बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, June 1, 2019

सब कुछ


      बहुधा, जो कार्य मेरे सामने होते हैं, उन्हें करने के लिए मैं अपने आप को पूर्णतः अयोग्य पाता हूँ। वह चाहे सन्डे स्कूल में पढ़ाना हो, किसी मित्र को परामर्श देना हो, या इस पुस्तिका के लिए लिखना हो, मुझे सदा ही यह लगता है कि चुनौती मेरी क्षमता से बढ़कर है। पतरस के समान मुझे भी अभी बहुत कुछ सीखना है।

      परमेश्वर के वचन बाइबल में हम प्रभु यीशु मसीह के शिष्य पतरस के जीवन से देखते हैं कि प्रभु का अनुयायी बनकर चलने के प्रयास में उसके जीवन में बहुत सी कमियां थीं। प्रभु की अनुमति के साथ पानी पर चलने में उसका विश्वास डगमगा गया और वह डूबने लगा (मत्ती 14:25-31)। जब प्रभु यीशु मसीह को पकड़वाया गया, पतरस ने शपथ खाकर इन्कार किया कि वह प्रभु को जानता है, प्रभु के साथ रहा है (मरकुस 14:66-72)। किन्तु प्रभु यीशु मसीह के मृतकों में से पुनरुत्थान के बाद उसके साथ पतरस के साक्षात्कार तथा पवित्र आत्मा की सामर्थ्य ने पतरस के जीवन को बदल दिया।

      पतरस को समझ आ गया कि प्रभु परमेश्वर कि “उसकी ईश्वरीय सामर्थ ने सब कुछ जो जीवन और भक्ति से सम्बन्‍ध रखता है, हमें उसी की पहचान के द्वारा दिया है, जिसने हमें अपनी ही महिमा और सद्गुण के अनुसार बुलाया है” (2 पतरस 1:3)। यह एक अद्भुत कथन है, विशेषतः तब जब यह उस व्यक्ति द्वारा कहा गया है जिसके अपने जीवन में बहुत कमज़ोरियां थीं।

      प्रभु परमेश्वर ने “हमें बहुमूल्य और बहुत ही बड़ी प्रतिज्ञाएं दी हैं: ताकि इन के द्वारा तुम उस सड़ाहट से छूट कर जो संसार में बुरी अभिलाषाओं से होती है, ईश्वरीय स्‍वभाव के समभागी हो जाओ” (2 पतरस 1:4)।

      प्रभु यीशु मसीह के साथ हमारा संबंध वह स्त्रोत है जिससे हमें बुद्धिमत्ता, धैर्य, तथा वह सामर्थ्य प्राप्त होती है जिससे हम परमेश्वर की महिमा, तथा औरों की सहायता कर सकते हैं और अपने प्रतिदिन के जीवन की चुनौतियों का सामना कर सकते हैं। उस ही के द्वारा हम अपनी हिचकिचाहट और अयोग्य नोने की भावनाओं पर भी जय पा सकते हैं।

      हर परिस्तिथि में प्रभु की सेवा और महिमा करने के लिए जो कुछ हमें चाहिए, वह सब कुछ उसने हमें प्रभु यीशु में प्रदान किया है। - डेविड मैक्कैस्लैंड


परमेश्वर का वायदा है कि हमारे जीवनों से उसकी महिमा करने के लिए जो कुछ भी आवश्यक है, 
वह सब उसने हमें प्रदान कर दिया है।

और वह इस निमित्त सब के लिये मरा, कि जो जीवित हैं, वे आगे को अपने लिये न जीएं परन्तु उसके लिये जो उन के लिये मरा और फिर जी उठा। - 2 कुरिन्थियों 5:15

बाइबल पाठ: 2 पतरस 1: 1-11
2 Peter 1:1 शमौन पतरस की ओर से जो यीशु मसीह का दास और प्रेरित है, उन लोगों के नाम जिन्होंने हमारे परमेश्वर और उद्धारकर्ता यीशु मसीह की धामिर्कता से हमारा सा बहुमूल्य विश्वास प्राप्त किया है।
2 Peter 1:2 परमेश्वर के और हमारे प्रभु यीशु की पहचान के द्वारा अनुग्रह और शान्‍ति तुम में बहुतायत से बढ़ती जाए।
2 Peter 1:3 क्योंकि उसके ईश्वरीय सामर्थ ने सब कुछ जो जीवन और भक्ति से सम्बन्‍ध रखता है, हमें उसी की पहचान के द्वारा दिया है, जिसने हमें अपनी ही महिमा और सद्गुण के अनुसार बुलाया है।
2 Peter 1:4 जिन के द्वारा उसने हमें बहुमूल्य और बहुत ही बड़ी प्रतिज्ञाएं दी हैं: ताकि इन के द्वारा तुम उस सड़ाहट से छूट कर जो संसार में बुरी अभिलाषाओं से होती है, ईश्वरीय स्‍वभाव के समभागी हो जाओ।
2 Peter 1:5 और इसी कारण तुम सब प्रकार का यत्‍न कर के, अपने विश्वास पर सद्गुण, और सद्गुण पर समझ।
2 Peter 1:6 और समझ पर संयम, और संयम पर धीरज, और धीरज पर भक्ति।
2 Peter 1:7 और भक्ति पर भाईचारे की प्रीति, और भाईचारे की प्रीति पर प्रेम बढ़ाते जाओ।
2 Peter 1:8 क्योंकि यदि ये बातें तुम में वर्तमान रहें, और बढ़ती जाएं, तो तुम्हें हमारे प्रभु यीशु मसीह की पहचान में निकम्मे और निष्‍फल न होने देंगी।
2 Peter 1:9 और जिस में ये बातें नहीं, वह अन्‍धा है, और धुन्‍धला देखता है, और अपने पूर्वकाली पापों से धुल कर शुद्ध होने को भूल बैठा है।
2 Peter 1:10 इस कारण हे भाइयों, अपने बुलाए जाने, और चुन लिये जाने को सिद्ध करने का भली भांति यत्‍न करते जाओ, क्योंकि यदि ऐसा करोगे, तो कभी भी ठोकर न खाओगे।
2 Peter 1:11 वरन इस रीति से तुम हमारे प्रभु और उद्धारकर्ता यीशु मसीह के अनन्त राज्य में बड़े आदर के साथ प्रवेश करने पाओगे।

एक साल में बाइबल:  
  • 2 इतिहास 15-16
  • यूहन्ना 12:27-50