बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Saturday, September 20, 2014

प्रार्थना


   मेरा एक सच्चा अंगीकार: जब मुझे मालूम पड़ा कि अपोलो अंतरिक्ष श्रंखला की अन्तिम उड़ान में अन्तरिक्ष यात्री रेक्स वैल्हाईम अपने साथ हमारी पुस्तिका Our Daily Bread की एक प्रति लेकर जाएंगे, तो मैंने यह जानने का प्रयास किया कि उस पुस्तिका में मेरे द्वारा लिखे गए कौन से सन्देश होंगे जिन्हें वह अन्तर्रिक्ष में पढ़ेंगे। मैं तो एक छोटे से कसबे में पली-बढ़ी थी, इसलिए मुझे अपने लिए यह एक बहुत बड़ी बात प्रतीत हुई कि मेरे लिखे हुए सन्देश अन्तरिक्ष में पढ़े जाएंगे!

   लेकिन उन सन्देशों के विषय में मैंने अभी अपनी जिज्ञासा शान्त करी ही थी, कि मेरे मन में एक और विचार आया - मुझे यह इतनी बड़ी बात क्यों लग रही है कि मेरे सन्देश अन्तरिक्ष में पढ़े जाएंगे? आखिर प्रतिदिन, अनेकों बार, मेरी प्रार्थनाएं तो स्वर्गीय स्थानों तक पहुँचती ही रहती हैं! मेरे जीवन में ऐसा क्या हुआ है कि मैं इस बात को एक स्थापित तथ्य मानती हूँ कि सृष्टि का सृष्टिकर्ता परमेश्वर मेरी प्रार्थनाओं को सुनता है? मुझे परमेश्वर के वचन का आश्वासन है कि प्रभु यीशु मसीह में हो कर मैं कभी भी परमेश्वर के सम्मुख पूर्ण स्वतंत्रता और अधिकार से आ सकती हूँ (इफिसियों 3:12)। जब ऐसा है, और परमेश्वर स्वर्ग में मेरी बात को सुनता रहता है, तो मैं अपने द्वारा लिखी गई किसी बात के अन्तरिक्ष में किसी मनुष्य द्वारा पढ़े जाने को लेकर इतनी आश्चर्यचकित क्यों हूँ?

   यदि इतना ही हमें आत्मिक निद्रा से जगाने के लिए काफी नहीं है तो ज़रा इस पर विचार कीजिए: परमेश्वर अपनी मण्डली अर्थात हम मसीही विश्वासियों के समूह को प्रयोग कर रहा है ताकि आकाश के प्रधानों और शक्तियों को अपने ज्ञान और समझ से अवगत करवा सके (पद 10)। जरा कलपना कीजिए, परमेश्वर ना केवल हम मनुष्यों की प्रार्थनाओं पर ध्यान लगाता और उन्हें सुनता है, वरन वह हम में होकर आकाश की शक्तियों को प्रभु यीशु में होकर मिलने वाले उद्धार की योजना को समझाता है। भला है ना यह अचरज की बात! - जूली ऐकैरमैन लिंक


परमेश्वर अपनी सन्तान की प्रार्थना सुनने के लिए सदा उपलब्ध रहता है।

यीशु ने उस से कहा, मार्ग और सच्चाई और जीवन मैं ही हूं; बिना मेरे द्वारा कोई पिता के पास नहीं पहुंच सकता। - यूहन्ना 14:6

बाइबल पाठ: इफिसियों 3:8-13
Ephesians 3:8 मुझ पर जो सब पवित्र लोगों में से छोटे से भी छोटा हूं, यह अनुग्रह हुआ, कि मैं अन्यजातियों को मसीह के अगम्य धन का सुसमाचार सुनाऊं। 
Ephesians 3:9 और सब पर यह बात प्रकाशित करूं, कि उस भेद का प्रबन्‍ध क्या है, जो सब के सृजनहार परमेश्वर में आदि से गुप्‍त था। 
Ephesians 3:10 ताकि अब कलीसिया के द्वारा, परमेश्वर का नाना प्रकार का ज्ञान, उन प्रधानों और अधिकारियों पर, जो स्‍वर्गीय स्थानों में हैं प्रगट किया जाए। 
Ephesians 3:11 उस सनातन मनसा के अनुसार, जो उसने हमारे प्रभु मसीह यीशु में की थी। 
Ephesians 3:12 जिस में हम को उस पर विश्वास रखने से हियाव और भरोसे से निकट आने का अधिकार है। 
Ephesians 3:13 इसलिये मैं बिनती करता हूं कि जो क्‍लेश तुम्हारे लिये मुझे हो रहे हैं, उनके कारण हियाव न छोड़ो, क्योंकि उन में तुम्हारी महिमा है।

एक साल में बाइबल: 
  • दानिय्येल 4-6