बाइबल और मसीही विश्वास सम्बन्धी अपने प्रश्नों के लिए यहाँ क्लिक करें:

GotQuestions?org

Monday, September 14, 2015

इन्कार


   हवाई अड्डे में चलते हुए मेरा ध्यान भीड़ में भागते हुए एक व्यक्ति की टोपी पर लिखे वाक्य की ओर गया, जहाँ दो शब्दों में लिखा था, "सब अस्वीकारें!" मैं सोचने लगा कि इसका तात्पर्य क्या हो सकता है? क्या अपने दोष को कभी स्वीकार ना करें? जीवन के सुख-विलास का इन्कार करें? या कुछ और? मैं उन दो शब्दों के रहस्य को समझने के लिए अपना सिर खुजाने लगा।

   प्रभु यीशु के एक अनुयायी शमौन पतरस ने भी कुछ इन्कार किया था; प्रभु यीशु के पकड़वाए जाने के बाद, उसके कठिन समय में पतरस ने तीन बार इस बात का इन्कार किया कि वह उसे जानता है (लूका 22:57, 58, 60)। इससे उसे बाद में ऐसी तीव्र ग्लानि और हृदय-वेदना हुई कि वह बाहर जाकर फूट-फूटकर रोने लगा (पद 62)।

   लेकिन पतरस के उस इन्कार के कारण प्रभु यीशु का उसके प्रति प्रेम कम नहीं हुआ। वैसे ही आज हमारे द्वारा आत्मिक कमज़ोरी के क्षणों में करी गई बुराईयों और इन्कारों से हमारे प्रति प्रभु यीशु का प्रेम कम नहीं होता है। परमेश्वर के वचन बाइबल में यिर्मयाह नबी ने लिखा, "हम मिट नहीं गए; यह यहोवा की महाकरुणा का फल है, क्योंकि उसकी दया अमर है। प्रति भोर वह नई होती रहती है; तेरी सच्चाई महान है" (विलापगीत 3:22-23)।

   हम इस बात से आश्वस्त हो सकते हैं कि चाहे हम विफल हो जाएं, हमारा प्रभु परमेश्वर कभी नहीं बदलता, वह हमसे सदा उस प्रेम और करुणा के साथ व्यवहार करता है जो अनन्तकाल की है, कभी कम नहीं होती, कभी टलती नहीं। - बिल क्राउडर


हमारा सिद्ध ना होना, परमेश्वर की करुणा का हम पर बने रहने का कारण है।

यदि हम अविश्वासी भी हों तौभी वह विश्वास योग्य बना रहता है, क्योंकि वह आप अपना इन्कार नहीं कर सकता। - 2 तिमुथियुस 2:13

बाइबल पाठ: लूका 22:54-62
Luke 22:54 फिर वे उसे पकड़कर ले चले, और महायाजक के घर में लाए और पतरस दूर ही दूर उसके पीछे पीछे चलता था। 
Luke 22:55 और जब वे आंगन में आग सुलगाकर इकट्ठे बैठे, तो पतरस भी उन के बीच में बैठ गया। 
Luke 22:56 और एक लौंडी उसे आग के उजियाले में बैठे देखकर और उस की ओर ताककर कहने लगी, यह भी तो उसके साथ था। 
Luke 22:57 परन्तु उसने यह कहकर इन्कार किया, कि हे नारी, मैं उसे नहीं जानता। 
Luke 22:58 थोड़ी देर बाद किसी और ने उसे देखकर कहा, तू भी तो उन्‍हीं में से है: पतरस ने कहा; हे मनुष्य मैं नहीं हूं। 
Luke 22:59 कोई घंटे भर के बाद एक और मनुष्य दृढ़ता से कहने लगा, निश्‍चय यह भी तो उसके साथ था; क्योंकि यह गलीली है। 
Luke 22:60 पतरस ने कहा, हे मनुष्य, मैं नहीं जानता कि तू क्या कहता है! वह कह ही रहा था कि तुरन्त मुर्ग ने बांग दी। 
Luke 22:61 तब प्रभु ने घूमकर पतरस की ओर देखा, और पतरस को प्रभु की वह बात याद आई जो उसने कही थी, कि आज मुर्ग के बांग देने से पहिले, तू तीन बार मेरा इन्कार करेगा। 
Luke 22:62 और वह बाहर निकलकर फूट फूट कर रोने लगा।

एक साल में बाइबल: नीतिवचन 19-21; 2 कुरिन्थियों 7