखी अपनी पत्री में, परमेश्वर के वचन की नीतिवचन 25:21-22 में कही बात को दोहराया: "परन्तु यदि तेरा बैरी भूखा हो तो उसे खाना खिला; यदि प्यासा हो, तो उसे पानी पिला; क्योंकि ऐसा करने से तू उसके सिर पर आग के अंगारों का ढेर लगाएगा" (रोमियों 12:20)। पौलुस ने उन्हें आगे समझाया, "बुराई से न हारो परन्तु भलाई से बुराई का जीत लो" (रोमियों 12:21)। पौलुस द्वारा कही गई यह बात हमें रिचर्ड कर्कलैंड का अनुकरण करने को प्रेरित करती है।
   
   आज हमारे लिए भी समय है कि हम अपनी सुरक्षा की दीवार को लांघ कर प्रभु यीशु की वह अनुकंपा दुखी लोगों के साथ बाँटें जो उसने हमारे साथ बाँटी है। - रैंडी किल्गोर


चाहे अनुराग करना हमारे वश में ना हो, अनुकंपा दिखाना सदा हमारे वश में रहता है। - सैमुएल जौनसन

यदि तेरा बैरी भूखा हो तो उसको रोटी खिलाना; और यदि वह प्यासा हो तो उसे पानी पिलाना; क्योंकि इस रीति तू उसके सिर पर अंगारे डालेगा, और यहोवा तुझे इसका फल देगा। - नीतिवचन 25:21-22

बाइबल पाठ: रोमियों 12:14-21
Romans 12:14 अपने सताने वालों को आशीष दो; आशीष दो श्राप न दो। 
Romans 12:15 आनन्द करने वालों के साथ आनन्द करो; और रोने वालों के साथ रोओ। 
Romans 12:16 आपस में एक सा मन रखो; अभिमानी न हो; परन्तु दीनों के साथ संगति रखो; अपनी दृष्टि में बुद्धिमान न हो। 
Romans 12:17 बुराई के बदले किसी से बुराई न करो; जो बातें सब लोगों के निकट भली हैं, उन की चिन्ता किया करो। 
Romans 12:18 जहां तक हो सके, तुम अपने भरसक सब मनुष्यों के साथ मेल मिलाप रखो। 
Romans 12:19 हे प्रियो अपना पलटा न लेना; परन्तु क्रोध को अवसर दो, क्योंकि लिखा है, पलटा लेना मेरा काम है, प्रभु कहता है मैं ही बदला दूंगा। 
Romans 12:20 परन्तु यदि तेरा बैरी भूखा हो तो उसे खाना खिला; यदि प्यासा हो, तो उसे पानी पिला; क्योंकि ऐसा करने से तू उसके सिर पर आग के अंगारों का ढेर लगाएगा। 
Romans 12:21 बुराई से न हारो परन्तु भलाई से बुराई का जीत लो।

एक साल में बाइबल: 
  • यिर्मयाह 32-33
  • इब्रानियों 1