बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Thursday, December 27, 2018

सादगी



      मेरे पिता का अस्पताल का कमरा उनसे मिलने आए मेहमानों के ठहाकों से गूंज उठा: दो वृद्ध ट्रक चालाक, एक भूतपूर्व लोक-गीत गायक, एक कारीगर, और पड़ौस के फ़ार्म से आई दो महिलाएँ तथा मैं, वहाँ पिताजी मिलने आए हुए थे। उस कारीगर ने अपनी कहानी को आगे बताते हुए कहा “...फिर वह उठा और बोतल को मेरे सर पर मारकर तोड़ दिया।”

      इस हास्यास्पद स्मृति को सुनकर कमरा हंसी से भर गया। पिताजी, जो कैंसर से लड़ रहे थे, ने साँस लेने के लिए संघर्ष करते हुए सब लोगों को स्मरण करवाया कि, “रैंडी अब एक मसीही प्रचारक है” उनका तात्पर्य था कि मेरी उपस्थिति में जो कहा जाए वह इस बात का ध्यान रखते हुए हो। उनके यह कहने पर दो सेकेंड के लिए तो कमरे में शान्ति रही, और मेरे विषय इस समाचार को सुनने के पश्चात कमरा फिर से और भी अधिक ऊँची आवाज़ में हंसी से भर गया।

      मिलने आए लगभग चालीस मिनिट हो चुके थे कि उस कारीगर ने अचानक ही अपना गला साफ़ करके मेरे पिता की ओर देखते हुए गंभीरता से कहा, “हॉवर्ड, मेरे लिए अब वह पीना और बार में लड़ाई करना समाप्त हो गया है। मेरे लिए वे दिन अब बीत चुके हैं। अब मेरे जीने का भिन्न कारण है, और मैं तुम्हें अपने उद्धारकर्ता के बारे में बताना चाहता हूँ।

      और फिर उसने यही किया भी, मेरे पिता के चकित करने वाले केवल हलके से विरोध के साथ। यदि सुसमाचार सुनाने का उससे मनोहर और कोमल कोई तरीका है, जैसा उन्होंने तब सुनाया, तो आज तक मैंने उस तरीके को कभी नहीं सुना है। मेरे पिताजी देखते और सुनते रहे, और कुछ वर्षों के पश्चात उन्होंने भी प्रभु यीशु में विश्वास कर लिया।

      वह एक मित्र के द्वारा, जो सादगी का जीवन जी रहा था, सादगी से दी गई जीवन की गवाही थी। उसने मुझे स्मरण करवाया कि सादगी का अर्थ भोला-भाला या मूर्ख होना नहीं है; वह स्पष्ट और आडंबर-रहित होता है। वैसे ही जैसे प्रभु यीशु मसीह थे, और उनके द्वारा सारे सँसार के लिए उप्ल्बध करवाया गया उद्धार आज भी है। - रैंडी किल्गोर


यीशु ने उन के पास आकर कहा, कि स्वर्ग और पृथ्वी का सारा अधिकार मुझे दिया गया है। इसलिये तुम जा कर सब जातियों के लोगों को चेला बनाओ और उन्हें पिता और पुत्र और पवित्रआत्मा के नाम से बपतिस्मा दो। और उन्हें सब बातें जो मैं ने तुम्हें आज्ञा दी है, मानना सिखाओ: और देखो, मैं जगत के अन्‍त तक सदैव तुम्हारे संग हूं। - मत्ती 28:19-20

बाइबल पाठ: 2 पतरस 1:12-21
2 Peter 1:12 इसलिये यद्यपि तुम ये बातें जानते हो, और जो सत्य वचन तुम्हें मिला है, उस में बने रहते हो, तौभी मैं तुम्हें इन बातों की सुधि दिलाने को सर्वदा तैयार रहूंगा।
2 Peter 1:13 और मैं यह अपने लिये उचित समझता हूं, कि जब तक मैं इस डेरे में हूं, तब तक तुम्हें सुधि दिला दिलाकर उभारता रहूं।
2 Peter 1:14 क्योंकि यह जानता हूं, कि मसीह के वचन के अनुसार मेरे डेरे के गिराए जाने का समय शीघ्र आने वाला है।
2 Peter 1:15 इसलिये मैं ऐसा यत्‍न करूंगा, कि मेरे कूच करने के बाद तुम इन सब बातों को सर्वदा स्मरण कर सको।
2 Peter 1:16 क्योंकि जब हम ने तुम्हें अपने प्रभु यीशु मसीह की सामर्थ्य का, और आगमन का समाचार दिया था तो वह चतुराई से गढ़ी हुई कहानियों का अनुकरण नहीं किया था वरन हम ने आप ही उसके प्रताप को देखा था।
2 Peter 1:17 कि उसने परमेश्वर पिता से आदर, और महिमा पाई जब उस प्रतापमय महिमा में से यह वाणी आई कि यह मेरा प्रिय पुत्र है जिस से मैं प्रसन्न हूं।
2 Peter 1:18 और जब हम उसके साथ पवित्र पहाड़ पर थे, तो स्वर्ग से यही वाणी आते सुनी।
2 Peter 1:19 और हमारे पास जो भविष्यद्वक्ताओं का वचन है, वह इस घटना से दृढ़ ठहरा है और तुम यह अच्छा करते हो, कि जो यह समझ कर उस पर ध्यान करते हो, कि वह एक दीया है, जो अन्धियारे स्थान में उस समय तक प्रकाश देता रहता है जब तक कि पौ न फटे, और भोर का तारा तुम्हारे हृदयों में न चमक उठे।
2 Peter 1:20 पर पहिले यह जान लो कि पवित्र शास्त्र की कोई भी भविष्यद्वाणी किसी के अपने ही विचारधारा के आधार पर पूर्ण नहीं होती।
2 Peter 1:21 क्योंकि कोई भी भविष्यद्वाणी मनुष्य की इच्छा से कभी नहीं हुई पर भक्त जन पवित्र आत्मा के द्वारा उभारे जा कर परमेश्वर की ओर से बोलते थे।
                                                                                                                                                        

एक साल में बाइबल: 
  • ज़कर्याह 1-4
  • प्रकाशितवाक्य 18